गोरखपुर की तर्ज पर होगा आजमगढ़ का विकास-योगी

मुख्यमंत्री ने जनपद आजमगढ़ में 143 करोड़ रु0 की 31 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 19 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

प्रधानमंत्री की ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की संकल्पना को साकार करते हुए प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए अनेक कार्यक्रमों से आजमगढ़ के विकास को दिशा प्राप्त हुई।जनपद आजमगढ़ में महाराजा सुहेल देव के नाम पर विश्वविद्यालय के निर्माण का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा।साहित्यकार रांगेय राघव जी की रचनाओं पर आजमगढ़ विश्वविद्यालय में शोध पीठ की स्थापना की जाएगी।आजमगढ़ में एक वृहद रोजगार मेले का आयोजन किया जाए।नौजवान प्रदेश की ताकत, इन्हें तकनीक से युक्त करने के लिए 02 करोड़ स्मार्ट फोन/टैबलेट दिए जाएंगे, अब तक 15 लाख टैबलेट और स्मार्ट फोन वितरित,प्रधानमंत्री जी ने जनपद को पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे से जोड़ा।

जनपद आजमगढ़ में मंदुरी स्थित एयरपोर्ट का शीघ्र ही लोकार्पण किया जाएगागोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे जनपद में लगभग 18 कि0मी0 तक जुड़ाहरिहरपुर संगीत की परम्परा विश्वविख्यात, इस संगीत परम्परा को और अधिक मजबूती के साथ आगे बढ़ाना होगाप्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करते हुए ‘हर घर तिरंगा’ कार्यक्रम के तहत आगामी 13 से 15 अगस्त तक सभी लोग अपने-अपने घर पर तिरंगा फहराएंमुख्यमंत्री द्वारा विभिन्न योजनाओं के 20 पात्र लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चेक/स्वीकृति पत्र/आवास की चाभी प्रदान की गयी।

 आजमगढ़/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के जनपद आजमगढ़ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 143 करोड़ रुपये की 31 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 19 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि जनपद आजमगढ़ ऋषि-मुनियों व साहित्यकारों की धरती है। यहां की प्रतिभाओं को राजनीतिक संकीर्णता के कारण आगे बढ़ने का मौका प्राप्त नहीं हुआ। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की संकल्पना को साकार करते हुए प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए अनेक कार्यक्रमों से आजमगढ़ के विकास को दिशा प्राप्त हुई है।


आजमगढ़ के नौजवानों का लम्बे समय से सपना था कि यहां विश्वविद्यालय बने, जिसे देश व प्रदेश की सरकार ने पूरा किया। महाराजा सुहेल देव के नाम पर विश्वविद्यालय के निर्माण का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। अब नौजवानों को बेहतर व उच्च शिक्षा के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। विकास परियोजनाओं से ही देश, प्रदेश व समाज में खुशहाली आती है। उन्होंने कहा कि सांसद एवं अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर जिलाधिकारी ऐसा प्रस्ताव तैयार करें, जिससे ब्लैक पॉटरी से अधिक से अधिक रोजगार के अवसरों का सृजन हो। ओ0डी0ओ0पी0 के उत्पाद के लिए जनपद में कॉमन फैसिलिटी सेण्टर स्थापित किए जाएंगे। इसके लिए एम0एस0एम0ई0 विभाग और जिला प्रशासन योजना बनाकर कार्य करे।

आजमगढ़ में एक वृहद रोजगार मेले का आयोजन किया जाए, ताकि यहां के नौजवानों को नियुक्ति पत्र प्राप्त हो सके। विगत 05 वर्ष के दौरान बिना किसी भेदभाव के प्रदेश के 05 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी प्रदान की गयी है। युवाओं को योग्यता अनुरूप रोजगार मिले, यही प्रदेश सरकार का उद्देश्य है। मुख्यमंत्री फेलोशिप कार्यक्रम के माध्यम से विश्वविद्यालय, महाविद्यालय, पॉलीटेक्निक, इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों को उद्योगों से जोड़ा जा रहा है। इन छात्रों को सरकार व उद्योगों द्वारा निश्चित मानदेय प्रदान किया जाएगा। इसके साथ-साथ दक्षता में भी वृद्धि होगी और आजीविका का भी संकट दूर होगा।


