भूमाफियाओं पर कार्रवाई के बजाए गरीबो को धमकी

भूमाफियाओं पर कार्रवाई करने के बजाए गरीबो को लगातार धमकी दें रहा है रुदौली प्रशासन।

अब्दुल जब्बार एडवोकेट व जगदम्बा श्रीवास्तव

भेलसर(अयोध्या)। रूदौली तहसील क्षेत्र के एक गांव में प्रशासन भूमाफियाओं पर कार्रवाई करने के बजाए गरीबो को लगातार धमकी दें रहा है।रुदौली तहसील क्षेत्र के ग्राम सभा बनमऊ में एक गरीब परिवार रवीश कुमार अपने परिवार का जीवन यापन चाय की दुकान चलाकर करता है जो कि गांव से ही सटे पीडब्ल्यूडी रोड के बगल अस्थाई छप्पर रख कर चाय की दुकान चलाता था।रवीश कुमार बहुत ही गरीब परिवार से है चाय की दुकान ही इस गरीब परिवार के जीने का एक मात्र सहारा था।आरोप है कि गांव के अराजक तत्वों द्वारा उसका छप्पर फूंक दिया गया।जब इसकी लिखित शिकायत गरीब चाय वाले ने नजदीकी चौकी प्रभारी को दिया जिसपर कोई कार्यवाही न होने पर रवीश कुमार ने एसडीएम रुदौली को लिखित प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई।जानकारी के अनुसार एसडीएम ने हल्का लेखपाल को तत्काल जॉच सौप दी।

आरोप है कि लेखपाल के रिपोर्ट लगाने के बावजूद भी कानूनगो द्वारा पीड़ित चाय वाले को धमकाया जा रहा है व दुकान नहीं चलाने दिया जा रहा है।पीड़ित ने बताया कि कानूनगो द्वारा पीड़ित चाय बेचने वाले को धमकी दी जा रही है कि दुकान हटा लो नही तो बल पूर्वक बुलडोजर से हटवा दिया जायेगा।पीड़ित रवीश कुमार न्याय के लिए तहसील के अधिकारियों के ऑफिस का चक्कर लगाकर थक चुका है व न्याय की उम्मीद छोड़ चुका है।पीड़ित का आरोप है कि वर्षो से पीडब्लूडी की भूमि पर चाय बेच कर अपनी जीविका चला रहा था जिसे दबंगो द्वारा जला दिया गया है।अब क्षेत्र के एक दबंग नेता के दबाव में उल्टे पुलिस व प्रशासन मुझे ही धमका रहा है।होटल बन्द हो जाने से परिवार भुखमरी के कगार पर पहुँच गया है।उपजिलाधिकारी रूदौली स्वप्निल यादव ने बताया कि मामले की जांच कराई जा रही है।