प्रदेश की जनता भाजपा के झांसे में आने वाली नही-अनिल यादव

उत्तर प्रदेश की जनता अब भाजपा के झांसे में आने वाली नही।

भाजपा की गलत नीतियों के चलते लाखों लोगों ने अपना रोजगार खोया।

प्रचण्ड बहुमत से सपा सरकार बनाने का लिया संकल्प।

लखनऊ। बूथ कमेटी की तैयारियों में जुटे समाजवादी नेता अनिल यादव ने अपने सहयोगियों के साथ विचार विमर्श किया। विधानसभा वार पोलिंग बूथ कमेटी से संबंधित जिम्मेदार नेताओं और कार्यकर्ताओं की तैयारियों का जायजा लेते हुए बिजली की तेजी के समान जुटने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा हमारी कठिन परिश्रम का वक़्त आ चुका है इसलिए अब हम सभी की जिम्मेदारी है कि भाजपा की जनविरोधी सरकार को उत्तर प्रदेश में दोबारा पनपने नही देना है।

राजधानी के केकेसी स्थित सपा के कैंप कार्यालय पर एकत्रित कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए अनिल यादव ने कहा भाजपा की गलत नीतियों के चलते आज आम जनता अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा तो दूर विद्या के मंदिर भी भेजने से असमर्थ है कारण कोई और नही महंगां शिक्षा शुल्क है।

कोरोना जैसी महामारी में छात्रों के अभिभावकों को फीस वहन करनी पड़ रही है जबकि सरकार ने जनता से वादा किया था कि फीस माफ करने का काम करेंगे लेकिन सरकार का जुमला तो सिर्फ जुमला ही साबित हुआ। छात्र शिक्षा से वंचित रहा, और कुछ अभिभावकों ने ना चाह कर भी अपनी रोज मर्रा की आवश्यक वस्तुओं में कटौती कर के अपने नौनिहालों के भविष्य को देखते हुए विद्यालयों द्वारा मांगी गई पूरी फीस जमा करने पर विवश हैं।

मौजूदा समय में तेल की बढ़ी कीमतें महंगाई का वह दौर लेकर आई हैं जिसमें गरीब, किसान, मजदूर, दलित आदि सभी महंगाई का भार उठाने में असमर्थ हैं वही भाजपा सरकार की गलत नीतियों के चलते लाखों लोगों ने अपना रोजगार खो दिया है जिससे यह स्थिति और भयावह हो गई है।

सपा नेता श्री यादव ने कहा कि अगर छात्रों के अच्छे भविष्य की परिकल्पना किसी ने की थी तो वह सिर्फ समाजवादी सरकार थी समाजवादी सरकार ने छात्रों के लिए लैपटॉप, छात्रवृत्ति जैसी शानदार व्यवस्था की गई थी, लेकिन मौजूदा सरकार में ऐसा कुछ नहीं है।

सत्ता के नशे में मदहोश पूरी भाजपा इस समय केवल हिंदू मुस्लिम करने पर उतारू है इसके सिवा इनके पास कोई दूसरा काम है ही नहीं। प्रदेश की जनता भाजपा के छलावे वाली नीति को भली बात समझ चुकी है अब वह इनके झांसे में नहीं आने वाली और आगामी विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत से समाजवादी सरकार बनने जा रही है।