सोनिया अउ राहुल केरे जेल जाय की नौबत हय….!

चतुरी चाचा के प्रपंच चबूतरे से …….
या ईडी कौनि बला आय……


नागेन्द्र बहादुर सिंह चौहान

चतुरी चाचा ने प्रपंच का आगाज करते हुए कहा- आजु काल्हि दुनव मोतिन केरी आत्मा छटपटात होई। मोतीलाल नेहरू अउ मोतीलाल बोरा दुनव सरग म परेशान होइहैं। काहे ते दिल्ली म बड़ा बवाल चलि रहा। याक लँग कॉंग्रेस महंगाई अउ बेरोजगारी पय हल्ला मचाय रही। दूसरी लँग कांग्रेस क ईडी लाठी किहे हय। सोनिया अउ उनके पूत राहुल केरे जेल जाय की नौबत हय। नेशनल हेराल्ड, नवजीवन अउ कौमी आवाज़ बन्द भे सालन बीतिगे। मुला, वहिका भूत कांग्रेस का छकाए हय। बतावा जाय रहा कि इटली वाली अम्मा अउ देस क पप्पू करोड़न क्यारु घोटाला किहिन हय। नेशनल हेराल्ड घोटाले म कांग्रेस क कुछु बड़े नेतव शामिल हयँ। सब ते पूछतांछ चलि रही। नेशनल हेराल्ड केरी दिल्ली वाली बिल्डिंगव सीज होइगे। ईडी बड़े पुख्ता सुबूत जुटाइस हय। यहिके पहिले प्रियंका गांधी केरे पति रॉबर्ट बाड्रा का जमीन क हेराफेरी म धरा गवा रहय। कांग्रेस सारा दारोमदार स्वर्गीय मोतीलाल बोरा प छोड़ि दिहिस हय। कुल मिलायक बड़ा मजेदार केसु बनिगा हय।


चतुरी चाचा अपने प्रपंच चबूतरे पर पलथी रमाये थे। मुंशीजी, कासिम चचा, ककुवा व बड़के दद्दा अपना स्थान ग्रहण कर चुके थे। आज सुबह हवा बिल्कुल थम सी गयी थी। आसमान में सफेद बादलों की आवाजाही लगी थी। मौसम उमस भरा था। पुरई बारी-बारी से सबके बेना (पंखा) झल रहे थे। गांव के लड़के कुश्ती लड़ रहे थे। जबकि लड़कियां कबड्डी खेल रही थीं। मेरे चबूतरे पर पहुंचते ही चतुरी चाचा ने बिना किसी भूमिका के प्रपंच शुरू कर दिया। उनका कहना था कि नेशनल हेराल्ड घोटाले की परतें खुलने लगी हैं। यह कांग्रेस खासकर सोनिया गाँधी व राहुल गाँधी को बड़ा महंगा पड़ेगा। हालांकि, कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी और केंद्रीय जाँच एजेंसियों के दुरुपयोग को लेकर सड़क पर उतरी है। पूरा मामला बड़ा दिलचस्प होता जा रहा है। क्योंकि, यंग इंडिया कम्पनी बनाकर करोडों की हेराफेरी की गई है।


ककुवा ने कहा- दुई चार साल ते ईडी क बड़ी चर्चा होय रही। अख़बार अउ टीवी म जबै द्याखाव तबै ईडी केरे छापन केरी खबरें रहती हयँ। मुला, साँच कही तौ हमका ईडी-फिडी केर मतलबय नाइ पता हय। चतुरी भाई, आपका जौ पता होय तौ तनुक ईडी क बारे बताव। हमहुँ तौ जानी या ईडी कौनि बला आय। जिहिते बड़े-बड़े नेतन की, अभिनेतन की, व्यापारिन की फटत हय? इस पर चतुरी चाचा ने बताया- ईडी क्यार मतलब इंफोर्समेन्ट डायरेक्टरेट हय। हिन्दी म यहिका प्रवर्तन निदेशालय कहत हयँ। ईडी गुप्त रूप त काम करत हय। या केंद्रीय संस्था अवैध तरीके ते जोड़ी सम्पत्ति अउ कालेधन पय पैनी नजर रक्खत हय। ईडी फाइनेंस अउ मनी लांड्रिंग ते जुड़े सारे केसन केरी जांच करत हय। यहिकी स्थापना एक मई, 1956 का भारत सरकार किहिस रहय। ईडी फेरा-1973 अउ फेमा-1999 एक्ट केरे तहत जाँच/कार्रवाई करत हय। यहिके पास अवैध सम्पत्ति जब्त करय क अउ अपराधिन का गिरफ्तार करय क पूरा अधिकार रहत हय। इस जानकारी पर ककुवा बहुत खुश हो गए। ककुवा बोले- ईडी का हमहुँ समझि गेन। या का चीज आय। बसि, यहिका दुरुपयोग न कीन जाय।


