भाजपा की कुनीतियों के खिलाफ सपा

राजेन्द्र चौधरी

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि बिना किसान-मजदूर का हित किए कोई विकास नहीं हो सकता है। आज महंगाई की मार सबसे ज्यादा श्रमिकों और समाज के कमजोर वर्ग पर पड़ रही है। भाजपा की प्राथमिकता में पूंजीपतियों का हित साधन है। श्रमिकों के लिए अहितकारी कानून बनाए जा रहे हैं। उनके हक और सम्मान का संघर्ष जारी रखना है।अखिलेश यादव आज समाजवादी पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में लगभग 47 श्रमिक संगठनों, समाज सेवियों, वित्तविहीन माध्यमिक शिक्षकों, घुमंतू तथा लघु एवं मध्यम उद्यमों के श्रमिक प्रतिनिधियों की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी दल द्वारा प्रलोभन एवं सत्ता का बढ़ता दुरूपयोग लोकतंत्र के लिए बड़ी चुनौती है। भाजपा के षडयंत्र अब उजागर होते जा रहे हैं। इससे उम्मीद बंधी है कि सन् 2024 में देश में लोकतंत्र की बहाली होगी।


अखिलेश यादव ने विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी का साथ देने के लिए श्रमिक भाइयों का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी श्रमिकों के साथ है। समाजवादी सरकार में मजदूरों के पक्ष में कई निर्णय लिए गए थे और योजनाएं लागू की गई थी। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों को अनाथ छोड़ दिया गया। भाजपा सरकार ने उनकी कोई मदद नहीं की। पैदल चलते 90 मजदूरों की मौत हुई जो श्रमिक अपने गांव जा रहे थे। श्रमिकों को समाजवादी पार्टी ने मदद दी और प्रत्येक मृतक आश्रित को एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता की थी।श्री यादव ने कहा कि भाजपा का चरित्र अमानवीय है। समाज के कामगार, कमजोर वर्ग और अल्पसंख्यकों के प्रति भाजपा का रवैया संवेदनशून्य है। आज भाजपा अपने कुप्रचार से लोगों को भ्रमित करना अपनी उपलब्धि मानती है। भाजपा की कुनीतियों के खिलाफ समाजवादी पार्टी ही संघर्ष कर रही है। समाजवादी पार्टी समाजवाद, लोकतंत्र और पंथनिरपेक्षता के लिए प्रतिबद्ध है।


समाजवादी पार्टी की आज दर्जनों श्रमिक संगठनों के पदाधिकारियों ने सदस्यता ली और डबल इंजन भाजपा सरकार में श्रमिकों के लगातार शोषण के विरूद्ध संघर्ष का संकल्प जताया। प्रारम्भ में सभी ने भारतीय संविधान की शपथ ली। सभी की राय थी कि अखिलेश यादव के नेतृत्व में ही उत्तर प्रदेश का विकास हो सकता है और न्याय तथा नागरिकों को सुरक्षा मिल सकेगी। उनका कहना था कि श्री अखिलेश यादव ही आज हम सबकी उम्मीद है।


आज के कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री सुवचन राम, सेवानिवृत्त आईआरएस ने तथा संयोजन श्री राजनाथ यादव और श्री शशांक यादव पूर्व एमएलसी ने किया। इस अवसर पर पूर्व कैबिनेट मंत्री श्री राजेन्द्र चौधरी, प्रदेश अध्यक्ष श्री नरेश उत्तम पटेल, पूर्व मंत्री श्री नरेन्द्र वर्मा की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।समाजवादी पार्टी कार्यालय में सर्वश्री शिवराज सिंह यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी श्रमिक ट्रस्ट, शिव उदार सिंह ‘शिवा‘ सिशवा धर्मार्थ ट्रस्ट, वीरेन्द्र सिंह राष्ट्रीय अध्यक्ष आभाष संघ 24 कैरेट, चंद्रदेव से0नि0, कल्याण आयुक्त भारत सरकार, ललिता राजपूत अध्यक्ष समाजवादी असंगठित मजदूर सभा, राम आशीष महामंत्री कोआपरेटिव शुगर मिल वर्कर्स यूनियन, वी.के. राय, राजाराम सेवानिवृत्त एसडीओ, अर्जुन प्रसाद सेवानिवृत्त अधिशासी अभियंता, केशव सेवानिवृत्त अधीक्षण अभियंता, जयचंद सेवानिवृत्त सहायक अभियंता पुनीत राय अध्यक्ष उ0प्र0 विद्युत संविदा मजदूर संगठन, हरदीप सिंह उ0प्र0 इंडस्ट्री एसोसिएशन, तथा शफीकुर्रहमान सेवानिवृत्त तहसीलदार आदि ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली।