अमेठी में सिलेंडर वाले लोग सरेंडर हो गए

39
अमेठी में सिलेंडर वाले लोग सरेंडर हो गए
अमेठी में सिलेंडर वाले लोग सरेंडर हो गए

  मैं आपका हूं अमेठी का हूं, था और रहूंगा। मैं भले रायबरेली से सांसद बनूं लेकिन अमेठी मेरा परिवार है और हमेशा रहेगा। जो काम/योजना रायबरेली आयेगी वह अमेठी आयेगी ये मेरी गारंटी है। किशोरी लाल जी ने अमेठी के लिए अपने जीवन में बहुत त्याग किया है , 4-5 लाख से ज्यादा वोटों से किशोरी लाल जी को जिता देना -राहुल गांधी

अमेठी में सिलेंडर वाले लोग सरेंडर हो गए हैं। चार चरणों में भाजपा चारों खाने चित्त हो गई है, ये संविधान बदलकर हमारे आपके अधिकारों को छीनना चाहते हैं – अखिलेश यादव


गौरीगंज/अमेठी ।
राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा- नमस्कार! अखिलेश यादव, के.सी. वेणुगोपाल, अविनाश पांडे, अशोक गहलोत,सुनील सिंह, प्रदीप सिंघल, राम उदित यादव और हमारे कैंडिडेट किशोरी लाल शर्मा, इंडिया अलायंस के सीनियर वरिष्ठ नेता, जो स्टेज पर हैं, हमारे कांग्रेस पार्टी के प्यारे कार्यकर्ता, इंडिया गठबंधन के प्यारे कार्यकर्ता, भाईयो और बहनो, प्रेस के हमारे मित्रों, आप सबका यहाँ बहुत-बहुत स्वागत, नमस्कार। राहुल गांधी ने कहा कि अमेठी में पहली बार मैं 42 साल पहले आया था। जब मैं 12 साल का बच्चा था, अपने पिता के साथ आया था। 42 साल हो गए और मैं आपको कहना चाहता हूं कि जो भी मैंने राजनीति में सीखा है, वो अमेठी की जनता ने मुझे सिखाया है। 12 साल का था, पिता जी के साथ आया। उस समय यहाँ पर सड़कें नहीं थी, ऊसर जमीन थी, कोई विकास नहीं था और मैंने अपनी आँखों से अमेठी का और मेरे पिता का जो रिश्ता था, जो प्यार था, जो मोहब्बत थी, देखी और वही मेरी भी राजनीति है। अमेठी में सिलेंडर वाले लोग सरेंडर हो गए

राहुल गांधी ने कहा आप ये मत समझिए कि मैं रायबरेली से चुनाव लड़ रहा हूं, मैं आपका हूं, अमेठी का हूं, था, और रहूंगा, राहुल गांधी ने कहा कि भाइयों और बहनों, 2024 का चुनाव अलग चुनाव है। पहली बार किसी राजनैतिक पार्टी ने, उनके नेताओं ने, साफ कहा कि हम इस संविधान को खत्म कर देंगे (संविधान की प्रति दिखाते हुए कहा), नष्ट कर देंगे, फेंक देंगे। भाईयो और बहनो, ये गांधी जी की, अंबेडकर जी की, जवाहरलाल नेहरू जी की और हिंदुस्तान के सारे के सारे नागरिकों की देन है। आप इसको मिटने दोगे (जनता ने कहा- नहीं), कोई शक्ति है दुनिया में, जो इसको मिटा सकती है (जनता ने फिर कहा- नहीं)।

पहला काम, भाईयो और बहनो, संविधान की रक्षा करनी है, क्यों- क्योंकि ये आपकी आवाज है, ये आपका भविष्य है, इसमें आपकी सोच है। जो भी गरीबों के लिए हुआ है आज तक हिंदुस्तान में, चाहे जमीन का अधिकार हो, किसानों की मदद हो, हरित क्रांति, श्वेत क्रांति, जो भी प्रगति हुई है, भाईयो और बहनों, इस किताब के बल पर हुई है, यही आपकी प्रगति की नींव है और नरेन्द्र मोदी इसको नष्ट करना चाहते हैं।

