September 23, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

गरीब,बेवा,बूढ़ी,बेसहारा महिला को नही मिला आवास

गरीब,बेवा,बूढ़ी,बेसहारा महिला को नही मिला सरकारी आवास योजना का लाभ।

अब्दुल जब्बार एडवोकेट

अयोध्या/भेलसर। मेरे बुढ़ापे का सहारा कोई नही साहब,रहने के लिए घर नही,एक कमरा ही बनवा दो साहब यह कहना है रुदौली तहसील अंतर्गत थाना मवई क्षेत्र के ग्राम बड़का गणेश पुर पोस्ट माथा नेवादा के गांव की एक ऐसी महिला सुनीता मौर्य का जो विधवा है।इसके बुढ़ापे का कोई सहारा नही है और महिला गरीब और असहाय है महिला बहुत ही कुरूप है एक आंख तो ठीक ठाक हैं पर दूसरी आंख की साइड बचपन में लकड़बग्घा ने वार कर दिया था जिससे वे कुरूप हो गयी थी।

शासन प्रशासन से भी इन्हें कोई मदद नहीं मिली इस महिला की सिर्फ विधवा पेंशन ही बनी हुई है और महिला को कोई भी सरकारी लाभ नही मिला।एक महीने से इंतजाम करने पर महिला गांव में मेहनत मजदूरी करके घास फूस के छप्पर छवा रही है।उसी के नीचे जीवन यापन करने को मजबूर हैं।आने जाने के लिए रास्ते भी साफ नहीं है।ग्राम वासियों के मदद से छप्पर छाया जा रहा है।विधवा महिला सुनीता मौर्या प्रधान मंत्री आवास के लिए शासन प्रशासन व समाज सेवियों से मदद की गुहार लगा रही है।इस मामले में मवई विकास खंड अधिकारी से बात करने पर बताया कि लिखित में एप्लीकेशन मिलने पर जांच कराई जाएगी।पात्र पाए जाने पर कार्यवाही की जाएगी।