राजस्व संग्रह में निरंतर बेहतर कर रहा है स्टांप पंजीयन विभाग

लखनऊ। स्टांप एवं पंजीयन विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा 2021-2022 की तुलना में 2022-2023 में निरंतर बेहतर प्रदर्शन किया जा रहा है। स्टांप पंजीयन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री रविंद्र जायसवाल ने बताया कि वर्ष 2022-2023 के लिए निर्धारित राजस्व संग्रह लक्ष्य 29692.12 करोड़ रुपए की तुलना में माह मई 2022 तक कुल 3932.75 करोड़ रुपए का संग्रह किया जा चुका है। जोकि गत वर्ष की इसी अवधि में प्राप्त राजस्व 1844.25 करोड़ रुपए के दुगुने से भी अधिक है।


श्री जायसवाल ने बताया कि मई 2022 तक निर्धारित राजस्व संग्रह लक्ष्य 4712.10 करोड़ रुपये के सापेक्ष 3932.75 करोड़ रुपए का संग्रह किया जा चुका है। जोकि निर्धारित लक्ष्य के 83.5 प्रतिशत है। स्टांप पंजीयन मंत्री ने निर्देश दिए हैं कि विभाग शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति के लिए सतत प्रयत्नशील रहे।