अगर संविधान समाप्त हो जाएगा, तो पब्लिक सेक्टर खत्म हो जाएगा, नौकरियां खत्म हो जाएंगी, महंगाई आसमान तक पहुंच जाएगी, रिजर्वेशन खत्म हो जाएगा और आपके जो सारे के सारे हक़ हैं, वो एक के बाद एक, एक के बाद एक, एक के बाद एक आपसे छीन लिए जाएंगे। भाईयो और बहनो, सच्चाई यह है कि इसके बिना हिंदुस्तान में 22-25 अमीर लोगों के पास हक़ बचेंगे। किसानों के हक, मजदूरों के हक़, युवाओं के हक, माताओं- बहनों के हक़ सब छीन लिए जाएंगे। इसीलिए सबसे जरूरी काम है, इस संविधान की रक्षा करना, जान से रक्षा करनी है, दिल से रक्षा करनी है।

पता नहीं आपने देखा या नहीं देखा, कुछ दिन पहले, राहुल गांधी ने कहा नरेन्द्र मोदी जी के आजकल बहुत इंटरव्यू चल रहे हैं, मीडिया वालों से इंटरव्यू कर रहे हैं, वही गोदी मीडिया वालों से, मोदी मीडिया वालों से। भाईयो और बहनो, ये मीडिया वाले जो हैं, ये आपके नहीं हैं, ये हमारे नहीं हैं, ये अडानी-अंबानी के हैं, ये नरेन्द्र मोदी जी के हैं। आपने कभी मीडिया में किसान की बात सुनी है (जनता ने कहा- नहीं), मजदूर की सुनी है (जनता ने फिर कहा- नहीं), बेरोजगारी की, महंगाई की कभी सुनी है मीडिया में, (जनता ने एक बार फिर कहा- नहीं), नहीं।

तो नरेन्द्र मोदी जी का आजकल इंटरव्यू कराया जा रहा है। कमरे में बैठाते हैं, 2-3 गोदी मीडिया वालों को साइड में बैठाते हैं, वहां टेलिप्रॉम्पटर तो है नहीं, टेलिप्रॉम्पटर तो रहे नहीं, किसी ने मुझे एक इंटरव्यू भेजा, उसने कहा कि हिंदुस्तान में अमीर बढ़ते जा रहे हैं, चुने हुए लोग और अमीर होते जा रहे हैं और गरीब लोग, और गरीब होते जा रहे हैं।

पत्रकार ने नरेन्द्र मोदी जी से पूछा कि अमीर, अमीर होते जा रहे हैं और गरीब, गरीब होते जा रहे हैं, इसके बारे में आप क्या सोचते हो? नरेन्द्र मोदी जी का जवाब आता है, अकड़कर बोलते हैं- क्या सबको एक जैसा बना देना चाहिए? नरेन्द्र मोदी जी चाहते हैं कि देश में अमीर लोग 22-25 लोग अमीर रहें और गरीब लोग गरीब रहें।

भाईयो और बहनो, नरेन्द्र मोदी जी ने 16 लाख करोड़ रुपया 22 लोगों का कर्जा माफ किया है, 22 लोगों का 16 लाख करोड़ रुपया। 16 लाख करोड़ रुपया, मतलब- 24 साल का मनरेगा का पैसा नरेन्द्र मोदी जी ने 22 लोगों की जेब में डाल दिया। हमने कर्जामाफी की थी, 70 हजार करोड़ रुपए की, 24 साल अगर कर्जामाफी हो, तो उतना पैसा नरेन्द्र मोदी जी ने 22 लोगों का कर्जा माफ किया है।

राहुल गांधी ने कहा कि अब सवाल उठता है कि कांग्रेस पार्टी और इंडिया गठबंधन क्या करेगी? मैं आपको आज, अमेठी की जनता को, माताओं- बहनों को ये बताने आया हूँ, भाइयों और बहनों, अगर वो 22 अरबपति बना सकते हैं, तो हम लोग, खरगे जी, राहुल गांधी, अखिलेश यादव, हम करोड़ों लखपति बना सकते हैं। अमेठी के गरीब लोगों से कह रहा हूं, अच्छी तरह सुनिए- 4 जून, अमेठी के सारे के सारे गरीब लोगों की लिस्ट बनेगी, उत्तर प्रदेश के गरीब लोगों  की लिस्ट बनेगी, हर प्रदेश के गरीब लोगों की लिस्ट बनेगी, 4 जून को।

