हिन्दुओं को सनातन धर्म की शिक्षा देना जरूरी 

हिन्दुओं को सनातन धर्म की शिक्षा देना जरूरी,सनातन धर्म जागरण यात्रा पहुँची लखनऊ, हिन्दू महासभा के प्रदेश कार्यालय में हुआ स्वागत।  

लखनऊ। महामंडलेश्वर यति नरसिंहानन्द गिरि का संदेश लेकर ही संत जागृति यात्रा हरिद्वार के सर्वानंद घाट से प्रारंभ हुई सनातन धर्म जागरण यात्रा नैमिषारण्य तीर्थ से आज शहर पहुँची। शहर के विभिन्न क्षेत्रों से होते हुए कुर्सी रोड स्थित अखिल भारत हिन्दू महासभा उत्तर प्रदेश के कार्यालय में अपराह्न तीन बजे पहुँची यात्रा का प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने स्वागत किया। इस दौरान श्री सदगुरु कबीर जागू आश्रम के महंत योगेंद्र दास साहेब, ज्ञानेंद्र दास जी, हिन्दू महासभा के संत सभा के प्रदेश अध्यक्ष बाबा महादेव, हिंदू महासभा के प्रदेश महामंत्री सिद्धार्थ दुबे, प्रदेश उपाध्यक्ष बृजेश शुक्ला, जिला कार्यालय मंत्री प्रमोद त्रिवेदी, प्रदेश उपाध्यक्ष हरिओम मिश्रा सहित कई प्रमुख लोग मौजूद थे। इस मौके पर  श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी के प्रतिनिधि अमृतानंद ने यात्रा का उद्देश्य सनातन धर्म में सर्वमान्य धर्मानुशासन बताया और कहा कि अब हिंदुओं को सनातन धर्म की शिक्षा व सर्वसम्मत धर्मसंदेश के साथ एकजुट होने की बड़ी जरूरत है।

देश में सेक्युलरिज्म के नाम पर हिंदुओं पर अनकहा दबाव बनाया जा रहा है। यात्रा के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि अपने पहले चरण में ये यात्रा संपूर्ण हिंदी भाषी क्षेत्रों में जाएगी और सभी धार्मिक मठ, मंदिरों और आश्रमों तक संत जागृति संदेश का प्रचार प्रसार करेगी। वही दूसरे चरण में यात्रा दक्षिण भारत जाएगी जहां महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी भी भाग लेंगे। इस यात्रा के अंतिम चरण में हरिद्वार के संतो के दर्शन करेंगे और उन्हें पूरे देश के संतो से विचार विमर्श के बारे में जानकारी देगें। इस मौके पर अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने यात्रा में शामिल  सभी साधु संतों का स्वागत करते कहा कि जिन विचारों को फैलाने के लिए यात्रा निकाली जा रही है, यह एक सराहनीय प्रयास है और इन प्रयासों का हिन्दू महासभा पूरा समर्थन करते हुए यात्रा के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए पूरा योगदान देगी