इटौजा मे अंडा उत्पादको का अनिश्चितकालीन धरना

इटौजा मे अंडा उत्पादको का अनिश्चितकालीन धरना शुरु।

लागत से कम मूल्य पर बिक रहा हैअंडा -वीपी सिंह

असहनीय घाटे के कारण आंदोलित होने पर मजबुर-उमैर अब्बासी 

लखनऊ । कुक्कुट विकास समिति उत्तर प्रदेश के द्वारा लखनऊ सीतापुर हाईवे इटौंजा के पास उत्तर प्रदेश के अंडा उत्पादक किसानों द्वारा विशाल अनिश्चितकालीन धरना प्रारंभ किया गया । कुक्कुट विकास समिति उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष वी पी सिंह ने बताया कि कि प्रदेश एवं पूरे भारतवर्ष के अंडा उत्पादक किसान अंडे के लागत मूल्य से बराबर नीचे रेट रहने से होने वाले असहनीय घाटे के कारण आंदोलित  हैं।

 वी पी सिंह ने बताया कि अंडे का रेट नेशनल  एग कॉर्डिनेशन कमेटी (एन ई सी सी) द्वारा पूरे भारत में राज्य वार व जोन वार निकाला जाता है । एन ई सी सी कोई सरकारी संस्था नहीं है बल्कि एक प्राइवेट संस्था है जिसके पास अंडे का रेट निर्धारित करने का कोई संवैधानिक अधिकार नहीं है ।समिति सचिव मोहम्मद नाजिम ने बताया कि वेंकीज ग्रुप जो चिक्स, पोल्ट्री की दवाइयां , वैक्सीन एवं फीड  बनाती है , के द्वारा  यह संस्था बनाई गई है ।

एन ई सी सी अंडा व्यापारियों के साथ मिलकर अंडे का रेट गिराकर किसानों से खरीद कर कोल्ड स्टोरेज में रखती है एवं कुछ दिन बाद अंडे का रेट बढ़कर मार्केट में बेच दिया जाता है । बढ़ा रेट केवल कुछ दिन रहता है फिर वही रेट नीचे कर खरीदने एवं बढ़ाकर बेचने का दुष्चक्र चलता रहता है ।इस प्रकार किसानों की पूरी पूंजी समाप्त हो रही है एवं उनका परिवार भुखमरी का शिकार हो रहा है। किसानों के बैंक खाते एन पी ए हो रहे हैं ।समिति द्वारा आयोजित अनिश्चित कालीन धरने में राजस्थान ,बिहार एवं हरियाणा के किसान भी बढ़ चढ़कर भागीदारी कर रहे हैं ।

धरना स्थल पर किसानों को संबोधित करते हुए समस्त वक्ताओं ने एक स्वर से वेंकीज ग्रुप के समस्त उत्पादों का बहिष्कार करने एवं तत्काल प्रभाव से एन ई सी सी को भंग करने की मांग की।प्रदेश सरकार एवम केंद्र सरकार से इसमें हस्तक्षेप कर समस्या का समाधान करने एवं अंडे का मूल्य निर्धारित करने की एक संस्था बनाने की मांग की । मुख्य वक्ताओं आदि ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि  अंडा उत्पादक किसानो की समस्त समस्याओं का समाधान होने तक धरना अनिश्चितकालीन जारी रहेगा।