श्रीलंका के राष्‍ट्रपति राजपक्षे मालदीव भागे

अजय सिंह

श्रीलंका के राष्ट्रपति कोलंबो से भागने में कामयाब,श्रीलंका के राष्ट्रपति भागकर मालदीव पहुंचे,राजपक्षे और उनकी पत्नी ने मालदीव में शरण ली,श्रीलंका एयरफोर्स के विमान से मालदीव पहुंचे राजपक्षे,अमेरिका ने वीजा नहीं दिया,भारत ने भी मना किया,राजपक्षे ने इस्तीफे से पहले भागने की शर्त रखी थी,राजपक्षे के इस्तीफे की आज अंतिम मियाद है,3 नाकाम कोशिशों के बाद आखिर भाग निकले राजपक्षे,श्रीलंका का तानाशाह अब पनाह के लिए गिड़गिड़ा रहा।

राजपक्षे इस्‍तीफे पर दस्‍तखत कर चुके हैं-
बताया जा रहा है कि आव्रजन अधिकारियों के गोटबाया के छोटे भाई और पूर्व वित्त मंत्री बेसिल राजपक्षे के देश छोड़ने पर आपत्ति जताने के बाद राष्ट्रपति हवाईअड्डे के पास स्थित वायुसेना के प्रतिष्ठान में रुके थे। 73 वर्षीय गोटबाया राजपक्षे ने शनिवार को संसद अध्यक्ष को सूचित किया था कि वह 13 जुलाई को इस्तीफा देंगे। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, राजपक्षे ने सोमवार को अपने त्यागपत्र पर दस्तखत कर दिए थे, जिस पर 13 जुलाई की तारीख दर्ज है। रिपोर्ट में कहा गया है कि त्यागपत्र बाद में एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी को सौंप दिया गया, जो इसे संसद के अध्यक्ष तक पहुंचाएंगे।

आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका के राष्‍ट्रपति राजपक्षे देश छोड़कर फरार हो गए हैं। समाचार एजेंसी एएफपी ने श्रीलंकाई अधिकारियों के हवाले से यह खबर दी है। राजपक्षे किस तरह श्रीलंका से भागने में कामयाब रहे, इस बारे में अभी जानकारी नहीं मिल पाई है। आज ही उनके इस्‍तीफे का आधिकारिक ऐलान होना था। कुछ दिन पहले प्रदर्शनकारियों ने राष्‍ट्रपति भवन पर कब्‍जा जमा लिया था। इसके बाद गोटाबाया कहीं अज्ञात स्‍थान पर रह रहे थे। इमिग्रेशन अफसरों ने बताया कि 73 साल के राजपक्षे, उनकी पत्‍नी और बॉडीगार्ड उन चार यात्रियों में शामिल थे जो अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट से उड़ने वाले सैन्‍य विमान एंटोनोव 32 में बैठे थे। अफसरों के मुताबिक, राजपक्षे का विमान पड़ोसी देश मालदीव में उतरा है।