कवि कुमार विश्वास यदि समाजवादी पार्टी में जाएंगे तो कांग्रेस का क्या होगा..?

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार ने विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा को राज्य लोक सेवा आयोग का सदस्य बना रखा है।कवि कुमार विश्वास यदि समाजवादी पार्टी में जाएंगे तो कांग्रेस का क्या होगा?

मुलायम सिंह यादव 23 नवंबर को प्रोफेसर रामगोपाल यादव की पुस्तक राजनीति के उस पार के विमोचन कार्यक्रम संपन्न हुआ एक माह बाद

समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव की उपस्थिति में 23 नवंबर को प्रोफेसर रामगोपाल यादव की पुस्तक “राजनीति के उस पार” का विमोचन कार्यक्रम लखनऊ में एक राजनीतिक समारोह हुआ। इस समारोह में मुलायम सिंह के साथ उनके पुत्र पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौजूद थे। समारोह में पिता पुत्र के बीच देश के जाने माने कवि कुमार विश्वास भी बैठे हुए थे। विश्वास ने अपने संबोधन में पिता पुत्र की प्रशंसा की। इस पर मुलायम सिंह ने कुमार विश्वास को सपा में शामिल होने का प्रस्ताव दे दिया। सब जानते हैं कि उत्तर प्रदेश में एक माह बाद आचार संहिता लागू होने के साथ विधानसभा चुनाव का आगाज होने जा रहा है।विधानसभा के चुनाव होने हैं और सपा को ही भाजपा का प्रमुख प्रतिद्वंदी दल माना जा रहा रहा है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव छोटे दलों के साथ भी गठबंधन कर रहे हैं। ऐसे में कवि कुमार विश्वास का सपा के समारोह में उपस्थित होना महत्त्वपूर्ण माना जा रहा है। हालांकि अभी कुमार विश्वास ने सपा में शामिल होने के संकेत नहीं दिए हैं, लेकिन सब जानते हैं कि विश्वास पहले आम आदमी पार्टी में रह चुके हैं। लेकिन राज्यसभा में न भेजे जाने से नाराज विश्वास ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

कुमार विश्वास की नजदीकियां कांग्रेस के साथ बढ़ी। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाथों हाथ विश्वास को लपक लिया और उनकी पत्नी मंजू शर्मा को राज्य लोक सेवा आयोग का सदस्य नियुक्त कर दिया। मंजू शर्मा अब राजस्थान में प्रशासनिक पुलिस अधिकारियों के साथ साथ इंजीनियर, डॉक्टर, लेक्चरर सलेक्ट कर रही हैं। अब यदि कुमार विश्वास उत्तर प्रदेश चुनाव के मद्देनजर समाजवादी पार्टी में शामिल होते हैं तो राजस्थान में कांग्रेस का क्या होगा? क्या सपा में शामिल होने से पहले कुमार विश्वास अपनी पत्नी से आयोग के सदस्य के पद से इस्तीफा दिलाएंगे या फिर पत्नी के महत्त्वपूर्ण पद पर नियुक्ति की वजह से कांग्रेस का साथ नहीं छोड़ेंगे? जानकारों के अनुसार राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इतनी आसानी से कुमार विश्वास को सपा में नहीं जाने देंगे। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की कमान राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने संभाल रखी है और अशोक गहलोत कभी नहीं चाहेंगे कि कुमार विश्वास उत्तर प्रदेश में प्रियंका गांधी के खिलाफ काम करें। गहलोत ने जब से श्रीमती मंजू शर्मा को आयोग का सदस्य नियुक्त किया है, तब से कुमार विश्वास ने कवि सम्मेलन के मंचों से कांग्रेस पर कटाक्ष करना बंद कर दिया है।