त्रिपुरा में गूंजायोगी जी को जय श्री राम

102

त्रिपुरा में गूंजायोगी जी को जय श्री राम

उत्तर त्रिपुरा/खोवाई/त्रिपुरा सदर। त्रिपुरा की सड़कों पर भी गूंजा-योगी जी को जय श्री राम। मुख्यमंत्री डॉ. माणिक साहा के लिए उत्तर प्रदेश के सीएम ने किया रोड शो। योगी को देखने सड़कों पर उमड़ा हुजूम।कम्युनिस्टों के साथ मिलकर सुरक्षा में सेंध लगाने आई है कांग्रेसः सीएम योगी त्रिपुरा विधानसभा चुनावी समर में उतरे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बोले-देश को ठगने का रहा है कांग्रेस का इतिहास। मंगलवार को दो विजय संकल्प रैली व एक रोड शो कर दोबारा कमल खिलाने का किया आह्वान। योगी आदित्यनाथ ने भाजपा के कार्य गिनाए और कांग्रेस के घोटाले। आयो रे, आयो रे योगी जी आयो रे गीतों के जरिए यूपी के बाबा का आमजन ने किया इस्तकबाल।

READ MORE – डबल इंजन की सरकार त्रिपुरा कि नई पहचान

त्रिपुरा विधानसभा के चुनावी समर में मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उतर गए। उन्होंने यहां दो विधानसभा क्षेत्रों में विजय संकल्प रैली (बागबासा, कल्याणपुर-प्रमोदनगर ) व एक विधानसभा क्षेत्र में रोड शो कर विकास कार्यों के बलबूते दूसरी बार त्रिपुरा में भाजपा सरकार बनाने की अपील की तो कुशासन व घोटाले गिनाकर कम्युनिस्टों और कांग्रेस पर हमलावर रहे। बोले-कांग्रेस का इतिहास देश को ठगने का रहा है दोनों पार्टियां आपकी सुरक्षा में सेंध लगाने आई हैं। अन्य राज्यों की भांति यूपी के मुखिया योगी आदित्यनाथ को यहां की जनता ने भी सिरमौर बनाकर रखा। योगी जी आयो रे-योगी जी आयो रे, सबका साथ और सबका विकास आदि के गीतों पर बागबासा में आमजन ने गोरक्षपीठाधीश्वर का जोरदार स्वागत व अभिनंदन किया। बागबासा में सीएम योगी के साथ त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा भी मौजूद रहे।

जनता ने सिखाया सबक, मिट रहा कम्युनिस्ट व कांग्रेस का अस्तित्व

योगी आदित्यनाथ की दूसरी रैली खोवाई जिले के कल्याणपुर-प्रमोद नगर विधानसभा क्षेत्र में हुई। यहां उन्होंने निवर्तमान विधायक व भाजपा उम्मीदवार पिनाकी दास चौधरी के पक्ष में वोट मांगे। उन्होंने कहा कि 2018 में भाजपा ने त्रिपुरा की खुशहाली व समग्र विकास के लिए समर्थन मांगा था। 35 वर्षों तक कम्युनिस्ट व कांग्रेस के लोगों ने विकास नहीं होने दिया था, त्रिपुरा में विकास की योजनाओं में डकैती डाली। कांग्रेस व कम्युनिस्ट एक ही थैली के चट्टे-बट्टे हैं। जनता ने सबक सिखाया तो इनका अस्तित्व मिट रहा है। वे नौजवानों को बेरोजगार, किसानों को बदहाल, मां-बहनों की सुरक्षा को खतरे में डाल रहे थे। योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता था।

असुरक्षा का वातावरण था, लेकिन पहली बार बनी भाजपा की डबल इंजन सरकार ने बिना भेदभाव के शासन की योजनाओं का लाभ दिया। महिलाओं को नौकरी में 33 फीसदी आरक्षण देना चमत्कार है। कम्युनिस्टों व कांग्रेस को जहां भी शासन मिला, भावनाओं से खिलवाड़ करते थे। यूपीए शासन ने रोज नया घोटाला देखा होगा। कभी कोयला घोटाला, कभी टूजी घोटाला, कभी कामनवेल्थ घोटाला, घोटाला कांग्रेस की पहचान बन चुकी थी। आज जब नौजवानों को रोजगार मिल रहा है और विकास योजनाएं बढ़ रही हैं, आस्था का सम्मान हो रहा है तो कांग्रेस कम्युनिस्टों के साथ मिलकर साजिश रचना चाहती है। यूपी की काशी में काशी विश्वनाथ धाम बन गया तो अयोध्या में राम मंदिर तेजी से बन रहा है। अब पूर्वोत्तर में मंत्री कैंप करते हैं और योजनाओं का लाभ सुनिश्चित कराकर पीएम मोदी को रिपोर्ट करते हैं।

त्रिपुरा में गूंजायोगी जी को जय श्री राम