भारत सरकार द्वारा सी.एम.एस. के 9 छात्रों को 41 लाख रूपये की स्कॉलरशिप


लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के 9 मेधावी छात्रों ने इस वर्ष भारत सरकार की किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (के.वी.पी.वाई फेलोशिप) हेतु चयनित होकर लखनऊ का नाम पूरे देश में गौरवान्वित किया है। इन सभी 9 छात्रों को पाँच वर्षों की उच्चशिक्षा अवधि के दौरान कुल मिलाकर 41,76,000 रूपये (इकतालिस लाख छिहत्तर हजार रूपये) की स्कॉलरशिप भारत सरकार द्वारा प्रदान की जायेगी। इस प्रतिष्ठित फेलोशिप हेतु चयनित सी.एम.एस. छात्रों में सहर्ष सक्सेना, विदेह झा, आदित्य जायसवाल, आर्यशी त्रिपाठी, देवांश बंसल, कनिष्क, कुमार यशस्वी, नमन मिश्रा एवं रोहन चतुर्वेदी शामिल हैं। सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने सी.एम.एस. छात्रों की इस उपलब्धि पर हार्दिक प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर डा. गाँधी ने सी.एम.एस. के शिक्षकों व प्रधानाचार्याओं का भी हार्दिक आभार व्यक्त किया।


के.वी.पी.वाई फेलोशिप हेतु चयनित छात्रों को विज्ञान वर्ग में स्नातक तक की पढ़ाई के दौरान पहले तीन वर्षों तक प्रति माह रू. 5,000/- स्कॉलरशिप तथा आकस्मिक खर्चे के रूप में रू.
20,000/- वार्षिक मिलेगा एवं इसके उपरान्त एम.एस.सी. स्तर की पढ़ाई के दौरान दो वर्षों तक प्रति माह रू. 7,000/- स्कॉलरशिप तथा आकस्मिक खर्चे के रूप में रू. 28,000/- वार्षिक मिलेगा। इस प्रकार पाँच वर्षों की उच्चशिक्षा अवधि के दौरान प्रत्येक छात्र को रु. 4,64,000/- रूपये प्रदान किये जायेंगे जबकि सभी 9 छात्रों को कुल मिलाकर 41,76,000 रूपये की स्कॉलरशिप प्रदान की जायेगी। इस योजना में चयनित छात्र अपना आई.डी. कार्ड दिखाकर देश की किसी भी प्रसिद्ध नेशनल लेबोरेटरी, विश्वविद्यालय, लाइब्रेरी की सुविधा निःशुल्क प्राप्त कर सकता है।