घाघरा नदी में मिला चांदी का शिवलिंग,लोग मान रहे चमत्कार

दोहरीघाट मऊ। सावन का महीना भगवान शिव को अतिप्रिय माना जाता है और इसलिए सावन के महीने में भगवान शिव की पूजा अर्चना का भी विशेष महत्व है।सावन महीने की शुरुआत हो चुकी है और इसी बीच दोहरीघाट कस्बे के रामघाट पर शनिवार को घाघरा नदी में 53 किलो वजन चांदी का शिवलिंग मिलने को लोग चमत्कार मान रहे हैं।शिवलिंग को अलौकिक बताया जा रहा है।प्राप्त सूचना के अनुसार दोहरीघाट कस्बे के भगवानपूरा निवासी राम मिलन साहनी शनिवार को नदी किनारे बर्तन धूल रहे थे।तभी उन्हें नदी में कुछ चमकता हुआ दिखाई दिया।राम मिलन साहनी ने पास जाकर देखा तो चमकती हुई चीज शिवलिंग थी।नदी में चांदी का शिवलिंग मिलने की खबर आस पास के लोगो मे फैलते ही मौके पर लोगो की भीड़ जुट गई।राम मिलन साहनी ने शिवलिंग को नदी से बाहर निकाल कर उसकी विधिवत पूजा पाठ किया।इसके बाद शिवलिंग को दोहरीघाट थाने को सौप दिया।समाचार लिखे जाने तक शिवलिंग थाना में रखा हुआ था।वही स्थानीय लोगो ने इस 53 किलो के चांदी के शिवलिंग की कीमत लगभग 30 हजार रुपए से ऊपर आंकी है।

भक्त शिवलिंग को अलौकिक बताया जा रहा हैं. प्राप्त सूचना के अनुसार दोहरीघाट कस्बे के भगवानपूरा निवासी राम मिलन साहनी शनिवार को नदी किनारे बर्तन धूल रहे थे, तभी उन्हें नदी में कुछ चमकता हुआ दिखाई दिया।राम मिलन साहनी नाम के व्यक्ति ने पास जाकर देखा तो चमकती हुई चीज शिवलिंग थी। नदी में चांदी का शिवलिंग मिलने की खबर आस-पास के लोगों में फैलते ही मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। राम मिलन साहनी ने शिवलिंग को नदी से बाहर निकाल कर शिवलिंग का विधिवत पूजा पाठ किया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि, जांच एंजेसियों को इस शिवलिंग के बारे में सूचना दे दी गई है और जांच के बाद लोगों को शिवलिंग सौंप दिया जाएगा।मऊ के एसपी अविनाश पांडे ने बताया, ‘कुछ लोगों ने घाघरा नदी में एक चमकती हुई वस्तु देखी। वस्तु को बाहर निकालने पर पता चला कि यह एक शिवलिंग है, इसे थाने के मलखाने में सम्मानपूर्वक रखा गया है। विशेष एजेंसियों से इसकी जांच कराई जाएगी।’