कोविड संक्रमण के नए केस में बढ़ोत्तरी के दृष्टिगत सतर्कता और सावधानी आवश्यक


प्रदेश में ट्रैक,टेस्ट,ट्रीट और टीकाकरण की नीति के सफल क्रियान्वयन से कोविड महामारी पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है।विभिन्न राज्यों में कोविड संक्रमण के नए केस में बढ़ोत्तरी के दृष्टिगत सतर्कता और सावधानी बरतना आवश्यक।राज्य में गत दिवस तक 33 करोड़ 40 लाख 79 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगायी गयीं, 11 करोड़ 58 लाख 23 हजार 797 कोविड टेस्ट सम्पन्न।एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस के बेड़े में और बढ़ोतरी की आवश्यकता।सभी मोबाइल मेडिकल वैन क्रियाशील रहें, इनका रिस्पांस टाइम न्यूनतम रखने के लिए तकनीकी सहयोग लिया जाए।प्रदेश के चिकित्सा संस्थानों में ट्रॉमा सेंटर की सुविधाओं को और सुदृढ़ किया जाए।डॉ0 राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ और बी0आर0डी0 मेडिकल कॉलेज, गोरखपुर की ट्रॉमा क्षमता को बढ़ाया जाए।नव स्थापित मेडिकल कॉलेजों में ट्रॉमा सुविधाओं को बेहतर रखने पर विशेष ध्यान दिया जाए।ग्रामीण क्षेत्रों में सुदृढ़ स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धतासुनिश्चित कराने के लिए आई0आई0टी0 कानपुर द्वारा तैयार कियेगये मॉडल का अध्ययन करते हुए कार्य योजना प्रस्तुत की जाए।9,000 से अधिक ए0एन0एम0 की नियुक्ति की जारी प्रक्रिया को समयबद्ध ढंग से पूर्ण कराने के निर्देश।गेहूं खरीद की प्रक्रिया को आगामी 30 जून तक जारी रखा जाए।आगामी दिनों में बारिश/मॉनसून की संभावना को देखते हुए खरीदे जा रहे गेहूं के सुरक्षित भण्डारण के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं।

भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 8,822 नए मामले सामने आए हैं, 5,718 लोग डिस्चार्ज हुए और कोरोना से 15 लोगों की मौत हुई है।कुल मामले:- 4,32,45,517,सक्रिय मामले: 53,637,कुल रिकवरी: 4,26,67,088,कुल मौतें: 5,24,792,कुल वैक्सीनेशन: 1,95,50,87,271.

लखनऊ। मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर टीम-9 की बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देशित किया कि 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को बूस्टर डोज दिए जाने में तेजी लायी जाए। बूस्टर डोज के महत्व और बूस्टर टीकाकरण केन्द्रों के बारे में आमजन को जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि 12 से 18 आयु वर्ग के किशोरों को दूसरी डोज देने में तेजी लायी जाए। साथ ही, बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर सतर्कता बरती जाए।योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रदेश में ट्रैक, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के सफल क्रियान्वयन से कोविड महामारी पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों में कोविड संक्रमण के नए केस में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। इसके दृष्टिगत सतर्कता और सावधानी बरतना आवश्यक है।


पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 318 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 178 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1645 है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 86 हजार से अधिक कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 11 करोड़ 58 लाख 23 हजार 797 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।राज्य में गत दिवस तक 33 करोड़ 40 लाख 79 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगायी जा चुकी हैं। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 13 करोड़ 97 लाख 42 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। इस प्रकार 94.79 प्रतिशत लोग कोविड टीके की दोनों डोज ले चुके हैं। इसी आयु वर्ग में 15 करोड़ 33 लाख 43 हजार से अधिक लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश कोविड टेस्टिंग और टीकाकरण में देश में शीर्ष स्थान पर है।विगत दिवस तक 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग में 98.72 प्रतिशत किशोर कोविड वैक्सीन की प्रथम डोज तथा 82.57 प्रतिशत किशोर टीके की दूसरी खुराक प्राप्त कर चुके हैं। 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 92.54 प्रतिशत बच्चों ने टीके की पहली खुराक तथा 52.12 प्रतिशत बच्चों ने टीके की दूसरी खुराक प्राप्त कर ली है। 33 लाख 43 हजार से अधिक प्रिकॉशन डोज प्रदान की जा चुकी हैं।


एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस के बेड़े में और बढ़ोतरी की आवश्यकता है। सभी मोबाइल मेडिकल वैन क्रियाशील रहें। इनका रिस्पांस टाइम न्यूनतम रखे जाने के लिए तकनीकी सहयोग लिया जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि प्रदेश के चिकित्सा संस्थानों में ट्रॉमा सेंटर की सुविधाओं को और सुदृढ़ किया जाए। लखनऊ स्थित डॉ0 राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान और गोरखपुर के बी0आर0डी0 मेडिकल कॉलेज की ट्रॉमा क्षमता को बढ़ाया जाए। नव स्थापित मेडिकल कॉलेजों में ट्रॉमा सुविधाओं को बेहतर रखने पर विशेष ध्यान दिया जाए।ग्रामीण क्षेत्रों में सुदृढ़ स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए आई0आई0टी0 कानपुर ने एक मॉडल तैयार किया है। इसका अध्ययन करते हुए कार्य योजना प्रस्तुत की जाए। उन्होंने 9,000 से अधिक ए0एन0एम0 की नियुक्ति की जारी प्रक्रिया को समयबद्ध ढंग से पूर्ण कराने के निर्देश दिए। यह राज्य सरकार के प्रथम 100 दिवस की कार्ययोजना में सम्मिलित है। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि चयन प्रक्रिया में शुचिता और पारदर्शिता बनी रहे। योग्य अभ्यर्थियों का चयन कर यथाशीघ्र उन्हें नियुक्ति दी जाए।

यू0पी0 बोर्ड की परीक्षाओं का परिणाम समय से जारी कर दिया जाए।आकाशीय बिजली गिरने के सम्बन्ध में समय से लोगों को अलर्ट करने के लिए राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ समन्वय करते हुए सूचना तंत्र शीघ्र एक्टिव किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यू0पी0 बोर्ड की हाई स्कूल और इण्टरमीडिएट परीक्षाओं के परीक्षार्थियों को अपने परीक्षा परिणाम की प्रतीक्षा होगी। ऐसे में बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम समय से जारी कर दिया जाए। इसकी पूर्व सूचना अभिभावकों/परीक्षार्थियों को जरूर दी जाए।मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के हित संरक्षण को सुनिश्चित करते हुए गेहूं खरीद की प्रक्रिया को आगामी 30 जून तक जारी रखा जाए। क्रय अवधि बढ़ाने का आदेश तत्काल प्रभावी किया जाए। आगामी दिनों में बारिश/मॉनसून की संभावना को देखते हुए खरीदे जा रहे गेहूं के सुरक्षित भण्डारण के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं।आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हर साल अनेक लोगों की असमय मृत्यु होती है। समय से लोगों को अलर्ट किया जा सके, इसके लिए राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ समन्वय करते हुए सूचना तंत्र शीघ्र एक्टिव किया जाए।

[/Responsivevoice]