इसी दौरान चंदू बिटिया परपंचियों के लिए जलपान लेकर आ गई। आज जलपान में मट्ठे वाले चटपटे आलू थे। सबने स्वादिष्ट मट्ठे वाले आलू खाये। फिर कुल्हड़ वाली चाय के साथ प्रपंच आगे बढ़ा।मुंशीजी ने इसी पर कहा- कांग्रेस की लुटिया कांग्रेसियों ने ही डूबा दी है। पूरे भारत पर अखण्ड राज करने वाली कांग्रेस सोनिया के घर में सिमट गई है। सोनिया का जनता से कभी कोई जुड़ाव रहा नहीं। राहुल बाबा को जनता ने नकार दिया है। प्रियंका गांधी कांग्रेस में हवा भरने की बड़ी कोशिश की है, किन्तु उनके पति के कृत्यों से जनता वाकिफ है। इसलिए प्रियंका भी फेल होती दिखाई पड़ रही हैं। कभी आम जनमानस ने प्रियंका में इंदिरा गांधी की छवि देखी थी। तब सोनिया ने पुत्रमोह में फंस कर प्रियंका को जनता के बीच जाने नहीं दिया। कुल मिलाकर अब कांग्रेस की स्थिति दयनीय है। इधर, तमाम अच्छे लोकप्रिय नेता कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम चुके हैं। कुछ कांग्रेसी नेता पार्टी में रहकर सोनिया और राहुल की नीतियों का विरोध कर रहे हैं। मेरे हिसाब से कांग्रेस का भला तभी होगा। जब सोनिया और राहुल कांग्रेस की बागडोर वास्तविक रूप से किसी अच्छे कांग्रेसी नेता को सौंप देंगे।
कासिम चचा ने विषय परिवर्तन करते हुए कहा- वतन की आजादी को 75 साल हो गए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने घर-घर तिरंगा फहराने का आवाहन किया है। भाजपा पूरे देश में “घर-घर तिरंगा अभियान” चला रही है। देश में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। अगस्त लगते ही राष्ट्रभक्ति की हिलोरें मार रही है। देश में जगह-जगह अभी से तिरंगा फहराने लगा है। तिरंगा रैलियां निकल रही हैं। देश की तमाम संस्थाएं तिरंगा अभियान में जुटी हैं। देश आजादी के रण बांकुरों को बड़ी शिद्दत से याद कर रहा है। सबसे खास बात यह है कि 15 अगस्त को लेकर युवाओं में बड़ा जोश है। युवाओं ने सोशल साइट्स को पहले ही तिरंगे से पाट दिया है। अब वह दिन देखने वाला होगा। जब पूरे देश में हर घर पर अपना तिरंगा लहराता दिखाई देगा।


बड़के दद्दा ने कहा- भारत अब बहुत आगे बढ़ चुका है। विश्व पटल पर भारत की धाक जम गई है। संसार के बड़े-बड़े शक्तिशाली और विकसित देश भी भारत को आशा भरी नजरों से देख रहे हैं। यह भारतीयों के कौशल और परिश्रम से सम्भव हो सका है। इसमें सबसे बड़ी भूमिका युवाओं की है। भारत की इस बदली तस्वीर का श्रेय प्रधानमंत्री मोदी को भी जाता है। बस, भारत किसी तरह आतंकवाद से मुक्ति पा जाए। इसके लिए मुस्लिम समाज को अहम भूमिका निभानी होगी। मुस्लिम समाज को अपने बच्चों को गुमराह होने से रोकना होगा। मैं यह नहीं कहता कि हर मुसलमान आतंकी है। लेकिन, यह भी कड़वा सच है कि हर आतंकी मुसलमान ही है। यह स्थिति देश के लिए अच्छी नहीं है। मुस्लिम समाज को खुलकर आगे आना होगा। सभी को एकजुट होकर आतंकवाद की खिलाफत करनी होगी। तभी भारत विश्व गुरु बन सकेगा।


मैंने कोरोना अपडेट देते हुए प्रपंचियों को बताया कि विश्व में अब तक करीब 58 करोड़ 79 लाख 34 हजार लोग कोरोना से पीड़ित हो चुके हैं। इनमें 64 लाख 34 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इसी तरह भारत में अब तक चार करोड़ 41 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें पांच लाख 26 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। भारत में अभी तक कोरोना वैक्सीन की 205 करोड़ से अधिक डोज लगाई जा चुकी हैं। देश की 93.4 करोड़ आबादी को कोरोना के दोनों टीके लग चुके हैं। भारत में टीकाकरण अभियान चरम पर है। बूस्टर डोज भी बड़ी तेजी से लगाई जा रही है। भारत ने मुफ्त टीकाकरण का सराहनीय कार्य किया है। तभी यहां कोरोना महामारी नियंत्रण में आई है।अंत में चतुरी चाचा ने रक्षाबंधन पर्व और श्री धनकड़ के उप राष्ट्रपति बनने पर सबको बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। इसी के साथ आज का प्रपंच समाप्त हो गया। मैं अगले रविवार को चतुरी चाचा के प्रपंच चबूतरे पर होने वाली बेबाक बतकही के साथ फिर हाजिर रहूँगा। तबतक के लिए पँचव राम-राम!