भाजपा सरकार में अधिकारियों का राजनीतिकरण-अखिलेश

139
सपा का पीडीए फ़ार्मूला भाजपा पर भारी
सपा का पीडीए फ़ार्मूला भाजपा पर भारी

राजेन्द्र चौधरी


समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, सपा सुप्रीम पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता विरोधी दल अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार ने अधिकारियों का राजनीतिकरण कर दिया है। बड़ी संख्या में अधिकारी भाजपा कार्यकर्ता बन कर काम कर रहे हैं। अधिकारियों ने वोटर लिस्ट से लेकर मतगणना तक में हस्तक्षेप किया।श्री यादव ने कहा कि मैनपुरी और बेवर ही नहीं पूरे उत्तर प्रदेश में सीडीओ व अन्य अधिकारियों द्वारा चुनाव नतीजे बदले जाने की खबर से जनाक्रोश है। इसका तुरन्त संज्ञान लिया जाय। ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों का निलम्बन किया जाय। साथ ही फास्ट टैªक जांच कर नौकरी से बाहर किया जाए। समाजवादी पार्टी इन भ्रष्ट अधिकारियों की फोटो और नाम की लिस्ट देगी। भाजपा सरकार में अधिकारियों का राजनीतिकरण-अखिलेश


अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार की बेईमानी और मनमानी के खिलाफ समाजवादी पार्टी ईमानदार अधिकारियों के साथ है। उन्होंने कहा कि भाजपा की केन्द्र में नौ साल से सरकार है, जनता के बुनियादी मुद्दें महंगाई, बेरोजगारी, किसानों की समस्याएं और बढ़ गई। भाजपा सरकार में महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार चरम पर है। किसानों के गेहूं की खरीद नहीं हुई। उनकी फसलों का सही मूल्य नहीं मिला।


अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा जब हारने लगती है तो कुछ दलों को आगे करके लड़ाई लड़ती है। निकाय चुनाव के परिणाम के बाद आए डाटा से यह स्पष्ट है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी आम जनता के हितों, लोकतंत्र और संविधान बचाने की लड़ाई लड़ रही है। भाजपा सरकार ने लोकतंत्र की हत्या कर दी है। समाजवादी पार्टी को हराने के लिए हर तरह के हथकंडे अपनाए। उसके बावजूद संगठन की ताकत से समाजवादी पार्टी का नगर पंचायतों और नगर पालिका में प्रदर्शन 2017 के मुकाबले काफी शानदार रहा। भाजपा ने हर गलत तरीके से चुनाव को प्रभावित किया फिर भी समाजवादी पार्टी और अन्य ने मिलकर समेकित रूप से भाजपा से कहीं बेहतर प्रदर्शन किया।


भाजपा चुनावों में लगातार बेईमानी कर रही है। जब जनता आवाज उठाती है तो सरकार पुलिस को आगे कर देती है। झूठे मुकदमे लगाए जाते हैं, दबाव बनाया जाता है। मैनपुरी की आम जनता ने बताया कि लोकतंत्र में इतनी लूट, बेईमानी और अधिकारियों का ऐसा दबाव कभी नहीं देखा गया। अधिकारियों से न्याय की उम्मीद की जाती है लेकिन अगर अधिकारी ही बेईमानी पर आ जाए तो फिर जनता न्याय किससे मांगेगी…? मैनपुरी में लोग बता रहे हैं कि सीडीओ ने बेवर का परिणाम बदला। बेवर और मैनपुरी का परिणाम समाजवादी पार्टी के पक्ष में था लेकिन अधिकारियों ने बदल कर हरा दिया। भाजपा सरकार में अधिकारियों का राजनीतिकरण-अखिलेश