ईद-उल-अजहा सद्भाव-सहयोग-समर्पण, त्याग और बलिदान का त्योहार

 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ईद-उल-अजहा के मुबारक मौके पर मुस्लिम भाईयों को बधाई देते हुए कहा है कि यह त्योहार सद्भाव-सहयोग-समर्पण, त्याग और बलिदान का भी संदेश देता है।श्री यादव ने उम्मीद जताई है कि कोरोना महामारी की वजह से सभी भाई सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए इसके संक्रमण से बचने के उपाय अपनाएंगे।अखिलेश यादव ने उम्मीद जताई कि कोरोना महामारी से समाज जल्द ही बाहर निकल कर पुनः सामान्य स्थिति में गतिशील होगा।

उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित ने ईद-उल-अजहा की पूर्व संध्या पर प्रदेशवासियों को दिली मुबारकबाद,  दी हैं। विधान सभा अध्यक्ष ने अपने संदेश में कहा है कि ईद-उल-अजहा (बकरीद) इस्लाम धर्म में विश्वास करने वाले लोगों का प्रमुख त्यौहार है। कोरोना महामारी के दृष्टिगत सामाजिक दूरी बनाये रखते हुए इस दिन को आपसी सौहार्द एंव हर्षोल्लास के साथ मनाया जाना चाहिए।

उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सभापति कुॅवर मानवेन्द्र सिंह ने ईद-उल-जुहा (बकरीद) पर्व के सुअवसर पर समस्त प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि त्याग व बलिदान का प्रतीक बकरीद का पर्व परस्पर स्नेह, सौहार्द और भाईचारे की भावना को सुदृढ़ बनाने के साथ ही सभी के जीवन में सुख समृद्धि व खुशहाली लाने में सहायक होगा ।सभापति विधान परिषद ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि कोरोना महामारी के दृष्टिगत सामाजिक दूरी बनाए रखते हुए इस दिन को आपसी सौहार्द एवं हर्षोल्लास के साथ मनाए ।