मेला क्षेत्र में साफ सफाई के दायित्व में लापरवाही क्षम्य नही होगी-मण्डलायुक्त

अयोध्या। मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में मेला क्षेत्र विशेष कर सरयू के घाटों की साफ-सफाई को लेकर एक आवश्यक बैठक आयुक्त सभागार में आहूत की गयी, जिसमें जिलाधिकारी नितीश कुमार भी उपस्थित रहे। बैठक में मण्डलायुक्त ने वर्तमान में घाटों की साफ-सफाई की व्यवस्था तथा शिफ्टवार सफाई कर्मियों की ड्युटी के सम्बंध में भी विस्तृत जानकारी प्राप्त की। मण्डलायुक्त ने कहा कि मेला क्षेत्र में तैनात सभी मजिस्टेªट भी यह सुनिश्चित करवायेंगे कि उनके तैनाती क्षेत्र में साफ सफाई रहे तथा किसी भी प्रकार की समस्या होने पर समन्वय स्थापित कर आवश्यक कार्यवाही करेंगे। उन्होंने सम्बंधित अधिकारियों से कहा कि मेले के दौरान नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग तथा पंचायती राज विभाग के सफाई कर्मी में समन्वय हेतु एक व्हाटसअप गु्रप बनाकर रोस्टर वाइज निर्धारित क्षेत्रवार ड्युटी लगाकर यह सुनिश्चित करें कि सभी अपने-अपने निर्धारित क्षेत्र में समय से पहुंचकर घाटों की तथा मेला क्षेत्र की साफ-सफाई सुनिश्चत करेंगे, इस कार्य में किसी भी निरीक्षण अधिकारी/कर्मचारी द्वारा लापरवाही क्षम्य नही होगी तथा सम्बंधित के खिलाफ तत्काल दण्डात्मक कार्यवाही की जाय।

जिला पंचायत राज अधिकारी ड्युटी परिवर्तन के समय स्वयं उपस्थित रहकर सभी सफाई कर्मचारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करायेंगे। मण्डलायुक्त ने कहा कि नगर निगम, पंचायती राज विभाग, चिकित्सा विभाग सहित साफ सफाई से जुड़ी सभी संस्थायें टीम बनाकर चैधरी चरण सिंह घाट से लेकर नयाघाट से आगे तक प्रतिदिन आवश्यकतानुसार साफ-सफाई करायें तथा घाटों पर 10-10 मीटर के अन्तराल पर कूड़ादान रखे जाय तथा लाउडस्पीकर के माध्यम से श्रद्वालुओं को कूड़ादान में ही कूड़ा डालने के लिए प्रेरित व जागरूक करें। उन्होंने नगर निगम से अपेक्षा की कि मेला क्षेत्र में तैनात समस्त सफाई कर्मियों की डेªस निर्धारित की जाय जिस पर स्वच्छ भारत मिशन लिखा हो तथा ड्युटी के दौरान सभी सफाई कर्मी अपना परिचय पत्र को गले में लटकाकर रखेंगे जिससे कि वह प्रदर्शित होता रहे। मण्डलायुक्त ने कहा कि सभी अधिकारी/कर्मचारी अपनी अपनी जिम्मेदारियों का समन्वय के साथ निर्वाहन करें।


जिलाधिकारी नितीश कुमार ने मेला के दौरान व समाप्ति के बाद भी सभी घाटों तथा अन्य प्रमुख स्थानों की नियमित साफ सफाई की व्यवस्था के निर्देश दिये तथा मेला क्षेत्र में स्थापित किये गये मोबाइल ट्ायलेट पर एक कर्मचारी तैनात किया जाय, जिससे कि श्रद्वालुओं को कोई असुविधा न हों तथा अतिरिक्त मोबाइल टायलेट की व्यवस्था हेतु नगर आयुक्त से कहा। अन्त में मण्डलायुक्त व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से मेला क्षेत्र में आने वाले श्रद्वालुओं से अपील की कि मेला क्षेत्र की साफ सफाई में प्रशासन का सहयोग करें तथा कूड़े को मेला क्षेत्र में स्थापित किये गये कूड़ेदान में ही डाले, जिससे कि मेला क्षेत्र में साफ सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जा सकें। बैठक में नगर आयुक्त विशाल सिंह, एडीएम प्रशासन अमित सिंह, एडीएम सिटी/मेलाधिकारी सलिल कुमार पटेल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 अजय राजा, अपर नगर आयुक्त एस0बी0 राय, सहायक नगर आयुक्त अंकिता शुक्ला, डी0सी स्वच्छ भारत मिशन, नगर निगम के इंजीनियर, जोनल सेनेटरी अधिकारी, सफाई निरीक्षक, स्वच्छता सम्बंधी कार्यदायी संस्थायें, सीएसआई व ओम स्वच्छता के पदाधिकारी उपस्थित रहे।


मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा, जिलाधिकारी नितीश कुमार, नगर आयुक्त विशाल सिंह ने संयुक्त रूप से सम्पूर्ण मेला क्षेत्र का नगर निगम, पंचायत एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों जिन्हें मेला क्षेत्र में साफ सफाई का दायित्व सौपा गया है। सम्पूर्ण मेला क्षेत्र का भ्रमण कर साफ सफाई, सुलभ शौचालय का निरीक्षण करने के साथ वर्तमान में मेला क्षेत्र में आने वाले श्रद्वालुओं एवं कांवरियों की संभावित संख्या को देखते हुये आवश्यक व्यवस्थायें कराने के निर्देश दिये है। अधिकारियों द्वारा बन्धा तिराहा से राम की पैड़ी,नयाघाट,नागेश्वरनाथ मंदिर व उसके आसपास क्षेत्रों का भ्रमण कर वस्तु स्थिति से अवगत होने के साथ वहां लग रहे अस्थायी ठेला आदि को अनयत्र स्थान पर स्थानान्तरित करने के निर्देश दिये गये। साथ ही सभी दुकानदारों से अपील की गयी है कि वे अपने प्रतिष्ठान के सामने एक डेस्टबिन अवश्य रखे तथा पर्किंग की इस प्रकार व्यवस्था करायी जाय कि श्रद्वालुओं एवं कांवरियों के लिए घाट तक जाने का रास्ता सुगम हो और उन्हें कोई बाधा उत्पन्न न हों। अधिकारियों ने राम की पैड़ी पर लगे स्ट्रीट लाइट एवं म्युजिकल सिस्टम को तत्काल ठीक कराकर क्रियाशील करने के निर्देश दिये है। सुलभ एवं सामुदायिक शौचालयो को 24 घंटे क्रियाशील रखने के साथ उसकी सत्त सफाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है।