जो परिवार में सामाजिक सद्भाव नहीं बना पाया,वह प्रदेश की बात कर रहा – भूपेंद्र सिंह


भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह ने सपा मुखिया को दी सलाह, बोले- पहले परिवार में सद्भाव बनाएं, फिर प्रदेश की बात करें। जो परिवार में सामाजिक सद्भाव नहीं बना पाया, वह प्रदेश की बात कर रहा। एनसीआरबी के डेटा इस बात के गवाह हैं कि प्रदेश ने कानून व्यवस्था के मामले में मिसाल कायम की।

हिमांशु दुबे

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह ने सपा मुखिया पर तंज कसते हुए कहा कि जो अपने परिवार में सामाजिक सद्भाव नहीं बना पाया, वह प्रदेश में सद्भाव की बात कर रहा है। उन्होंने सपा मुखिया को सलाह देते हुए कहा कि पहले वह परिवार में सद्भाव बनाएं, फिर प्रदेश की बात करें। उन्होंने कहा कि एनसीआरबी के डेटा इस बात के गवाह हैं कि प्रदेश ने कानून व्यवस्था के मामले में मिसाल कायम की है। यूपी मॉडल को दूसरे राज्य अपना रहे हैं।


उन्होंने कहा कि सपा मुखिया को रह-रह कर सपा सरकार का जंगलराज याद आता है। इसीलिए वह बार-बार प्रदेश में कानून व्यवस्था की बात करते रहते हैं। जबकि सपा सरकार के दौरान आम आदमी थानों में, तो महिलाएं और बेटियां घर से बाहर निकलने में डरती थीं। हाल ही में आए एनसीआरबी के आंकड़े प्रदेश में कानून व्यवस्था में व्यापक पैमाने पर आए सुधारों की गवाही दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में प्रदेश में रोजाना दंगे होते थे, जबकि अब प्रदेश दंगा मुक्त हो चुका है। महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों में भी कमी आई है। इतना ही नहीं, प्रदेश से संगठित अपराध समाप्त हो चुका है और माफियाओं पर सरकार पूरी सख्ती से कार्रवाई कर रही है।

जारी रहेगी जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी –

भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पहले दिन से प्रदेश में अपराध और अपराधियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जा रही है और भविष्य में भी अपनाई जाएगी। अपराधी छोटा हो या बड़ा, कानून के हिसाब से बिना भेदभाव के कार्रवाई जारी रहेगी।