पुलिस टार्चर से टीचर की थाने में आत्महत्या

पुलिस के टार्चर से टीचर की थाने में आत्महत्या मामले में CBCID ने इंस्पेक्टर सहित चार पुलिसवालों के खिलाफ दर्ज की रिपोर्ट।

कन्नौज। पुलिस ने एक टीचर को इतना प्रताड़ित किया कि उसने थाने के हवालात में ही आत्महत्या कर ली। दो साल पहले हुई इस घटना में CBCID ने इंस्पेक्टर सहित चार पुलिसवालों के खिलाफ बुधवार को रिपोर्ट दर्ज की है। चारो पुलिसवालों को टीचर को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोपी बनाया गया है।

जालौन के रहने वाले शिक्षक पर्वत सिंह का शव 20 मार्च 2020 को तिर्वा कोतवाली के लॉकअप के हवालात के शौचालय में लटकता हुआ पाया गया था। उनके पिता श्रीराम ने मामले की जांच के लिए हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। कोर्ट के आदेश पर मामले की जांच CBCID को सौंपी गई थी। इंस्पेक्टर विमलकांत मिश्रा की अगुआई में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम बनी थी।इस जांच में तत्कालीन तिर्वा इंस्पेक्टर त्रिभुवन कुमार, हेड मोहर्रिर राधेश्याम, पहरेदार आरक्षी अरुण कुमार और मामले की विवेचना कर रहे विवेचक तत्कालीन सदर कोतवाली प्रभारी विकास राय को दोषी पाया गया है।