सपा का प्रतिनिधिमंडल पारस गुप्ता के घर पहुंचा

राजेंद्र चौधरी

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल समाजवादी व्यापार सभा से जुड़े व्यापारी पारस गुप्ता के घर पहुंचा और पारस की पत्नी मनीषा, बेटी एंजिल, बेटे आरुष, भाई पंकज आदि से मिलकर सांत्वना दिया और न्याय दिलवाने का आश्वासन दिया।पारस की पत्नी श्रीमती मनीषा ने अखिलेश यादव के नाम संबोधित पत्र प्रतिनिधिमंडल को सौंपा। मनीषा गुप्ता ने बताया की 25 मई को पारस की हत्या हुई जबकि 7 दिन पहले 18 मई को ही पारस ने मुख्यमंत्री पोर्टल में शिकायत कर दी थी, पर हरवंश मोहाल पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की।


    पुलिस हत्या के दो महीने बाद तक पारस को गुमशुदा ही बताती रही जबकि 26 मई को ही पारस का शव मिल गया था और 29 मई को ही पारस की अंत्येष्टि लावारिस में कर दी गई थी। पुलिस की लापरवाही, अमानवीयता व संवेदनहीनता की वजह से पारस का शव तक परिजनों को नहीं दिया। मनीषा व बच्चों ने कहा की अखिलेश यादव जी से न्याय की उम्मीद है और वो ही परिवार का सहारा हैं। पारस के भाई पंकज ने कहा की सत्तापक्ष से जुड़े लोग अभियुक्तों को गिरफ्तारी नहीं होने दे रहे।


    विधायक व पूर्व मंत्री मनोज पांडे ने कहा की यूपी में जंगलराज है। पारस गुप्ता के परिवार को न्याय दिलवाया जाएगा। प्रतिनिधिमंडल में विधायक मनोज पांडे, विधायक राहुल लोधी, विधायक श्याम सुंदर, विधायक इरफान सोलंकी, विधायक अमिताभ बाजपई, पूर्व प्रत्याशी व व्यापारी नेता अभिमन्यु गुप्ता व पूर्व नगर अध्यक्ष डॉ इमरान शामिल रहे।