स्कूल,कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बनाए जाएंगे ‘स्वच्छ सारथी क्लब’

32
स्कूल,कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बनाए जाएंगे 'स्वच्छ सारथी क्लब'
स्कूल,कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बनाए जाएंगे 'स्वच्छ सारथी क्लब'

उत्तर प्रदेश को स्वच्छ प्रदेश बनाने की दिशा में योगी सरकार ने की एक और महत्वपूर्ण पहल।स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बनाए जाएंगे ‘स्वच्छ सारथी क्लब’। स्वच्छ भारत मिशन (नगरीय) के अंतर्गत आने वाले समस्त स्कूलों, कॉलेजों एवं विश्विद्यालयों में होगी शुरुआत। स्वच्छता के प्रति किशोरों, युवाओं व उनके अभिभावकों के साथ ही अध्यापकों की सहभागिता की जाएगी सुनिश्चित। नगर विकास विभाग की ओर से बेसिक, माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा विभाग को अभियान में सम्मिलित होने के लिए लिखा गया पत्र। स्वच्छ सारथी क्लब के माध्यम से स्वच्छता कार्यक्रमों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को किया जाएगा सम्मानित। स्कूल,कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बनाए जाएंगे ‘स्वच्छ सारथी क्लब’

ब्यूरो निष्पक्ष दस्तक

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की छवि को स्वच्छ प्रदेश के रूप में स्थापित करने के लिए प्रयासरत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप नगर विकास विभाग की ओर से एक अनुकरणीय पहल की गई है। इस पहल के अंतर्गत स्वच्छता के प्रति किशोरों, युवाओं व उनके अभिभावकों के साथ ही अध्यापकों की सहभागिता सुनिश्चित की जाएगी। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए स्वच्छ भारत मिशन (नगरीय) के अंतर्गत आने वाले यूपी के समस्त स्कूलों, कॉलेजों एवं विश्वविधालयों में ‘स्वच्छ सारथी क्लब’ का गठन किया जाएगा। इसके लिए नगर विकास विभाग की ओर से बेसिक, माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर इस अभियान से जुड़ने की अपेक्षा की गई है। स्वच्छ सारथी क्लब के माध्यम स्वच्छता कार्यक्रमों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किए जाने की भी योजना है।

स्वच्छता के लिए जनभागीदारी है आवश्यक


प्रमुख सचिव अमृत अभिजात की ओर से बेसिक, माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा विभागों को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रारंभ की गई महत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत मिशन ( नगरीय) की सफलता के लिए व्यापक जन-जागरूकता एवं जन-भागीदारी आवश्यक है। सामान्य जनमानस, किशोरों तथा युवाओं को स्वच्छ भारत मिशन (नगरीय) से जोड़ना व स्वच्छ भारत मिशन के लक्ष्यों को प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाना एक अतिमहत्वपूर्ण लक्ष्य है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए किशोरों, युवाओं व उनके अभिभावकों और अध्यापकों की सहभागिता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से स्कूलों, कॉलेजों एवं विश्वविधालयों में ‘स्वच्छ सारथी क्लब’ का गठन प्रस्तावित है। साथ ही स्वच्छ सारथी क्लब के माध्यम स्वच्छता कार्यक्रमों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किए जाने की भी योजना हैं। पत्र में इन सभी विभागों से आग्रह किया गया है कि इन उद्देश्यों की सफलता के लिए अपने विभाग के जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करें कि वे जनपद के समस्त नगरीय निकायों में शिक्षण संस्थाओं के साथ समन्वय स्थापित कराते हुए नगरीय निकायों की परिधि में आने वाले समस्त स्कूल, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों में ‘स्वच्छ सारथी क्लब’ की स्थापना सुनिश्चित कराएं।

स्वच्छ सारथी क्लब के उद्देश्य

  • स्वच्छ सारथी क्लब के माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन नगरीय के लक्ष्यों के विषय में जागरूकता फैलाना।
  • स्वच्छ सारथी क्लब के माध्यम से प्लास्टिक बैन के विषय में जनजागरूकता फैलाना।
  • स्वच्छ सारथी क्लब के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण के विषयगत प्रेरणा देना।
  • किशोरों व युवाओं के माध्यम से स्वच्छता के प्रति व्यवहारिक परिवर्तन के विषय में जन-जागरूकता फैलाना।
  • स्वच्छ सारथी क्लब के सदस्यों द्वारा स्वच्छ भारत मिशन- नगरीय के अन्तर्गत आयोजित आईईसी गतिविधियों में प्रतिभाग करना। स्कूल,कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बनाए जाएंगे ‘स्वच्छ सारथी क्लब’