योगी सरकार बुनकरों के साथ-राकेश सचान

मुख्यमंत्री के निर्देश पर हथकरघा मंत्री ने बुनकरों की समस्याओं के त्वरित समाधान हेतु बुनकर संगठनों के साथ की बैठक ।
 

लखनऊ। हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग मंत्री राकेश सचान ने कहा कि योगी सरकार बुनकरों के साथ खड़ी है। राज्य सरकार अपने संसाधनों को दृष्टिगत रखते हुए बुनकरों की मांग के अनुसार विद्युत दर में छूट उपलब्ध कराये पर विचार कर रही है। शीघ्र ही इस पर निर्णय लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने बुनकरों से जो भी वायदा किया है, उसको हर हाल में पूरा किया जायेगा।सचान ने यह विचार आज खादी भवन में एमएलसी अशोक धवन एवं विधायक रफीक अंसारी के नेतृत्व में आये सैकड़ांे बुनकरों के साथ बैठक में व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए है कि प्रदेश में बुनकरों की समस्याओं के त्वरित समाधान किया जाय। बुनकरों के साथ बैठक करें और उनसे प्राप्त सुझाव एवं प्रस्ताव के अनुसार कार्य योजना तैयार कर प्रस्तुति की जाय। इसी कड़ी में बुनकर संगठनों के साथ आज बैठक आयोजित की गई है। उन्होंने कहा प्रदेश में हथकरघा उद्योग को बढ़ावा देने के लिए बुनकरों से प्राप्त सुझाव पर शीघ्र ही निर्णय लिया जायेगा।


     अपर मुख्य सचिव, हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग डा0 नवनीत सहगल ने कहा कि राज्य सरकार बुनकरों के प्रति बेहद संवेदनशील है। बुनकरों को कच्चा माल खरीदने में आने वाली वित्तीय कठिनाई को दूर करने के लिए शीघ्र ही रिवाल्विंग फण्ड नाम से योजना लाई जायेगी। इससे बुनकरों को आसानी से पूंजी उपलब्ध होगी। इसके साथ वाराणसी जनपद में शीघ्रही सिल्क एक्चेंज भी शुरू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि बुनकरों की सुविधा हेतु जल्द ही नई वस्त्रोद्योग नीति प्रख्यापित की जायेगी। साथ ही प्रदेश में सोलर लूम को बढ़ावा दिया जायेगा। सोलरलूम लगाने वाले बुनकरों को सब्सिडी भी दी जायेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना एवं रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद पूरी दुनिया में कपड़ों के उत्पादन में कमी आई है। इसको देखते हुए एक्सपोर्ट पर सब्सिडी बढ़ाई गई है। इसके फलस्वरूप वित्तीय वर्ष में एक लाख 56 हजार करोड़ रुपये मूल्य के उत्पादों का निर्यात हुआ है। बैठक में आयुक्त निदेशक उद्योग मनीष चौहान सहित वरिष्ठ विभागीय अधिकारी मौजूद थे।