केन्द्र प्रभारी एवं निरीक्षक सीधे किसानों से धान क्रय करें-जिलाधिकारी

67

अयोध्या – जिलाधिकारी अनुज कुमार झा द्वारा धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट कहा कि केन्द्र प्रभारी एवं विपणन निरीक्षक सीधे किसानों से धान क्रय करें तथा उनके न्यूनतम मूल्य का समय से भुगतान सुनिश्चित करें। किसी प्रकार से विचैलियों से धान न क्रय किया जाय। जिलाधिकारी ने धान क्रय केन्द्रों पर किसानों को ठंड से बचाव हेतु अलाव जलाने की व्यवस्था के साथ स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था के निर्देश दिये। इसी क्रम में जिलाधिकारी द्वारा आज किसान मण्डी केन्द्र अयोध्या का निरीक्षण किया गया।

मौके पर नवीन मण्डी के कर्मचारी मिले तथा मौके पर किसान श्री अशोक वर्मा के धान की छनाई एवं तौल को देखा तथा दूसरे किसान रमाशंकर मिश्र की लगभग 50 कुन्तल धान तौल के लिए ट्राली पर रखा गया था। विपणन निरीक्षक ने बताया कि प्रतिदिन 4 से 5 गाड़ियों में धान उठान होता है। जिलाधिकारी ने इसकी मात्रा बढ़ाने हेतु निर्देश दिया तथा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने को कहा।

जिलाधिकारी द्वारा अगले चरण में अस्थायी गोवंश, आश्रय स्थल, सेमरा बीकापुर का निरीक्षण किया गया जहां पर कुल 50 गोवंश मिले जिसमें 38 नर और 12 मादा गोवंश थे। गोवंश को पशु आहार दिया जा रहा है तथा मौके पर अलाव जलता हुआ पाया गया।

जिलाधिकारी ने सभी गौशालाओं पर ठंड से बचाव हेतु टीन शेड के चारों तरफ प्लास्टिक का तिरपाल लगाने तथा ठंड से बचाव हेतु सभी आवश्यक उपाय करने को कहा तथा यह भी कहा कि ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित किया जाय कि आम जनमानस के साथ साथ पशुओं को ठंड से बचाव हेतु पर्याप्त व्यवस्था हो इसमें किसी भी प्रकार से संसाधन में कोई कमी आने नही दी जायेगी।

जिलाधिकारी द्वारा अगले चरण में गोवंश आश्रय स्थल चीरे चन्दौली का निरीक्षण किया वहां पर भी 50 पशु मिले जिसमें 33 नर और 17 मादा थे। मौके पर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, सम्बंधित केन्द्र प्रभारी आदि उपस्थित थे।