नोडल अधिकारी ने राजर्षि दशरथ स्वशाषी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय दर्शननगर अयोध्या का किया निरीक्षण

अयोध्या। उत्तर प्रदेश शासन के प्रमुख सचिव समाज कल्याण एवं अल्पसंख्यक कल्याण/जनपद के नोडल अधिकारी हिमांशु कुमार ने जिलाधिकारी नितीश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अनिता यादव के साथ राजर्षि दशरथ स्वशाषी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय दर्शननगर अयोध्या का निरीक्षण किया। इस दौरान नोडल अधिकारी महोदय द्वारा चिकित्सालय में मरीजों,आक्सीजन की आवश्यकता पूर्ति हेतु क्रियाशील तीनों आक्सीजन प्लांटों, टू-नाॅट लैब, लांड्री, पैथालाॅजी लैब, कंट्रोल कक्ष, कैंटीन, पी0आई0सी0यू0 वार्ड, आई0सी0यू0 वार्ड, ब्लड बैंक सहित विभिन्न वार्डो आदि का भ्रमण कर उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया तथा संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान चिकित्सा महाविद्यालय के प्राचार्य डा0 विजय कुमार ने बताया कि वर्तमान में चिकित्सालय में एल-3 स्तर के 20 आई0सी0यू0 वेडो के साथ-साथ चिकित्सालय में 280 वेड जिसमें 80 आई0सी0यू0,100 आक्सीजन वेड तथा 100 आइसोलेशन बेड उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि बच्चों के इलाज हेतु पीकू वार्ड भी क्रियाशील स्थिति में है, जिसमें 20 वेड आई0सी0यू0,50 वेड आक्सीजन सपोटेड, 30 वेड एच0डी0यू0 आदि की व्यवस्था है। उन्होंने बताया कि मरीजों को आवश्यकतानुसार आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु चिकित्सालय परिसर में कुल तीन आक्सीजन प्लांट क्रियाशील है जिसमें एक 960 लीट प्रति मिनट तथा दो आक्सीजन प्लांट 1000-1000 लीटर/मिनट उत्पादन क्षमता है तथा 25 कंसटेªटर भी उपलब्ध है।


इस अवसर पर नोडल अधिकारी महोदय व जिलाधिकारी द्वारा मरीजों को नियमित गुणवत्तायुक्त नाश्ता व भोजन उपलब्ध कराने, नियमित साफ-सफाई सुनिश्चित रखने के निर्देश दिये। इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा चिकित्सालय परिसर में निर्माणाधीन 200 शैय्या भवन का जायजा भी लिया गया। उन्होंने कार्यदायी संस्था को प्लास्टर में अच्छी गुणवत्ता के मोरंग का ही प्रयोग करने के साथ ही सम्पूर्ण निर्माण कार्यो में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने तथा प्राचार्य को भी समय-समय पर स्वयं निरीक्षण कर गुणवत्ता पूर्ण कार्य कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने आयुष्मान लाभार्थी काउंटर का भी निरीक्षण किया तथा चिकित्सालय में आने वाले मरीजों, योजना का सुगमता से उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इस अवसर पर प्रभारी सीएमओ डा0 आर0के0 सक्सेना, प्राचार्य डा0 विजय कुमार सहित अन्य संबंधित चिकित्सक व अधिकारी उपस्थित रहे।