मऊ में जन कल्याणकारी कार्यक्रमों का हुआ आयोजन

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में मऊ जनपद में कई जन कल्याणकारी कार्यक्रमों का हुआ आयोजनमंडलायुक्त एवं जिलाधिकारी के नेतृत्व में हुए प्रयासों को सराहा

लखनऊ/मऊ।   जनपद मऊ में मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में कई जन कल्याणकारी योजनाओं से सम्बंधित कार्यक्रमों का आयोजन हुआ।जनपद के फतेहपुर मंडाव विकासखंड में स्थित पहाड़ीपुर खिरिया गांव में निर्मित अमृत सरोवर, प्राथमिक विद्यालय एवं आंगनवाड़ी केंद्र में हुए पुनरुद्धार कार्यों का लोकार्पण, गांधी इंटर कॉलेज के निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं मेगा ऋण शिविर में लाभार्थियों को चेक वितरण का कार्य मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र द्वारा किया गया।उन्होंने कहा कि केंद्र द्वारा चलाई जा रही कई योजनाओं में प्रदेश प्रथम स्थान पर है। जनपद मऊ में भी उद्योग की संभावना को देखते हुए लोगों को प्रशिक्षित करने एवं उनमें उद्यमिता का भाव उत्पन्न कर जनपद को आगे ले जाने की आवश्यकता है। विशेष तौर पर पकड़ी ताल में कमल के पुष्प एवं मत्स्य पालन के लिए बड़ी संभावना को देखते हुए इस पर कार्य करने को जोर दिया। 

        पहाड़ीपुर खिरिया गांव में अमृत सरोवर योजना के तहत निर्मित शहीद शिवधन सरोवर का निरीक्षण मुख्य सचिव द्वारा किया गया। निर्माण कार्यों की सराहना करते हुए मुख्य सचिव ने डी0एफ0ओ0 को तालाब के चारों तरफ पौधे लगाने एवं इसके सुंदरीकरण हेतु विभिन्न प्रकार के फूल एवं पौधों लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने तालाब के बीच में पत्थर के खंभे को स्थापित करने एवं उस पर माप के पैमाने अंकित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने ग्राम प्रधान, सचिव एवं प्रधानाध्यापिका को स्वतंत्रता सप्ताह, 11 अगस्त से 17 अगस्त के दौरान प्रतिदिन भव्य झंडारोहण कराने के भी निर्देश दिए। इस दौरान तालाब के किनारे पड़े खाली जगह पर मुख्य सचिव के अलावा मंडलायुक्त विजय विश्वास पंत, डी0आई0जी0 अखिलेश कुमार, जिलाधिकारी अरुण कुमार, पुलिस अधीक्षक अविनाश पांडे, मुख्य विकास अधिकारी राम सिंह वर्मा के साथ ही मुख्य सचिव की बड़ी बहन ने भी पौधारोपण किया। 

        इसके उपरांत गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) एवं आंगनवाड़ी केंद्र में कराए गए पुनरुद्धार कार्य का भी मुख्य सचिव द्वारा निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होंने प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में पौधारोपण का कार्य भी किया। उन्होंने विद्यालय परिसर में लगाए गए विभिन्न स्टालों का अवलोकन कर बच्चों एवं शिक्षकों को इनके प्रयासों के लिए बधाई दी। इस दौरान उन्होंने वहां उपस्थित लोगों को संबोधित भी किया।  अपने पुराने दिनों को याद करते हुए अपने दिवंगत गुरुजनों को श्रद्धांजलि देते हुए अन्य गुरुजनों का अपनी सफलता के लिए आभार प्रकट किया। विशेष तौर पर कक्षा 5 के दौरान उनके अध्यापक रहे श्री मिश्री लाल जी का आभार प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि आज जो भी संस्कार मिला है,वह सब उन्हीं की देन है, उन्होंने ही हमें ऐसे सवारा जिससे हम आज इस जगह पर हैं। उन्होंने अपने सहपाठियों को भी संबोधन के दौरान याद किया, साथ ही प्रधानाध्यापिका सना कमर को भी प्राथमिक विद्यालय के सजाने एवं सवारने में विशेष रूचि लेने पर बधाई दी। 

        मुख्य सचिव ने स्कूल एवं आंगनवाड़ी भवन के पुनरुद्धार कार्य में पीडब्ल्यूडी 3एम0के0 को धन्यवाद देते हुए स्मार्ट क्लास के लिए डिजिटल व्यवस्था करने पर एक्सिस बैंक को भी धन्यवाद दिया। अपने संबोधन के दौरान उन्होंने मंडलायुक्त, जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी को उनके अच्छे नेतृत्व से इस कार्य को पूर्ण कराने के लिए धन्यवाद कहा। साथ ही उन सभी विभागों को जिन्होंने सहयोग दिया उनको भी धन्यवाद दिया।उन्होंने उपस्थित सभी शिक्षकों को बच्चों के भविष्य को संवारने को कहा एवं सभी अभिभावकों से अपील की कि वह अपने बच्चों को स्कूल जरूर भेजें।  गांधी इंटर कॉलेज में आयोजित समारोह में भाग लेने के दौरान मुख्य सचिव ने कॉलेज के संस्थापक कन्हैयालाल मिश्र जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्जित किया। साथ ही कालेज में नवनिर्मित बालक- बालिका शौचालय, मुख्य गेट अमृतद्वार एवं वाटर कूलर का भी लोकार्पण किया। मुख्य सचिव ने अमृत स्थापना दिवस समारोह का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया, साथ ही कालेज की वार्षिक पत्रिका का विमोचन भी किया। 

        शहर मुख्यालय स्थित आर0एस0 पैलेस में आयोजित मेगा ऋण शिविर का भी शुभारंभ मुख्य सचिव  द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया। इस दौरान उन्होंने विभिन्न लाभार्थियों को चेक वितरण भी किया। इस मौके पर संबोधन के दौरान उन्होंने 109 करोड़ से ज्यादा का ऋण बांटने पर खुशी जाहिर करते हुए सभी बैंकर्स को धन्यवाद दिया। मुख्य सचिव ने बताया कि पूरे प्रदेश में सी0 &डी0 अनुपात 53% है, जबकि मऊ में मात्र 32% है। इसका मुख्य कारण लोगों में उद्यमिता की कमी या प्रशिक्षण की कमी होना बताया, साथ ही उन्होंने जनपद मऊ में इस वित्तीय वर्ष में 40% सी0 & डी0 अनुपात एवं अगले 3 सालों में 60% से ऊपर ले जाने के प्रयास करने को कहा।

        मुख्य सचिव ने कहा कि अभी हमारा देश विकासशील है, लेकिन जिस प्रकार से देश विकास के नए पथ पर अग्रसर हो रहा है, हम शीघ्र ही विकसित देशों में शामिल हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारे देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था का ही यह परिणाम है कि एक आम आदमी भी देश के सर्वोच्च पदों पर जा सकता है। उन्होंने ऋण लेने वालों को शुभकामनाएं देते हुए ईमानदारी से कार्य कर अपने रोजगार को बढ़ाने को कहा, जिससे उन्हें अपने कार्य में सफलता मिले। उन्होंने सभी बैंकों के उच्च अधिकारियों को धन्यवाद देते हुए ऋण जमा अनुपात में और सुधार करने को कहा। जिससे जनपद मऊ में रोजगार की वृद्धि एवं सबका विकास हो।