राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल ने आजमगढ़ उपचुनाव में बसपा को दिया समर्थन

आजमगढ़ को बाहरी लोगों की राजनैतिक नर्सरी नही बनने देंगे, अब आजमगढ़ का नेतृत्व आजमगढ़ के स्थानीय नेता ही करेंगे। राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल ने आजमगढ़ उपचुनाव में बसपा प्रत्याशी गुड्डू जमाली को समर्थन दिया।

अजय सिंह

आजमगढ़। राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल ने आजमगढ़ उपचुनाव में बसपा प्रत्याशी गुड्डू जमाली को समर्थन दिया। इसका एलान गुड्डू जमाली व राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल के पदाधिकारीयों ने आज आयोजित संयुक्त प्रेसवार्ता में किया। प्रसे को सम्बोधित करते हुए पार्टी प्रवक्ता तलहा रशादी ने कहाकि राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल इस चुनाव में भाग नही ले रही है और हम तटस्थ थे पर पिछले चंद दिनों में जिस प्रकार से भाजपा व सपा द्वारा तुष्टीकरण और ध्रूवीकरण का माहौल बनाया जा रहा है और पूरे आजमगढ़ में दोनो दलों के बाहरी नेताओं ने जमघट लगाया हुआ है इससे एक बार फिर ये साफ है कि सपा-भाजपा दोनों दलों के लिए इस चुनाव में स्थानीय विकास कोई मुद्दा ही नही है, साथ ही बाहरी प्रत्याशीयों को लड़ाकर दोनों दल आजमगढ़ को पाॅलिटिक्ल टूरिज़्म का अड्डा बना रहे हैं। क्या आजमगढ़ में कोई ऐसा नेता नही है इन दलों के पास जो आजमगढ़ का नेतृत्व कर सके? या ये दोनो दल राहुल सांकृत्यायन व अल्लामा शिब्ली नोमानी की इस सरजमीन को राजनैतिक तौर पर बंजर व बाहरी नेताओं के लिए राजनैतिक नर्सरी बनाना चाहते हैं?

उन्होने सवाल किया कि जिस तरह से आज सपा-भाजपा के सारे बड़े और बाहरी नेता आजमगढ़ में नज़र आ रहे हैं वो तब कहां थे जब बिलरियागंज में हमारी मा-बहनों पर लाठीयां बरस रही थीं या जब कोरोना काल में हमारे लोग ऑक्सीजन के लिए तरस रहे थे। आज चुनाव में सपा-भाजपा के लोग आजमगढ़ की अवाम के मसीहा बन रहे हैं। इन हालात में आजमगढ़ की अवाम की मांग पर और आजमगढ़ के सम्मान व अस्मिता के लिए पार्टी ने ये फैसला किया है कि इस चुनाव में बसपा प्रत्याशी गुड्डू जमाली साहब का समर्थन करेंगे क्योंकि ये आजमगढ़ के स्थानीय प्रत्याशी हैं जो क्षेत्र की समस्याओं से जमीनी स्तर पे परिचित हैं तो वहीं ये सदैव लोगों के सुख-दुख में खड़े रहते हैं। आज आजमगढ की जनता एक साफ सुथरी छवि वाले स्थानीय नेता को अपना प्रतिनिधि बनाना चाहती है ताकि हवा-हवाई बातों के बजाए क्षेत्र का विकास हो सके और उनका नेता उनके सुख-दुख में खड़ा रहे। उन्होने कहाकि 2017 के विधानसभा चुनाव में हमने बसपा से रणनीतिक गठबंधन किया था और हमारे सहयोग से बसपा जिले में 4 सीट जीती थी और हम उम्मीद करते हैं कि इस बार फिर जनता उसी तरह हमारा साथ देगी और ’’ आजमगढ़ ’’ जीतेगा।

गुड्डू जमाली ने कहाकि, मैं राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष बड़े भाई मौलाना आमिर रशादी साहब का शुक्रिया अदा करता हूं कि उन्होने हमे अपना समर्थन दिया। कौन्सिल का जिले में बहुत अच्छा जनादेश है और इनके वोटर पक्के हैं, मैं निश्चिंत हूं कि आज कि इस घोषणा ने हमारी जीत को सुनिश्चित कर दिया है, पिछले दिनों में एक प्रोपगंडा के तहत लोगों को भ्रमित करने की जो कोशिश की गयी है जिसके कारण जो लोग भी अबतक थोड़ा बहुत भ्रमित थे उन सब का भ्रम आज दूर हो जाएगा और हम और मजबूती से जीत की तरफ बढ़ेंगे। मुझे यकीन है कि मैं चुनाव जीत रहा हूं और मैं यही का हूं और यहीं रहुंगा और जीत के बाद भी अपने लोगों की सेवा और विकास में समर्पित रहुंगा।इस मौके पर बसपा के कॉर्डिनेटर डाॅ0 मदनराम, मण्डल प्रभारी अश्विनी कुमार व अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे तो वही राष्ट्रीय ओलमा कौन्सिल के प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर अनिल सिंह, यूथ विंग के अध्यक्ष नुरूलहोदा अन्सारी, जिलाध्यक्ष नोमान अहमद, जिला प्रभारी हाजी शकील अहमद, रामकुमार कन्नौजिया व अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।