मंदिर के जीर्णोद्धार होने से श्रद्धालुओं में खुशी की लहर

97
मंदिर के जीर्णोद्धार होने से श्रद्धालुओं में खुशी की लहर
मंदिर के जीर्णोद्धार होने से श्रद्धालुओं में खुशी की लहर

ए0के0 शर्मा के प्रयासों से जीर्ण-शीर्ण एवं प्राचीन चन्नाराम कालिका मंदिर का होगा पुनरोद्धार। मंदिर के जीर्णोद्धार हेतु 01 करोड़ 36 लाख 70 हजार रूपये प्रस्तावित। मंदिर के जीर्णोद्धार होने से श्रद्धालुओं में खुशी की लहर। मंदिर के जीर्णोद्धार होने से श्रद्धालुओं में खुशी की लहर

ब्यूरो निष्पक्ष दस्तक

आजमगढ़। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा ने आजमगढ़ जनपद के सगड़ी तहसील क्षेत्र के अजमतगढ़ विकास खण्ड के ग्राम धनछुला में स्थित अति प्राचीन कालिका मंदिर के जीर्ण-शीर्ण हो जाने का संज्ञान लिया और मंदिर के पुनरोद्धार के लिए धर्मार्थ कार्य मंत्री से अनुरोध किया था और इसके लिए उन्होंने मार्च, 2023 में धर्मार्थ कार्य मंत्री को पत्र लिखकर इस मंदिर के जीर्णोद्धार हेतु सम्बंधित को निर्देशित करने का आग्रह किया था।


आजमगढ़-गोरखपुर मुख्य मार्ग पर स्थित इस प्रसिद्ध कालिका मंदिर के जीर्ण-शीर्ण हो जाने से श्रद्धालुओं को पूजा-पाठ करने में काफी परेशानी हो रही थी। इसके लिए अजमतगढ़ क्षेत्र के निवासियों ने इस मंदिर के पुनरोद्धार हेतु मंत्री जी को पत्र लिखकर निर्माण की मांग की थी। नगर विकास मंत्री के प्रयासों से अब धर्मार्थ कार्य विभाग ने इसके लिए 01 करोड़़ 36 लाख 70 हजार रूपये की धनराशि प्रस्तावित कर दी है। इससे अब इस प्रसिद्ध मंदिर के जीर्णोद्धार का रास्ता साफ हो गया है। इस क्षेत्र की जनता में खुशी की लहर है और उन्होंने इस पुनीत कार्य के लिए मंत्री जी का धन्यवाद भी किया है। ए0के0 शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों की आस्था एवं विश्वास तथा जन-भावनाओं का सम्मान करते हुए धार्मिक क्षेत्रों, प्रसिद्ध प्राचीन पूजा स्थलों के विकास व जीर्णोद्धार के लिए कार्य कर रही है। साथ ही ऐसे क्षेत्रों में श्रद्धालुओं के लिए सुविधाओं का भी विकास किया जा रहा है। आवागमन के लिए रास्तों का निर्माण किया जा रहा है। मंदिर के जीर्णोद्धार होने से श्रद्धालुओं में खुशी की लहर