महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे मोदी

41
महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे मोदी
महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे मोदी

‘अपनी काशी’ में 25 हजार महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे पीएम मोदी। आज प्रधानमंत्री संग मौजूद रहेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। प्रधानमंत्री ने प्रकट की थी नारी शक्ति से संवाद की इच्छा। नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम में दिखेगा लघु भारत का स्वरूप। संचालन, व्यवस्था से लेकर संपूर्ण दायित्व मातृशक्ति के कंधे पर। अनेकता में एकता का दिखेगा संगम। महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे मोदी

वाराणसी। मातृशक्ति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो में अहम भूमिका निभाई थी। प्रधानमंत्री ने इन महिलाओं के प्रति आभार जताने के लिए इनसे मिलने की इच्छा जताई थी। इसे पूरा करने के लिए मंगलवार को प्रधानमंत्री ‘अपनी काशी’ में लगभग 25 हज़ार महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे। डॉ. संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में शाम को नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम आयोजित होगा। इसमें संचालन, मंच, व्यवस्था समेत संपूर्ण दायित्व मातृशक्ति ही संभालेंगी। प्रधानमंत्री अपने क्षेत्र में विशेष काम कर रहीं महिलाओं, स्वयं सहायता समूह की खास महिलाओं और भाजपा की महिला पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे। नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम में लघु भारत का स्वरूप भी देखने को मिलेगा। मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी रहेंगे। कार्यक्रम में सिर्फ महिलाएं ही दिखेंगी। पीएम दो दिवादीय यात्रा पर 21 मई को काशी पहुंचेंगे व 22 मई की सुबह रवाना होंगे।

पूरे भारत में जाएगा नारी शक्ति का संदेश

वाराणसी में यह अलग तरह का कार्यक्रम हो रहा है। इसके जरिए शिव की काशी से नारी शक्ति का संदेश पूरे भारत में जाएगा। इसमें सभी दायित्व मातृशक्ति के कंधे पर रहेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25,000 से अधिक महिलाओं से संवाद भी करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव के नामांकन के बाद एक सप्ताह के अंतराल में अपने संसदीय क्षेत्र काशी में आ रहे हैं। यह कार्यक्रम खुद प्रधानमंत्री के नारी शक्ति से संवाद करने की इच्छा प्रकट पर आयोजित किया जा रहा है। समाज के विभिन्न वर्गों की महिलाओं को इस कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया है।

अनेकता में एकता का दिखेगा संगम

नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रिसीव करने, मंच संचालन, व्यवस्था समेत संपूर्ण दायित्व मातृ शक्ति के कंधे पर ही है। पंडाल में मिनी भारत का स्वरूप भी दिखाई देगा। मराठी, बंगाली, दक्षिण भारतीय आदि प्रांत की वाराणसी में रहने वाली महिलाएं अपने अलग-अलग परिधान में दिखेंगी। इनमें डॉक्टर, शिक्षिका, गृहिणी, अधिवक्ता, खिलाड़ी, व्यापारी समेत सभी वर्ग की महिलाएं भी शामिल रहेंगी।

कार्यक्रम की तैयारी में जुटी है महिला मोर्चा

भाजपा महिला मोर्चा की तरफ से कार्यक्रम की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। लोकसभा प्रभारी अर्चना मिश्रा एवं मीना चौबे, भाजपा महिला मोर्चा की क्षेत्रीय अध्यक्ष नम्रता चौरसिया, महानगर अध्यक्ष कुसुम सिंह पटेल, जिलाध्यक्ष विनीता सिंह, निर्मला सिंह पटेल, महामंत्री प्रज्ञा पांडेय समेत पूरी टीम कार्यक्रम को यादगार बनाने की तैयारी में जुटी है। महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे मोदी