होलिका दहन शोभायात्रा में शामिल हुए योगी

171
होलिका दहन शोभायात्रा में शामिल हुए योगी
होलिका दहन शोभायात्रा में शामिल हुए योगी

भक्ति, सत्य व न्याय के मार्ग पर चलने वाले की होती है सदैव जीत। पांडेयहाता की होलिका दहन शोभायात्रा में शामिल हुए सीएम योगी। उतारी भक्त प्रहलाद की आरती।

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर समेत समूचे प्रदेशवासियों को सामाजिक समता, उल्लास और उमंग के पर्व होली की बधाई देते हुए कहा कि सनातन संस्कृति के पर्व हजारों वर्षों से धर्म, सत्य व न्याय के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देते हैं। किसी का शोषण न हो, सबके साथ न्याय हो, इसी को हमारी ऋषि परम्परा में रामराज्य कहा गया है। हमें याद रखना चाहिए कि भक्ति, सत्य और न्याय के मार्ग का अनुसरण करने वाले की सदैव जीत होती है। होलिका दहन का भी यही संदेश है। सीएम योगी पाण्डेयहाता में होलिका दहन उत्सव समिति की ओर से आयोजित होलिका दहन शोभायात्रा के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने होलिका और भक्त प्रह्लाद के पौराणिक आख्यान से संदेश देते कहा कि होलिका दहन बुराई पर अच्छाई, असत्य पर सत्य और अन्याय पर न्याय की विजय का प्रतीक पर्व है। हमें होलिका दहन को बुराई, दुराग्रह, वैरभाव तिलांजलि देने का माध्यम बनाना चाहिए।

विरासत का संरक्षण सबका दायित्व


मुख्यमंत्री ने कहा कि विरासत के संरक्षण का दायित्व सबका है। विरासत का संरक्षण करते हुए पर्व पर परम्पराओं की पवित्रता बनाए रखें। उत्साह व उमंग पर कोई आंच नहीं आनी चाहिए लेकिन यह भी ध्यान देना होगा कि दुष्प्रवृत्तियां भी न घुसने पाएं। परम्पराओं और विरासत का संरक्षण करते हुए हमें पूर्वजों के प्रति श्रद्धा और सम्मान का भाव रखना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने होलिका दहन में इस बात पर ध्यान देने की सीख दी कि कहीं भी कोई जन-धन की हानि न होने पाए। होलिका दहन बुराई के अंत का माध्यम है। ऐसे में किसी का नुकसान हुआ तो यह अन्याय व अधर्म होगा। हमें अन्याय और अधर्म से बचना होगा। सीएम योगी ने होलिका दहन उत्सव समिति की इस बात के लिए सराहना की कि यह समिति 96 वर्षों से विरासत को संजोकर आगे बढ़ रही है।

READ MORE-मिलेट्स प्रोत्साहन पर 200 करोड़ खर्च करेगी योगी सरकार

होलिका दहन शोभायात्रा में शामिल हुए योगी

बिना सहमति न डालें किसी पर रंग, सौहार्द से मनाएं होली


मुख्यमंत्री ने होली के पावन पर्व पर सबके लिए मंगलकामना की। उन्होंने लोगों से अपील की कि हजारों वर्षों की सनातन परंपरा का अनुकरण कर सौहार्द से रंगभरी होली मनाएं। सौहार्द से पर्व का उत्साह व उमंग कई गुना बढ़ जाता है। बिना सहमति किसी पर जबरन रंग न डालें। मिलावटी रंग व पेंट का इस्तेमाल न करें। बच्चों, बुजुर्गों, मरीजों व धर्मस्थल पर रंग न फेकें।

जी-20 का नेतृत्व सभी देशवासियों के लिए गौरव का विषय


इस अवसर पर सीएम योगी ने आजादी के अमृत वर्ष में देश की उपलब्धियों का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि आज अपना देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया के बीस सबसे बड़े देशों के समूह जी-20 की अगुवाई कर रहा है। यह समूचे भारतवासियों के लिए गौरव का विषय है। वैश्विक मंचों पर भारत की प्रतिष्ठा बढ़ रही है। यहां का युवा पूरी दुनिया में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहा है।

योगी ने उतारी भक्त प्रहलाद की आरती, खेली फूलों की होली


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन के उपरांत होलिका दहन शोभायात्रा के लिए सजाए गए रथ पर अवस्थित भक्त प्रहलाद की आरती उतारी। उनके चित्र पर फूल बरसाने के बाद बड़े ही उमंग से उपस्थित जनसमूह पर पुष्प वर्षा करते हुए फूलों से होली खेली। शोभायात्रा को लेकर लोगों का उत्साह देखते ही बन रहा था। इस अवसर पर सांसद रविकिशन शुक्ल ने एक होली गीत सुनाया। आयोजन में विधायक विपिन सिंह, समाजसेवी पीके मल्ल, होलिका दहन उत्सव समिति के पदाधिकारी व बड़ी संख्या में आमजन की सहभागिता रही।