4 जून, लिस्ट बनेगी, हर गरीब परिवार में से अमेठी के हर गरीब परिवार में से एक महिला का नाम चुना जाएगा, एक महिला का नाम अमेठी के हर गरीब परिवार में से चुना जाएगा, वैसा ही जैसे अमेठी में होगा, वैसे ही पूरे हिंदुस्तान में होगा और फिर 5 जून को हम कानून बना देंगे, भाईयो और बहनो, अमेठी के हर गरीब परिवार में एक महिला चुनी जाएगी, उसके बैंक अकाउंट में साल का 10 हजार नहीं, 50 हजार नहीं, 70 हजार नहीं, 80 हजार नहीं, 90 हजार नहीं, साल का 1 लाख रुपया बैंक अकाउंट के अंदर।

4 जुलाई- 8,500 रुपए बैंक अकाउंट के अंदर; 4 अगस्त- 8,500 रुपए, हर महीने पहली तारीख, खटाखट, खटाखट, खटाखट, खटाखट अंदर,  मीडिया वाले जो बोलना चाहते हैं, बोलो, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता और मैं बता रहा हूँ, ज्यादा बोला तो, 1 लाख नहीं, 2 लाख कर देंगे। मैं तंग आ गया हूँ, 24 घंटे मीडिया वाले अमीरों की बात करते हैं, अंबानी की शादी दिखाते हैं, 8 करोड़ की घड़ी दिखाते हैं और गरीबों की बात कभी नहीं करते, इसलिए 1 लाख रुपए हर गरीब परिवार के बैंक अकाउंट में साल का, 8,500 रुपए खटाखट, खटाखट, खटाखट, महीने का अंदर।

राहुल गांधी ने कहा कि नरेन्द्र मोदी जी ने किसानों का कर्जा माफ नहीं किया, अमेठी के सारे के सारे गरीब किसानों का कर्जा माफ करके हम दिखाएंगे। अमेठी में, उत्तर प्रदेश में आपको सही दाम नहीं मिलता, किसानों को अनाज के लिए, शुगरकेन के लिए, आलू के लिए, गन्ने के लिए सही दाम नहीं मिलता, मार्केट में जाओ, कुछ भी खरीदो उसका सही दाम मिलता है, चिप्स का पैकेट खरीदो, उस पर प्राइस लिखी होती है, मगर जब किसान अपनी मेहनत का अनाज, शुगरकेन बेचना चाहता है, तो उसे कहा जाता है- भईया, तुम्हें सही पैसे नहीं मिलेंगे, सही दाम नहीं मिलेगा, इसलिए अमेठी के सारे के सारे किसानों अच्छी तरह सुनो, 4 जून के बाद कानूनी मिनिमम सपोर्ट प्राइस आपको मिलेगा। आपकी मेहनत का सही पैसा आपको हिंदुस्तान की सरकार, इंडिया की सरकार देगी।यहां पर बंद कर रखा है, कम से कम लोगों को देते हैं, हम फिर से मनरेगा अच्छी तरह चालू करेंगे और 250 रुपए नहीं, 400 रुपए मनरेगा के लिए आपको मिलेगा। आशा और आंगनबाड़ी की महिलाएं, जो अमेठी में अलग-अलग काम करती हैं, मैं जानता हूँ, आपने मुझे बताया था कि आपको सही पैसा नहीं मिलता है, 4 जून, आपकी आमदनी हम दोगुनी करने जा रहे हैं। जो आपको आज मिल रहा है, दोगुना आपको 4 जून के बाद मिलेगा।

