सपा का दीनईमान भी खत्म-DCM

सपा के डीएनए में गुंडागर्दी-माफियागिरी, अब तो दीनईमान भी खत्म। सपा पर उपमुख्यमंत्री ने साधा निशाना प्रदेश की कानून व्यवस्था बिगाड़ने का हक किसी को नहीं।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने समाजवादी पार्टी को फिर से कठघरे में खड़ा किया। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी पार्टी का कोई दीन ईमान नहीं है। वह गुंडो और माफियाओं की पार्टी है। सड़क छाप मवालियों की पार्टी में भरमार है। पार्टी के नेता शराब के अवैध कारोबारियों के परोकार हैं। इसका उदाहरण बीते दिनों आजमगढ़ में देखने को मिला। सपा के नेताओं ने आजमगढ़ जाकर अवैध शराब कारोबारियों से भेंट कर अपने रिश्तें खुद ही उजागर कर दिए हैं।


सपा के पैदल मार्च के बाद हंगामा व अव्यवस्था पर उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को घेरा। कहा समाजवादी पार्टी के नेता भीड़ भाड़ वाले विधानभवन वाले इलाके में अराजकता फैलाने के इरादे से आए हैं। इंटेलीजेंस ने भी कुछ आशंका जाहिर की। भला लोकतंत्र के मंदिर (विधानभवन) में आने से चुने हुए विधायकों को कोई क्यों रोकेगा? सत्र प्रदेश के चहुमुंखी विकास के लिए ही तो शुरू किया गया है। पर, सपा नेताओं ने अव्यवस्था फैलाई। सपा की गुंडागर्दी किसी भी सूरत में नहीं चलने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सपा का नाम अराजकतावादी होना चाहिए। सपा एक समूह है, जो गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त है। सभी दलों के चुने विधायकों का विधानसभा में स्वागत है।

तोड़-फोड़ करने वालों पर होगी कार्रवाई

DCM ब्रजेश पाठक ने आरोप लगाया कि सपा सरकार में गुंडों और माफियाओं के हौसले बुलंद थे। समाजवादी पार्टी कार्यालय के समाने पुलिस की गाड़ी फूंक दी गई थी। इस घटना को अंजाम देने में कौन लोग थे? यह किसी से छिपा नहीं है। हम जनता की गाढ़ी कमाई किसी भी स्थिति में तोड़फोड़ करने वालों के लिए नहं छोड़ेंगे। आम जनता की सम्पत्ति की रक्षा करना भाजपा सरकार का पहला दायित्व है।

सपा का लोकतंत्र पर भरोसा नहीं

ब्रजेश पाठक ने कहा कि सपा ने बार-बार लोकतंत्र का भरोसा तोड़ा है। चुनाव हराने पर उन्हें लगता है ईवीएम गड़बड़ है। उन्हें सिर्फ गुड़ागर्दी और माफियागिरी में ही भरोसा है। आगजनी ही उनके लिए सबकुछ है। यूपी का हर जनमानस विकास और शांति पर भरोसा रखता है।

सपा के डीएनए में गुंडागर्दी

सपा नेता अराजकता पर उतर आए हैं। ब्रजेश पाठक ने कहा सपा के डीएनए में ही गुंडागर्दी, बदमाशी, माफिया और सड़क छाप मावलियों को संरक्षित करना है। सपा माफियाओं से मुहब्बत करती है। इससे अपराधियों का मनोबल बढ़ता है। आज की घटना का जवाब अखिलेश को देना होगा।

हमारा भरोसा विकास पर

भाजपा सरकार का भरोसा सिर्फ और सिर्फ विकास पर है। हमारी सरकार जनता व प्रदेश के चहुमुंखी विकास में जुटी है। आमजनता के जीवनस्तर में सुधार आ रहा है। हाल ही में एक लाख 21 हजार बिजली कनेक्शन दिए गए। प्रधानमंत्री की गरीब कल्याणकारी योजनाएं संजीवनी बन गई है। गरीबों को पक्के घर दिए जा रहे हैं। आराजकता का प्रदेश में कोई स्थान नहीं है।

सदन में अखिलेश यादव ने कहा- आज हालात ये की एंबुलेंस समय पर नहीं पहुंचती, 108 एंबुलेंस के बुरे हाल हैं, गरीब पैसा नहीं दे पाया तो लौटा दिया गया। एक्स-रे जांच के लिए मरीज भटकता है। दवाइयों का जो संकट है वह सरकार पूरा नहीं कर पाई है।अखिलेश यादव ने कहा- जहां-जहां छापे मारे हैं मंत्री जी, आपके जाने के बाद क्या असर हुआ, कभी सोचा है। मैंने एक एम्बुलेंस की तस्वीर लगायी पर मंत्री जी आजकल बहुत स्मार्ट बन रहे हैं ।तुरंत ये सोशल मीडिया पर चला दिया कि समाजवादी पार्टी झूठ बोल रही है।

गर्भवती महिला को इलाज ना मिल पाने के कारण अस्पताल के बाहर प्रसव हो रहा है। मेरी तस्वीर लगाकर के कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री झूठ बोल रहे हैं, बल्कि सरकार सेवाओं की बदहाली पर झूठ बोल रही है। यह सरकार रिकॉर्ड नंबर पर मेडिकल कॉलेज बनाने का दावा कर रह रही है। ये सरकार सब कुछ बदलना चाहती है इसीलिए बजट नहीं दे रही। स्टाफ की कमी है तो भर्ती क्यों नहीं की जा रहे रही, ये सरकार सब प्राइवेट करना चाहती है। योगी ने अखिलेश यादव के आरोपों पर डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक की तरफ से जवाब देते हुए कहा- यूपी में शिशु मृत्यु दर में गिरावट हुई है। नेता प्रतिपक्ष बोलते हुए बहुत बातें भूल गए। जो लोग हॉस्पिटल नहीं पहुंच पाते थे उन्हें हमने पहुंचाया। आज इन्सेफलाइटिस की बीमारी जीरो पर पहुंची है। इस साल गोरखपुर में 40 मामले आए, जिसमे उपचार दिया गया।

सपा सरकार में बच्चे इन्सेफेलाइटिस से मरते थे- योगी

सपा सरकार में प्रभावित जिलों में बच्चे इन्सेफलाइटिस से मरते थे। हजारों बच्चों की मौतों को सपा सरकार ने कभी नहीं स्वीकारा। 40 मामले इस बार आए, मौत जीरो है। गोरखपुर, महाराजगंज, सिद्धार्थ नगर, संत कबीरनगर इस सब क्षेत्रों में बड़ी संख्या में मौत होती थीं। सपा की सरकार दुर्भाग्य से 4 बार थी, लेकिन एक भी बार उनसे मिलने नहीं पहुंचे। योगी के बीच में अखिलेश यादव बोल पड़े तो स्पीकर ने चुप कराया। डबल इंजन की सरकार पर बोले सीएम योगी कहा कि ये डबल इंजन की सरकार का ही परिणाम है कि आज इन्सेफलाइटिस से मौतें जीरो स्तर पर पहुंच गई हैं। इनकी सरकारों में प्रदेश के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बंदी के कगार पर थे। डॉक्टर्स की संख्या ही नहीं थी। आज सरकार के प्रयासों के परिणामस्वरूप एम्बुलेंस के रिस्पॉन्स टाइम में कमी आयी है। एक जिला एक मेडिकल कॉलेज, 59 जनपदों में मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं या बन चुके हैं। शेष 16 जनपदों में मेडिकल कॉलेज के निर्माण के प्रक्रिया चरणबद्ध तरीके से आगे बढ़ रहे हैं।