स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जश्न- ए -आजादी ट्रस्ट करेगा एक सप्ताह तक विविध आयोजन

ट्रस्ट ने सरकार से की मांग, लखनऊ की ऐतिहासिक इमारतों के आसपास यूपी का सबसे ऊंचा (राष्ट्रीय ध्वज)लगाया जाय,स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जश्न- ए -आजादी ट्रस्ट करेगा एक सप्ताह तक विविध आयोजन।

लखनऊ। जश्न ए आजादी ट्रस्ट द्वारा गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के अवसर पर एक सप्ताह तक विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।
इस संबंध में एक महत्वपूर्ण बैठक इरम कॉलेज इंदिरा नगर में सम्पन्न हुई।बैठक की अध्यक्षता ट्रस्ट के महामंत्री मुरलीधर आहूजा ने की तथा संचालन वामिक खान ने किया।बैठक में आजादी का जश्न धूम धाम से मानने पर चर्चा हुई।इस संबंध में 1सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से जैसे 75 किलो लड्डू का वितरण, ब्लड डोनेशन, पौधरोपण, योगा उत्सव, विभिन्न चौराहों पर महापुरुषों की प्रतिमाओं पर साफ सफाई,साइकिल रैली, सांस्कृतिक कार्यक्रमों आदि के माध्यम से एक सप्ताह तक जश्न ए आजादी ट्रस्ट द्वारा विभिन्न कार्यक्रमो का आयोजन करके जश्न धूम धाम से मानने पर सर्व सम्मति से प्रस्ताव पारित हुआ।जश्न ए आज़ादी ट्रस्ट की मीटिंग में सरकार से मांग की गई कि पुराने लखनऊ की ऐतिहासिक इमारतें इमामबाड़ा, घंटाघर, रूमी गेट के आसपास यूपी का सबसे ऊंचा (राष्ट्रीय ध्वज) लगाया जाए।इस अवसर पर ट्रस्ट की अध्यक्ष निगहत खान ने बताया कि हिन्दू,मुसलिम, सिख,ईसाई,जैन, बौद्ध,आदि सभी एक साथ मिलकर 15 अगस्त के इस जश्न में शामिल होकर धूम धाम से राष्टीय पर्व मनाएंगे। ट्रस्ट के महामंत्री मुरलीधर आहूजा ने कहा कि स्वतन्त्रता दिवस हमारे देश का सबसे बड़ा त्यौहार होना चाहिए बस इसी भावना के साथ आज़ादी का उत्सव हम सब जोर शोर से मनाते है।15 अगस्त के इस झंडारोहण में सभी धर्मों के धर्म -गुरु शामिल होकर एकता और अखंडता का संदेश देंगे।साथ ही इस राष्ट्रीय पर्व पर देश की खुशहाली और अमन शांति की दुआ करेंगे।


आयोजन समिति के मीडिया प्रभारी अब्दुल वहीद,जुबैर अहमद ने बताया कि स्वतंत्रता उत्सव की शुरुआत लखनऊ में विभिन्न स्थानों पर लगी महापुरुषों की प्रतिमाओं की सफाई के साथ होगी।शहर के विभिन्न चौराहों पर मास्क बांटा जाएगा। शहर के विभिन्न हिस्सों में पौधरोपण होगा।देश भक्ति पर कवि सम्मेलन एवं मुशायरा आयोजित होगा।हेल्थ कैम्प और जरुरतमंदो के लिए ब्लड डोनेट किया जाएगा।शहर में सराहनीय कार्य करने वालो का सम्मान भी किया जाएगा।मोमबत्तियां जलाकर शहीदों को श्रधांजलि दी जाएगी।तथा तिरंगा ध्वज फहरा कर झंडारोहण किया जाएगा और 75 किलो के लड्डू का वितरण भी किया जाएगा।बैठक में प्रमुख रूप से समाजसेवी मुर्तुजा अली, ख्वाजा बज़्मी युनुस, शहजादे कलीम,प्रदीप सिंह बब्बू,तौसीफ हुसैन,संजय सिंह,इमरान खान,शाहिद सिद्दीकी, प्रिंस आर्या,सोनिया पाहवा,रितेश,अजीम खान,अब्दुल वहीद,जुबैर अहमद,देवव्रत बाजपेई, रईस खान, प्रिंस आर्या ने स्वतंत्रता दिवस को दीपावली और ईद के पर्व की तरह मनाने की बात कही।इस बैठक में महापुरुष चंद्रशेखर आजाद के वंशज भी शामिल थे।