राहुल गांधी ने अमेठी के विकास को उपेक्षित करने पर नरेंद्र मोदी को घेरा और कहा कि नरेन्द्र मोदी जी ने यहां अमेठी की जनता पर आक्रमण किया। हम फूड पार्क लाए थे, फूड पार्क से अमेठी बदल जाती, 40 अलग-अलग कारखाने लगते, यहाँ पर चिप्स के कारखाने, अचार के कारखाने, टोमैटो कैचप के, फूड प्रोसेसिंग के सारे के सारे कारखाने लगते, नरेन्द्र मोदी जी ने वो आपसे छीना। फूड पार्क आपको रोजगार देता, फूड पार्क लाखों लोगों को यहां पर रोजगार देता, उनकी जिंदगी बदलता, नरेन्द्र मोदी जी ने फूड पार्क छीन लिया।

ट्रिपल आईटी छीन लिया, जो भी हमने यहां दिया, वो नरेन्द्र मोदी जी ने छीनने की कोशिश की। बहुत काम किया यहां पर हमने, यहां पर नेशनल हाईवे का जाल मैंने फैलाया, हर कोने में हमने नेशनल हाईवे अमेठी में फैलाया, अमेठी को बाकी हिंदुस्तान से जोड़ा, पेट्रोलियम इंस्टीट्यूट, राष्ट्रीय उड़ान अकेडमी, एचएएल, बीएचईएल, सीआरपीएफ ट्रेनिंग कैंप, कार्बाइड वाली फैक्ट्री, जिसके बारे में मैं आपको बताऊँगा। कार्बाइड वाली फैक्ट्री, जिसका कॉन्ट्रैक्ट नरेन्द्र मोदी जी ने कैंसिल किया, अडानी जी की मदद करने के लिए, वो भी आपके हाथ से इन्होंने छीना।तो एक बात तो मैं आपसे कह रहा हूं, इंडिया की सरकार बनेगी, गारंटी करके कह रहा हूँ, फूड पार्क यहाँ लगेगा, मैं लगाऊँगा और वो शुरुआत है भाइयो और बहनो।

हमने महिलाओं की बात की, अब मैं युवाओं से कहना चाहता हूँ, अमेठी के युवाओं से कहना चाहता हूँ, यहाँ पर आप पहले सुबह 5 बजे दौड़ते थे, सेना में जाने के लिए दौड़ते थे, नरेन्द्र मोदी जी ने जवानों को मजदूर बनाया। हिंदुस्तान की हिस्ट्री में पहली बार जवानों को नरेंद्र मोदी जी ने अग्निवीर योजना के माध्यम से मजदूर बनाया, उनको तीन साल के बाद बाहर कर देंगे। दो अलग-अलग तरीके के शहीद, एक को शहीद का दर्जा मिलेगा, दूसरे को नहीं मिलेगा। एक को पेंशन मिलेगी, दूसरे को नहीं मिलेगी और अगर आप आज देखें, जो लोग पहले सड़कों पर दौड़ते थे, वो आज नहीं दौड़ते हैं, क्योंकि वो अग्निवीर नहीं बनना चाहते हैं, वो नॉर्मल जवान बनना चाहते हैं। मैं आपसे कह रहा हूँ, जैसे ही सरकार बनेगी, अगर 4 जून को बनी, 4 जून को अग्निवीर को उठाकर हम कूड़ेदान में फेंक देंगे और एक ही तरीके का शहीद होगा, सबको पेंशन मिलेगी, सबको कैंटीन की सुविधा मिलेगी, सबको इज़्ज़त मिलेगी, सबको मेडल मिलेगा।भाईयो और बहनो, अग्निवीर सेना को नहीं चाहिए था। अग्निवीर नरेन्द्र मोदी जी ने अडानी की मदद करने के लिए सेना पर थोपा है, ये सेना नहीं चाहता, इसलिए हम अग्निवीर योजना को कैंसिल कर रहे हैं, खत्म कर रहे हैं।

