राम नगरी को अतिक्रमण मुक्त बनायें-उपमुख्यमंत्री

अयोध्या। प्रदेश सरकार के 2.0 कार्यकाल में प्रथम बार विभागीय कार्यो की समीक्षा एवं अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य जी का जनपद अयोध्या में आगमन हुआ। मा0 उपमुख्यमंत्री जी द्वारा ग्राम्य विकास, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, खाद्य प्रसंस्करण, मनोरंजन कर, सार्वजनिक उद्यम एवं राष्ट्रीय एकीकरण विभाग आदि विभागों के कार्यो की समीक्षा सर्किट हाउस नवनिर्मित सभागार में गयी। उपमुख्यमंत्री द्वारा प्रथम चरण में ग्राम विकास एवं समग्र ग्राम विकास के कार्यो की समीक्षा की गयी, जिसमें उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के निर्देश है कि सभी ग्रामसभाओं में दो-दो अमृत सरोवर बनाये जाय। उन्होंने कहा कि अयोध्या में पूरे देश का आगमन होना है इसको और आकर्षक बनाने के लिए मार्गो पर अमृत सरोवर के निर्माण पर्यटकों के रूकने की दृष्टि से कराये जाय। निर्माण कराये जा रहे सरोवरो में जनप्रतिनिधियों की सलाह एवं सुझाव अवश्य प्राप्त करें तथा सरोवरो का आकार वृहद्व स्तर का हो इसका भी विशेष ध्यान रखा जाय। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि सरोवर के लुप्त होने का मुख्य कारण दंबगों द्वारा अतिक्रमण है, इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा कार्यवाही करते हुये सरोवरो को अतिक्रमण मुक्त कराया जाय तथा उनका जीर्णोद्वार बेहतर ढंग से करनेे हेतु निर्देश दिया गया। उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि सरकार द्वारा नदियों के पुर्नद्वार की योजना चलायी जा रही है, जिसके तहत प्रदेश में अब तक लगभग 60 नदियों को पुर्नद्वारित किया जा चुका है उसी क्रम में अयोध्या की तमसा नदी का भी जीर्णोद्वार का कार्य किया जा रहा है और इस वर्ष मण्डल में 5 नदी और लिया गया है जिसमें कल्याणी नदी प्रमुख है।

उपमुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को यह भी निर्देश दिये कि जनपद, तहसील, ब्लाक व ग्राम स्तर पर आयोजित किये जा रहे सरकारी कार्यक्रमों, योजनाओं की जानकारी से जनप्रतिनिधियों को अनिवार्य रूप से अवगत कराये तथा उनको आवश्यक बैठकों में बुलाने एवं उनके सुझावों को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर शामिल करने का आदेश दिया गया। मा0 उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि मनरेगा के तहत जिन श्रमिकों द्वारा 90 दिन का कार्य कर लिया गया है, उसकी सूची बनाकर उनका पंजीकरण श्रम विभाग के पोर्टल पर किया जाय जिससे उनको श्रम विभाग की अनेक योजनाओं का भी लाभ मिलेगा। मा0 मंत्री जी द्वारा अगले चरण में ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के कार्यो की समीक्षा की गयी, जिसमें प्रधानमंत्री ग्राम्य सड़क योजना के तहत कार्यो को समयबद्व ढंग से गुणवत्ता के साथ पूरा करने के निर्देश दिये गये। खाद्य प्रसंस्करण के कार्यो में पाया गया कि मण्डल स्तर पर गुलाबबाड़ी के पास खाद्य प्रसंस्करण टेªनिंग संस्थान है जिसके प्रभारी अधिकारी को निर्देश दिया गया कि इस कार्यो में तेजी लाये तथा इसमें भी जनप्रतिनिधियों को संचालित योजनाओं की जानकारी दी जाय और प्रत्येक आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाय। राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन की समीक्षा करते हुते कहा कि जो समूह निष्क्रिय हो गये है उनके कारणों का निराकरण करते हुते उन्हें सक्रिय किया जाय और नये समूह तत्परता के साथ बनाएं जांय। बी0सी0 सखियों के कार्यों की जानकारी हासिल करते हुये बी सी सखियों को और प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। महिला मेटों के चयन में तेजी लायी जाए।