जब युवा स्वावलम्बन की ओर अग्रसर होता है, तो समाज व राष्ट्र की भी उन्नति होती है। नौजवान प्रदेश की ताकत हैं। इन्हें तकनीक से युक्त करने के लिए 02 करोड़ स्मार्ट फोन/टैबलेट दिए जाएंगे। अब तक 15 लाख टैबलेट और स्मार्ट फोन वितरित किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि बिना किसी भेदभाव के आजमगढ़ के विकास का कार्य किया गया है। प्रधानमंत्री जी ने जनपद को पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे से जोड़ा है। जनपद आजमगढ़ में मंदुरी स्थित एयरपोर्ट लगभग बनकर तैयार हो गया है। शीघ्र ही, इसका लोकार्पण किया जाएगा। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे जनपद में लगभग 18 कि0मी0 तक जुड़ा हुआ है। रोड और एयरपोर्ट के जुड़ने से देश के उद्यमी यहां आकर उद्योग स्थापित करेंगे, जिससे यहां के युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त होंगे।


आजमगढ़ की धरती बड़े साहित्यकारों, लेखकों एवं कवियों की धरती रही है। साहित्यकार रांगेय राघव जी की रचनाओं पर आजमगढ़ विश्वविद्यालय में शोध पीठ की स्थापना की जाएगी। हरिहरपुर संगीत की परम्परा विश्वविख्यात है। इस संगीत परम्परा को और अधिक मजबूती के साथ आगे बढ़ाना होगा। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि उन्होंने कोरोना काल में जनपद का 03 बार दौरा किया। विकट समय में प्रदेश सरकार ने जनता को भरपूर सहयोग प्रदान किया।

आज हम सभी सौभाग्यशाली हैं कि आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री जी के संकल्प को पूरा करते हुए ‘हर घर तिरंगा’ कार्यक्रम के तहत आगामी 13 से 15 अगस्त तक सभी लोग अपने-अपने घर पर तिरंगा फहराएं। समस्त स्कूल और कॉलेजों का दायित्व है कि इस दौरान प्रभात फेरी निकालें, क्रांतिकारियों का स्मरण करें एवं बच्चों को बलिदानियों की वेशभूषा से सुसज्जित करें। उन्होंने कहा कि आजादी के शताब्दी वर्ष महोत्सव को लक्ष्य बनाते हुए प्रत्येक देशवासी पूरी ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करे तो देश को दुनिया की सबसे बड़ी ताकत बनने से कोई नहीं रोक सकता।


मुख्यमंत्री ने आई0टी0आई0 मेंहनगर,आई0टी0आई0 मार्टिनगंज, घाघरा नदी के दाएं तट पर स्थित गांगेपुर मठिया रिंग तटबंध, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र छाऊ मोहम्मदपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र फूलपुर को उच्चीकृत करते हुए 100 शैय्या चिकित्सालय भवन, ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट आजमगढ़ के निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। साथ ही, मुख्यमंत्री जी ने लारपुर साहब अली सम्पर्क मार्ग, कृषि विज्ञान केन्द्र कोटवा फार्म का सुदृढ़ीकरण, मल्टीपरपज सीड स्टोर एवं टेक्नोलॉजी डिसमिनेशन सेण्टर अतरौलिया तथा परशुरामपुर से एम0जी0 बंधा सम्पर्क मार्ग के निर्माण कार्यों का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री जी द्वारा विभिन्न योजनाओं के 20 पात्र लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चेक/स्वीकृति पत्र/आवास की चाभी प्रदान की गयी। मुख्यमंत्री ने आगामी स्वतंत्रता दिवस, रक्षाबन्धन एवं जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई भी दी।