अब अमेठी में लाखों युवा हैं, जिनको नरेन्द्र मोदी जी ने बेरोजगार बनाया, नोटबंदी की, गलत जीएसटी लागू की और आपको सड़क पर खड़ा कर दिया और जब आपने रोजगार मांगा, नरेन्द्र मोदी जी ने कहा- अमेठी के युवाओं, नाले में पाइप डालो, गैस निकलेगी, गैस से चूल्हा जलाओ, पकौड़े बनाओ। ये आपका अपमान है। अमेठी के हर युवा का अपमान है। भाईयो और बहनो, हम अमेठी के युवाओं को, हिंदुस्तान के युवाओं को एक अधिकार देने जा रहे हैं- ‘पहली नौकरी पक्की’ का अधिकार। बेरोजगार युवा, डिप्लोमा होल्डर्स, युनिवर्सिटी ग्रेजुएट्स, कॉलेज ग्रेजुएट्स, इन सबको ये अधिकार मिलेगा, पब्लिक सेक्टर में, प्राइवेट सेक्टर में, सरकारी अस्पतालों में, सरकार कॉलेजेस- यूनिवर्सिटीज में, सरकार ऑफिसेज़ में एक साल की पक्की नौकरी मिलेगी, बेहतरीन ट्रेनिंग मिलेगी और बैंक अकाउंट में महीने का 8,500 रुपए खटाखट, खटाखट, खटाखट, खटाखट। साल का 1 लाख रुपया हिंदुस्तान के बेरोजगार युवाओं को पहली नौकरी पक्की स्कीम में हम देने जा रहे हैं। अमेठी में लाखों युवाओं को फायदा होगा।

भाईयो और बहनो, आपके बैंक अकाउंट में लाखों रुपए आएंगे, महिलाओं के बैंक अकाउंट में आएंगे, युवाओं के बैंक अकाउंट में आएंगे, किसानों के बैंक अकाउंट में आएंगे। नरेंद्र मोदी जी ने आपकी जेब में से पैसा निकाला, अडानी की जेब में डाला, सारी की सारी दुकानें बंद हो गईं, फैक्ट्रियां बंद हो गईं, नोटबंदी उन्होंने की, महंगाई बढ़ गई। अब हमने आपकी जेब में पैसा जैसे ही डाला, आप इस पैसे से माल खरीदोगे, कोई शर्ट खरीदेगा, कोई पैंट खरीदेगा, कोई मोबाइल फोन खरीदेगा, युवा मोबाइल फोन खरीदेंगे, स्कूटर खरीदेंगे, मोटर साइकिल खरीदेंगे, जैसे ही आपका पैसा मार्केट में जाएगा, वैसे ही हिंदुस्तान की सारी की सारी कंपनियां एक बार फिर चालू हो जाएंगी और उन्हीं कंपनियों में हिंदुस्तान के करोड़ों युवाओं को रोजगार मिलेगा और हम पहली नौकरी पक्की स्कीम में उनकी एक साल की ट्रेनिंग भी करवाएंगे। तो एक प्रकार से हम हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को जंप स्टार्ट कर रहे हैं। जैसे मोटर साइकिल के इंजन में पेट्रोल डाला जाता है, वैसे ही हम आपकी जेब में पैसा डालकर हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था में पेट्रोल डाल रहे हैं, जंप स्टार्ट करने की तैयारी कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने अमेठी प्रत्याशी किशोरी लाल शर्मा के बारे में बोलते हुए कहा भाईयो और बहनो, एक बात मैं आपसे कहना चाहता हूँ, देखिए, किशोरी लाल शर्मा जी, ये आपके लिए 40 सालों से ज्यादा से काम कर रहे हैं। मैं आपको बताना चाहता हूँ, इनके साथ पापा ने, मेरे पिता जी ने 150 कॉर्डिनेटर बनाए थे, 150 राजीव गांधी जी ने कॉर्डिनेटर बनाए थे, उसमें किशोरी लाल शर्मा जी थे और उसमें 150 और अलग-अलग लोग थे। किशोरी जी ने अमेठी में काम किया, आपके लिए काम किया, मगर अगर आप उन बाकी कोऑर्डिनेटर को देखो, तो कोई पीसीसी प्रेसिडेंट बना, कोई मंत्री बना, कोई एमएलए बना, अलग-अलग स्टेट्स में, ये सारे के सारे लोग, कहीं एमपी बने, कहीं एमएलए बने, कहीं पीसीसी प्रेसिडेंट बने, इन्होंने स्टेट चलाए, मगर किशोरी जी ने 40 साल अमेठी की जनता के लिए दिए हैं। इन्होंने आपके लिए सेक्रिफाइस ( त्याग )किया है, मैं आपको बता रहा हूँ। इन्होंने अपना राजनीतिक कैरियर अमेठी के लिए सैक्रिफाइस किया है, अपना खून-पसीना अमेठी को दिया है। इनको आप एमपी बनाइए, मैं आपको दिल से कह रहा हूँ, अमेठी की जनता को कह रहा हूँ, मेरा आपके साथ गहरा रिश्ता है, आप इनको एमपी बनाइए, ये लोकसभा में आपकी आवाज रखेंगे। इनमें कोई अहंकार नहीं है। अहंकार से नुकसान होता है, अहंकार से अमेठी का बहुत जबरदस्त नुकसान हुआ है, इनमें जरा सा भी अहंकार नहीं है, ये कांग्रेस पार्टी के वर्कर थे, अब लीडर हैं, ये आपके मेम्बर ऑफ पार्लियामेंट बनेंगे, दिल से आपके लिए काम करेंगे, खून-पसीना आपको देकर काम करेंगे।

