अमौनी मठ का विशाल मेला सकुशल सम्पन्न

113
अमौनी मठ का विशाल मेला सकुशल सम्पन्न
अमौनी मठ का विशाल मेला सकुशल सम्पन्न

थानाध्यक्ष राजेश सिंह बाबा बाजार के कुशल नेतृत्व में मेला परिसर, गोमती नदी के स्नान घाट,मठ / शिव मंदिर के अलावा जगह-जगह लगाए गए सुरक्षा कर्मियों के टीम की चप्पे-चप्पे पर रही पैनी नजर। बाबा बाजार पुलिस के अलावा थाना मवई, थाना पटरंगा, कोतवाली रुदौली इनायतनगर,खंडासा, कुमारगंज, के तेजतर्रार पुलिस जवान चप्पे-चप्पे पर रहे तैनात,मेले की शांति व्यवस्था में अपनी अपनी जगह पर पूरी तरह मुस्तैदी के साथ रहे मुस्तैद। भाजपा विधायक रामचंद्र यादव ने मेला पहुंचकर परिसर में स्थित शिवमंदिर एवं बाबा संतोष भारती की चौखट पर माथा टेक कर किया पूजा आराधना, श्रीयादव के साथ मांकामख्या भवानी धाम नगर पंचायत के अध्यक्ष शीतला प्रसाद शुक्ला सहित अन्य पदाधि कारी एवं कार्यकर्ता रहे मौजूद। अमौनी मठ का विशाल मेला सकुशल सम्पन्न

धर्मेंद्र यादव

अयोध्या। बाबा बाजार मवई रुदौली सर्किल अंतर्गत विकास खण्ड मवई के ग्राम पंचायत नोगवा-डीह के अमौनी गांव समीप प्रत्येक वर्ष कार्तिक मास की पूर्णिमा के अवसर पर सिद्ध पुरुष बाबा संतोष भारती के मठ परिसर समीप गोमती नदी के तट निकट लगने वाला अमौनी मठ का विशाल मेला सकुशल निर्विघ्नता पूर्वक कल २७ नवंबर २०२३ की देर रात को सम्पन्न हो गया। करीब एक किमी0 की परिधि में इस मेले में श्रद्धालुओं मेलार्थियो की भारी भीड़ जमा थी।मेले में आये। श्रद्धालुओ ने गोमती नदी में स्नान कर पूजा अर्चना आराधना कर मनो वांछित फल पाए जाने की कामना किया,तथा सिद्ध पुरुष बाबा संतोष भारती की समाधि की परिक्रमा लगा कर मन्नतें मांगी। श्रद्धालुओ द्वारा गंगा मैया की जय,गोमती मैया की जय,बाबा संतोष भारती की जय,भोले बाबा की जय,के अलावा अन्य देवी देवताओं के नामों को लेकर लगाए जा रहे। गगनभेदी जयकारो से सारा वातावरण गुंजायमान हो रहा था। सर्वविदित है कि अमौनी मेले के लिये क्षेत्रवासियों के अलावा दूरदराज के श्रद्धालुओं एवं दुकानदारों में काफी उत्सुकता रहती है। मेला लगने से दो दिन पूर्व ही अमौनी के आसपास गांवों में लोगों के यहाँ रिश्तेदारों मित्रों सहयोगियों का आना जाना शुरू हो जाता है। इस मेले में क्षेत्रवासियों के अलावा समीपवर्ती जनपदों अमेठी, अयोध्या सुलतानपुर, बाराबंकी तथा रायबरेली से हजारों की संख्या में श्रद्धालु भी शामिल होते हैं। यह मेला भोर की बेला मे चार बजे से प्रारंभ हो जाता है जो देर रात तक अनवरतश्रद्धालुओं का आना जाना लगा रहता है। मेले में भीड़ का आलम यह था कि मेले से तीन किमी0 पहले से ही सड़क जाम हो गयी थी।

पिछले दो-तीन वर्षो की अपेक्षा में इस बार मेले में श्रद्धालुओं शिवभक्तों एवं बाबा संतोष भारती के अनुयायियों की काफी भीड़ देखी गई।मेला क्षेत्र से पांच सौ मीटर पहले ही बैरी केडिंग कर दी गयी थी। प्रत्येक बैरीकेडिंग पर एक उपनिरीक्षक व आधा दर्जन आरक्षी तैनात किये गये थे। पुलिस कर्मी बैरीकेडिंग के आगे दो पहिया तथा चार पहिया वाहनों को आगे जाने नही दे रहे थे। वरिष्ठ उप निरीक्षक कुंवर सिंह के नेतृत्व में लगभग आधा दर्जन पुलिस कर्मी गोमती नदी के किनारे नाव से से आने जाने वाले श्रद्धालुओं मेलार्थियों पर सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से पैनी नजर रख रहे थे। मेले में बाबा बाजार पुलिस के अलावा, थाना मवई, कुमारगंज, इनायत नगर, थाना पटरंगा, थाना रूदौली पुलिस के जवान चप्पे चप्पे पर तैनात थे,जो अपने अपने कर्तव्य का पालन करने में मशगूल देखे गए। थानाध्यक्ष बाबा बाजार राजेश सिंह,वरिष्ठ उपनिरीक्षक बख्त बहादुर सिंह, पुलिस बल के साथ स्नान घाट से लेकर मेला परिसर एवं मठ/ शिव मंदिर तक अनवरत भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था एवं वस्तुस्थिति का जायजा ले रहे थे। मेला शांति पूर्ण ढंग से सकुशल सम्पन्न हो जाने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।

बाराबंकी जिले से आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिये ग्रामीणों ने नदी के एक छोर से दूसरे छोर तक सात नावों को पानी मे रखकर ऊपर से पटरी बिछाकर लकड़ी का अस्थाई पुल गत वर्ष बनाया था। परंतु इस बार न बनाए जाने से श्रद्धालुओ मेलार्थियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। प्रधान प्रतिनिधि परमानन्द शुक्ला द्वारा श्रद्धालुओं को जलपान की व्यवस्था कराई गई थी। मेले में रुदौली विधायक रामचन्द्र यादव,मां कामाख्या भवानीधाम के अध्यक्ष शीतला प्रसाद शुक्ला,भाजपा नेता महेंद्र पाण्डेय संजय पांडे, जन्नू मिश्रा पूर्व ग्राम प्रधान हरिकेश मौर्य,प्रधान रामपुर जनक राजेश यादव, विनोदकुमार श्रीवास्तव बाबा,अशोक दास,मुन्ना शुक्ला,अनुराग पांडेय, अधिवक्ता/प्रधानपति दुर्गाप्रसाद रावत, प्रतिनिधि अवधेश कुमार तिवारी (ग्राम पंचायतभवानीपुर) आनन्द शुक्ला आदि के अलावा मेला में आये तमाम श्रद्धालुओं व बाबा के भक्तों का मेला पहुंच कर अमौनी मठ के महन्त एवं मेला मालिक बाबा सत्य भारती से स्नेह पूर्ण आशीर्वाद प्राप्त करने का सिलसिला पूरे दिन एवं देर रात तक अनवरत चलता रहा। अमौनी मठ का विशाल मेला सकुशल सम्पन्न