हर घर तिरंगा कार्यक्रम में सभी को जोडे-केशव प्रसाद मौर्य

हर घर तिरंगा कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए सभी लोगो को जोडे।

लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने हर घर तिरंगा कार्यक्रम की तैयारियों समीक्षा करते हुए कि तिरंगे झण्डे को मानक के अनुरूप बनाया जाना चाहिए, स्वयं सहायता समूह के माध्यम से जो झण्डे बनाये जा रहे है उनका नियमित रूप से अनुश्रवण करते रहे। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि 15 अगस्त को जो अमृत सरोवर बन के तैयार हो गये है, वहां पर भी झण्डा रोहण की व्यवस्था कर ली जाये। उन्होंने हर घर तिरंगा कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार कराने तथा सभी लोगो को कार्यक्रम से जोडने के लिए कहा है। केशव प्रसाद मौर्य शुक्रवार को प्रयागराज में सर्किट हाउस में विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा कर रहे थे। आवास योजनाओं की समीक्षा करते हुए उपमुख्यमंत्री जी ने कहा कि आवास योजनाओं से पात्रों को लाभान्वित कराये जाने में कोई भी शिकायत नहीं प्राप्त होनी चाहिए। उपमुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री आवास योजना में अपात्रों का चयन करने वालो के विरूद्ध की गयी कार्रवाई के बारे में जानकारी ली, जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि आवास योजना के अन्तर्गत अपात्रों को लाभान्वित कराने वाले 34 ग्राम सचिवों/ग्राम विकास अधिकारियों के विरूद्ध कार्रवाई की गयी है।


हर घर जल योजना की समीक्षा करते हुए उपमुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कार्य की प्रगति के बारे में जानकारी ली। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि हर घर को नल से जोड़ने का कार्य सरकार की प्रमुख प्राथमिकताओं में से एक है। उन्होंने योजना को तीव्र गति के साथ पूरा कराये जाने के लिए कहा है, जिससे की हर अमीर, गरीब, दलित, पिछड़े सभी को योजना से जोड़कर उनके घरों तक नल के द्वारा साफ पीने का पानी उपलब्ध कराया जा सके। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को हर घर नल योजना की प्रगति की साप्ताहिक समीक्षा करने के लिए कहा है।
उपमुख्यमंत्री ने जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायतों की सड़कों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जनप्रतिनिधियों से पूछ कर ही सड़कों के निर्माण की सूची बनायी जाये। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत जिन सड़कों के निर्माण की सूची बनायी गयी है, उन्हें तत्काल जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध करा दें। विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए कुछ जगहों पर ट्रांसफार्मरों के बदले जाने में देरी की शिकायतें आयी है, जिस पर उपमुख्यमंत्री ने अधिकारियों को चेताते हुए कहा कि शासन के आदेश के अनुसार निर्धारित समय के अन्तर्गत खराब ट्रांसफार्मरों को बदला जाये ,साथ ही सभी बिजली विभाग के अधिकारियों को यह निर्देशित किया कि आमजनों के साथ अच्छा व्यवहार करें तथा उनकी समस्याओं का गम्भीरता के साथ निस्तारण सुनिश्चित करें। जनपद में लाइन लास की समस्या जहां पर भी है, वहां पर टीम के साथ अभियान चलाकर कार्रवाई सुनिश्चित करें।


अमृत सरोवर योजना के तहत ग्रामों में तालाब खोदाई कार्यों की समीक्षा करते हुए उपमुख्मयंत्री ने कहा कि हर ब्लाक में एक माॅडल तालाब का निर्माण करें। उन्होंने तालाब के निर्माण को पर्यटन की दृष्टि से कराये जाने के लिए कहा है। उन्होंने तालाब के आस-पास वृहद रूप से वृक्षारोपण कराये जाने के लिए कहा है, साथ ही उन्होंने अधिकारियों से कहा कि पौधरोपण किए जाने के साथ-साथ पौधों को बचाना महत्वपूर्ण है। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी जनप्रतिनिधिगणों से अमृत सरोवर के तहत कराये जा रहे तालाब के निर्माण कार्य की मानीटरिंग करने के लिए भी कहा है। कहा कि मनरेगा के तहत बनाये गये जाॅब कार्डों का अधिकारी व्यक्तिगत रूप से जांच करें। उपमुख्यमंत्री ने स्वयं सहायता समूहों के बारे में कहा कि स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों को प्रशिक्षित कर स्वावलम्बी बनायें तथा समूहों के द्वारा जिन वस्तुओं को बनाया जा रहा है, उनकी प्रोसेसिंग पर विशेष ध्यान दिया जाये।इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष डाॅ0 वी0के0 सिंह, विधायक कोरांव राजमणि कोल, विधायक फूलपुर प्रवीण पटेल, विधायक शहर उत्तरी हर्षवर्धन वाजपेयी, मा0 विधायक बारा डाॅ0 वाचस्पति, मुख्य विकास अधिकारी शिपू गिरि सहित सभी सम्बंधित विभागों के अधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।