योगी का फरमान एडेड स्कूलों में अधिक फीस वसूली की हो जाँच

सीएम योगी का फरमान एडेड स्कूलों में अधिक फीस वसूली की हो जाँच, सभी डीआईओएस टीमें गठित कर करेंगे स्कूलों में जाँच।

लखनऊ। यूपी के एडेड स्कूलों में अधिक फीस वसूली को लेकर सीएम योगी ने अब जांच की तैयारी शुरू कर दी है। इन स्कूलों की जांच के लिए डीआईओएस की टीमें बनाई जाएंगी जो इन स्कूलों की जांच करेंगे। दरअसल फर्रुखाबाद में तयशुदा फीस से ज्यादा वसूलने के बाद अब पूरे प्रदेश के सभी एडेड माध्यमिक स्कूलों की जांच होगी।

सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों से जिला स्तर पर टीमें गठित कराकर तयशुदा फीस से अधिक शुल्क वसूलने की जांच की जाएगी। ये जांच गोपनीय तरीके से की जाएगी। अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिया है। 28 जुलाई तक प्रदेश भर की जांच रिपोर्ट तलब की गई है।

प्रदेश में 5483 एडेड स्कूल हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कैबिनेट मंत्रियों को सरकारी योजनाओं का हाल लेने के लिए जिलों में भेजा गया था। उन्हें यह देखना था कि सरकार की योजनाएं प्रदेश के आखिरी आदमी तक पहुंच रही है। इस दौरान तय फीस से ज्यादा शुल्क लेने के मामले भी सामने आए हैं। फर्रुखाबाद में मंत्री से एडेड माध्यमिक विद्यालय में छात्र-छात्राओं से अधिक शुल्क या मनमाने तरीके से शुल्क वसूलने की शिकायत हुई है।

आराधना शुक्ला ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश भर में सभी माध्यमिक कालेजों की गोपनीय जांच की जाए ताकि सच सामने आए। इसके लिए डीआइओएस टीमें गठित कर अभिभावक व छात्र-छात्राओं से बात करें और जांच करे। खास जोर उन स्कूलों पर रहेगा जिन स्कूलों में वित्तविहीन कक्षाएं भी चलती हैं।