मगर ये भी कहना पड़ेगा, ये आपके एमपी हैं, मैं रायबरेली का एमपी होऊंगा, मगर मैं भी अमेठी का एमपी होऊँगा।  आप ये मत सोचो, मैं आपको बता रहा हूँ, जो भी रायबरेली के लिए होगा, लिख लो आप, जो भी रायबरेली के लिए होगा, वही एग्जैक्ट चीज अमेठी के लिए होगी। अगर 10 रुपए विकास के लिए रायबरेली जाएंगे, तो 10 रुपए विकास के लिए अमेठी आएंगे। अगर 500 करोड़ रुपए आए, हजार करोड़ रुपए आए, हाईवे आए, इंफ्रास्ट्रक्चर आए, पुल आए, जो भी आएगा, राहुल गांधी आपको वायदा कर रहा है, जो भी रायबरेली में आएगा, उतना ही अमेठी में आएगा।

राहुल गांधी ने अमेठी के लोगों को अपनेपन का प्यार उड़ेलते हुए कहा कि मैं आपसे कहना चाहता था। दिल से मैं जुड़ा हूँ, मैं आपका हूँ और जो भी आप मुझसे चाहेंगे, हमारी सरकार बनेगी, आपको मिलेगा, मैं दिल से आपको कह रहा हूँ। बीजेपी ने भाईयो और बहनो, अमेठी का नुकसान किया है। आपसे फूड पार्क छीना, ये जो एके-47 की फैक्ट्री थी, उसका कॉन्ट्रैक्ट छीना, पब्लिक सेक्टर की जो फैक्ट्री थी, उनको प्राईवेटाइज कर रहे हैं, रेलवे को प्राईवेटाइज कर रहे हैं, आरक्षण छीनने की कोशिश कर रहे हैं, कॉन्स्टिट्यूशन को रद्द करने की कोशिश कर रहे हैं, वो सब है, मगर अमेठी को इन्होंने नुकसान पहुंचाया है, आपकी इमेज को नुकसान पहुंचाया है।हम चाहते हैं कि अमेठी चमकता हुआ सितारा हो, पूरी दुनिया में आपका नाम हो और जो पहले विकास होता था, वही विकास एक बार फिर अमेठी में हो। फूड पार्क छीन लिया, नौकरियां छीन लीं। राहुल गांधी ने अमेठी की जनता से अपील की कि किशोरी जी को जिताइए, भारी बहुमत से, कम से कम 4-5 लाख से किशोरी जी को जिताइए और मैं आपके साथ हूँ, जो रायबरेली के लिए होगा, वो अमेठी के लिए होगा। जितना मैं रायबरेली के लिए करूँगा, उतना ही मैं अमेठी के लिए करूँगा। आप हमारे हो, आप मेरे हो, परिवार का रिश्ता है, पुराना रिश्ता है, दिल से आपका धन्यवाद। अमेठी में सिलेंडर वाले लोग सरेंडर हो गए