राज्य महिला आयोग की सदस्य के बेटे व गनर ने सरे राह दम्पत्ति को जमकर पीटा

भारत सिंह

मुरादाबाद। राज्य महिला आयोग की सदस्य अवनी सिंह के गनर पर एक दंपती से सरेआम मारपीट करने का आरोप है। घटना के कुछ वीडियो सामने आए हैं। इन वीडियोज में अवनी सिंह भी घटना के वक्त कार में बैठी नजर आ रही हैं। बाइक सवार पीड़ित का कसूर बस इतना था कि व्यस्त पीएसी तिराहे पर वो मैडम की कार को साइड नहीं दे पाया। इतने पर गनर का पारा हाई हुआ और उसने पेट्रोल पंप पर बाइक रुकवाकर दंपती को पीटना शुरू कर दिया।मारपीट का आरोप अवनी सिंह के बेटे पर भी है। पीड़ित मनीष कुमार ने घटना के बारे में सिविल लाइंस थाने में तहरीर दी है।घटना के समय महिला आयोग की सदस्य एक सफेद रंग की स्कार्पियो पर सवार थीं। जिस पर विधायक लिखा हुआ नजर आ रहा है। पीड़ित मनीष कुमार ने मीडिया को बताया कि पीएसी तिराहे पर हूटर बजाती स्कार्पियो को वह भीड़ की वजह से साइड नहीं दे पाए थे। इतने में स्कार्पियो ने पीछे से टक्कर मार दी। जब उन्होंने पीएसी तिराहे के पास पंप पर गाड़ी साइड में की तो स्कार्पियो से उतरे गनर तुषार कौशिक और अन्य लोगों ने तुरंत उनके साथ मारपीट शुरू कर दी।मनीष ने बताया कि गनर और अवनी सिंह का बेटा कह रहे थे कि-”तू हमारी गाड़ी के आगे बाइक चलाएगा, हूटर देने पर हटा क्यों नहीं”।


सत्ता की दबंगई का शिकार हुए मनीष कुमार मुरादाबाद के भगतपुर थाना क्षेत्र में जालपुर गांव के रहने वाले हैं। मनीष ने बताया कि घटना के समय बुधवार शाम को वह अपने 2 साल के बच्चे की दवा लेकर पत्नी के साथ बाइक से गांव लौट रहे थे। तभी यह घटना हुई। उन्होंने कहा कि कार सवार महिला नेता के गनर और बेटे व अन्य युवक ने उन्हें बेरहमी से पीटा। उनकी पत्नी से भी बदसुलूकी की। घटना के तुरंत बाद मनीष ने डॉयल 112 को कॉल किया। लेकिन पुलिस को मौके पर पहुंचने में 20 मिनट लग गए।घटनास्थल पर पेट्रोली पंप पर लोग मौजूद थे। पुलिस वाले को एक दंपती की पिटाई करता देख लोगों ने वीडियो बनाना शुरू कर दी। ऐसे ही एक वीडियो में एक युवक (जिसे अवनी सिंह का बेटा बताया जा रहा है) को कहते सुना जा रहा है कि तू नशे में गाड़ी के आगे बाइक चला रहा था। इस पर मनीष ने कहा कि तू अभी चलकर मेरा मेडिकल करा। मैंने आज तक शराब को हाथ नहीं लगाया है। इस पूरी घटना के दौरान अवनी सिंह स्कार्पियो की अगली सीट पर चुप बैठी रहीं। मामला तब जोर पकड़ा जब दंपती से मारपीट की पूरी घटना पेट्रोल पंप के सीसीटीवी में कैद हुई है। घटना की शिकायत के बाद महिला थाना पुलिस और सिविल लाइंस पुलिस अवनी सिंह को साथ लेकर इस पंप पर पहुंची और फुटेज चेक की। मामला महिला आयोग की सदस्य का था, इसलिए पुलिस अवनी सिंह को कार में अगली सीट पर बैठाकर घटनास्थल पहुंची और फिर उन्हें वापस छोड़कर भी आई। घटनास्थल के एक वीडियो में अवनी सिंह के बेटे को कहते सुना जा रहा है कि, “जा पीटा है तो तू फांसी लगवा देना।” इस दौरान पीड़ित की पत्नी बार-बार यह पूछते हुए सुनी जा रही है कि हमें ये तो बताओ कि हमारा कसूर क्या है। हमें क्यों पीटा गया है।