सामुदायिक शौचालयों में लगे स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों के भुगतान में विलम्ब न किया जाए। उन्होंने कहा कि अवर अभियन्ता आर ई डी, व तकनीकी सहायकों के कार्यों पर विशेष नजर रखी जाए। इसके अलावा मनोरंजन कर विभाग की समीक्षा में लिपिक द्वारा बताया गया कि मनोरंजन कर विभाग बंद हो गया है और पुराने कार्यो को सम्पादित किया जा रहा है इस पर मा0 मंत्री ने कहा कि पुराने कार्य जो भी है उसको जल्द से जल्द पूरा किया जाय। बैठक में अयोध्या सांसद श्री लल्लू सिंह द्वारा जनप्रतिनिधियों के सरकारी कार्यक्रमों में निमंत्रण का मामला उठाया गया, जिस पर मंत्री जी ने स्पष्ट व्याख्या दी कि यह शासकीय जिम्मेदार अधिकारियों का दायित्व है कि जनप्रतिनिधियों को समय से पूर्व आयोजित कार्यक्रमों की जानकारी दी जाय, ऐसी लापरवाही न हो। मा0 उपमुख्यमंत्री जी ने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रत्येक ग्रामसभा में अन्त्येष्टि स्थल को अवश्य रूप से बनाया जाय, इस सम्बंध में प्राप्त किसी भी शिकायत पर कठोर कार्यवाही की जायेगी तथा सभी खण्ड विकास अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वाहन पूरी पारदर्शिता के साथ करें। इससे ग्रामसभाओं की आधी से अधिक समस्याओं का निराकरण स्वतः हो जायेगा। बैठक में संयुक्त विकास आयुक्त अरविन्द चन्द जैन एवं मुख्य विकास अधिकारी अनिता यादव, परियोजना निदेशक आर0पी0 सिंह द्वारा मा0 उपमुख्यमंत्री जी को प्रतीक चिन्ह देकर स्वागत किया गया तथा विकास कार्यक्रमों की संक्षिप्त जानकारी दी गयी। बैठक में सांसद के अलावा विधायक रूदौली रामचन्द्र यादव, विधायक बीकापुर डा0 अमित सिंह चैहान के साथ-साथ सम्बंधित विभागों के मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारी, उपनिदेशक सूचना डा0 मुरलीधर सिंह, अपर जिलाधिकारीगण, अधिशाषी अभियन्तागण, मण्डलीय अभियंत्रागण आदि उपस्थित थे।


उपमुख्यमंत्री द्वारा सहादतगंज स्थित नवनिर्मित भाजपा कार्यालय का उद्घाटन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया। बैठक के बाद उपमुख्यमंत्री जी ने विकासखण्ड मसौधा के ग्राम पंचायत सरियावां में अमृत सरोवर का शिलान्यास एवं स्थलीय निरीक्षण किया गया तथा राष्ट्रीय आजीविका मिशन के महिला समूह से संवाद किया गया और वहां के गठित महिला समूहों को चेक वितरित कर सम्मानित किया गया। उपमुख्यमंत्री जी ने अगले चरण में श्री मणिराम दास की छावनी में परम पूज्य नृत्य गोपाल जी महाराज के आश्रम जाकर उनसे मुलाकात कर आर्शीवाद प्राप्त कर शिष्टाचार भेंट की गयी।कार्यक्रम का समापन उपमुख्यमंत्री जी द्वारा सिविल लाइन स्थित गांधी पार्क में गरीब कल्याण जनसभा को सम्बोधित कर जनपद के लाभार्थियों को सम्मानित किया गया। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत जनपद के चयनित 14,652 लाभार्थियों में से 20 लाभार्थियों को प्रतीक के तौर पर चाभी वितरित की गयी। इसी क्रम मंे उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत 1119 स्वयं सहायता समूहों के 12309 सदस्यों को रू0 1.67 करोड़ व सामुदायिक निवेश निधि के तहत 630 स्वयं सहायता समूह के 6923 सदस्यों को रू0 6.93 करोड़ कुल 8.60 करोड़ की धनराशि वितरित कर लाभान्वित किया गया। उन्होंने प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत जनपद में स्वीकृति लगभग 4900 लाभार्थियों में से प्रतीक के तौर पर 10 लाभार्थियों को डिजिटल परिचय बोर्ड वितरित किये गये। कार्यक्रम में अयोध्या सांसद श्री लल्लू सिंह, जिलाध्यक्ष श्री संजीव सिंह, महानगर अध्यक्ष श्री अभिषेक मिश्रा सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, लाभार्थीगण एवं भारी संख्या में आमजन मौजूद रहे।