दो दलित युवतियों की हत्या योगी सरकार में कानून व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह

दो दलित युवतियों की हत्या पर दुःख जताते हुए आरएलडी ने योगी सरकार में कानून व्यवस्था पर जड़े प्रश्न चिन्ह।

अजय सिंह

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष रामाशीष राय ने कहा कि जनपद लखीमपुर खीरी में हुयी दो दलित लड़कियों की पेड़ से लटकर मरने की संदिग्ध घटना अत्यंत दुखद है एवं सरकार की कानून व्यवस्था की पोल खोलता है। इसकी जितनी भी निंदा की जाय कम है।

प्रदेश सरकार में चारो ओर अपराध, भ्रष्टाचार एवं निरंकुशता का बोलबाला है जिसका खामियाजा प्रदेश की जनता को लगातार भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सरकारी विभाग में ऐसी निरंकुशता फैली हुयी है कि विभागीय अधिकारी अपने मंत्री का ही कहना नहीं मानते हैं और अधिकारियों की संस्तुति के प्रति मंत्री महोदय अन्जान रहते हैं जिससे यह स्पष्ट हैं कि प्रदेश की आम जनता के कार्य बाधित हो रहे हैं और जनता त्रस्त है।

श्री राय ने कहा कि राजधानी से लेकर सुदूर क्षेत्र के गांव तक लूट, हत्या, डकैती, बलात्कार तथा अपहरण जैसे जघन्य अपराधों की भरमार हो गयी हैं और पुलिसिया तंत्र अनदेखी कर रहा है या तो स्वयं में फेल है। मंहगाई पर किसी भी प्रकार का अंकुष न होने से जनता त्राहि त्राहि कर रही है और बाजार में विभिन्न वस्तुओं के मूल्य अनियंत्रित होने से मंहगाई निरन्तर विकराल रूप लेती जा रही है। प्रदेश में अराजकता का माहौल है।

श्री राय ने कहा कि कृषि मण्डी स्वयं मुख्यमंत्री के अधीन है और उसी विभाग का मंत्री ने कदाचार भ्रष्टाचार की शिकायत अपने पत्र में किया है जो अत्यंत शर्मनाक है। सरकार इसकी उच्च स्तरीय जांच कराकर आवश्यक कार्यवाही कर दोषियों को दण्डित करे और भ्रष्टाचार पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए कदम उठाये।उन्होंने कहा कि जीरो टालरेन्स की दुहाई देने वाली सरकार में जिस प्रकार मंत्रियों के शिकायती पत्र मुख्यमंत्री को लिखे जा रहे हैं उससे पूरी सरकार कटघरे में है। उन्होंने लखीमपुर खीरी में हुयी दलित लड़कियों की हृदय विदारक घटना का पर्दाफाश कर अविलम्ब कार्यवाही किये जाने की मांग की है।