July 26, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

अखिलेश के क्रांति रथ से 2022 के चुनाव का बिगुल

……….. फिर चला अखिलेश का क्रांति रथ। ………

लखनऊ । समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखनऊ से उन्नाव सरोसी पहुंचकर क्रांति रथ से 2022 के चुनाव का बिगुल बजा दिया है वैसे तो करो ना समय को देखते हुए प्रशासन ने उन्हें बड़ी सभा करने से की अनुमति नहीं दी है फिर भी उन्होंने स्वर्गीय मनोहर लाल की मूर्ति का अनावरण कर लोगों से भाजपा को सत्ता से हटाने की अपील की उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग झगड़ा लगाने का काम करते हैं। भाजपा ने पंचायत चुनावों में नोट का इस्तेमाल किया और ब्लाक प्रमुख तथा जिला पंचायत अध्यक्षों के पद हथिया लिए। भाजपा ने सरकारी संस्थाओं को बेच दिया है।

भाजपा सरकार के रहते नौजवानों की बेकारी बढ़ी, महंगाई बेलगाम हुई। साढ़े चार साल में एक फैक्ट्री प्रदेश में नहीं लगी है। लोगों को इस सरकार ने भुखमरी के कगार पर पहुंचा दिया है। प्रदेश में मंत्रिमण्डल विस्तार का कोई मतलब नहीं। यहां लोकतंत्र दिखाई नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा भाजपा झूठी पार्टी है, इसे हटाइए। समाजवादी पार्टी इस बार 350 सीटें जीतेगी।


अखिलेश यादव आज उन्नाव से भाजपा के खिलाफ शंखनाद किया। उन्होंने सरौसी गांव में 85वीं जयंती के अवसर पर मनोहर लाल इंटर कालेज में स्थापित स्वर्गीय मनोहर लाल की प्रतिमा का अनावरण करने के उपरांत एकत्र समुदाय को सम्बोधित कर रहे थे। स्वर्गीय मनोहर लाल जी विधायक, सांसद तथा मंत्री रहे थे। श्री यादव ने कहा कि आज यहां बड़ी रैली होनी थी जिसकी प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है। जब कोविड खत्म होगा तो लाखो की रैली होगी।

अखिलेश यादव ने कहा कि लॉकडाउन में शिक्षा-स्वास्थ्य व्यवस्था पटरी से उतर गई। समाजवादी पार्टी की सरकार में लैपटॉप बंटे थे। वहीं बच्चों की पढ़ाई में काम आ रहे हैं। उन्होंने कहा कौन भाजपा के वादों पर भरोसा करेगा? भाजपा चुनाव के वक्त दूसरे मुद्दे ले आती है। उसे संविधान की परवाह नहीं है। भाजपा से सावधान रहना है।