इंडिया गठबंधन लड़ रहा लड़ाई

36
इंडिया गठबंधन लड़ रहा लड़ाई
इंडिया गठबंधन लड़ रहा लड़ाई

संविधान,लोकतंत्र व आरक्षण को बचाने के लिए इंडिया गठबंधन लड़ रहा लड़ाई। 17 अतिपिछड़ी जातियों के साथ भाजपा ने किया वादाखिलाफी-लौटनराम निषाद इंडिया गठबंधन लड़ रहा लड़ाई

संतकबीरनगर। समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी लक्ष्मीकांत पप्पू निषाद के समर्थन में घनघटा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत जिगना,राम जंगला,खैरा, गुलरिया,तेजपुर,नारायणपुर,पैकवलिया कलां,तिघरा,गायघाट पूर्वी व दक्षिणी, हैंसर बाजार में चुनावी पीडीए ज़न पंचायत आयोजित किया गया। भाजपा सरकार लोकतंत्र,संविधान और आरक्षण को खत्म करने में जुटी हुई है जिसे बचाने के लिए इंडिया गठबंधन चुनाव लड़ रहा है। ज़न पंचायत को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुए समाजवादी पिछड़ावर्ग प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष चौ.लौटनराम निषाद कहा कि लेटरल इंट्री,निजीकरण पूरी तरह असंवैधानिक एवं पिछड़ा दलित विरोधी है। उन्होेंने कहा कि बहुजन समाज संक्रमण के दौर से गुजर रहा है। संवैधानिक संस्थाओं को नष्ट किया जा रहा है। पिछड़े दलित अल्पसंख्यक, आदिवासी एकजुट होकर 2024 में भाजपा को नहीं हटाये तो बहुजन समाज गुलामी के दौर में चला जायेगा। वर्तमान सरकार में जातिवाद का नंगा नाच किया जा रहा है।संविधान, लोकतंत्र व सामाजिक न्याय को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है।आमजन राम के अनुयायी हैं और भाजपा राम की व्यवसायी है।मंडल कमीशन विरोधी भाजपा कभी ओबीसी,एससी,एसटी की हितैषी नहीं हो सकती।जिस तरह बिल्ली से दूध और जंगली कुत्ते से मेमना की रखवाली असम्भव है,वैसे ही मनुस्मृति में विश्वास रखने वाली आरएसएस नियंत्रित भाजपा से संविधान, लोकतंत्र व आरक्षण की रखवाली असम्भव है।

लौटन राम निषाद ने पीडीए जनपंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि मान्यवर कांशीराम जी ने बहुजन समाज का निर्माण किए लेकिन मायावती ने सर्वजन की बात कर समाज को भटका दिया है।वर्तमान में मायावती भाजपा के ईडी,सीबीआई, आईटी के डर से अनर्गल बयानबाजी भाजपा की बी-टीम की तरह काम कर रही हैं।वह दलित वर्ग को अपने हाथ की कठपुतली समझने की भूल कर रही हैं।उन्होंने कहा की भाजपा राममंदिर व धर्म का मुद्दा आगे कर नफरत फैलाने व किसानों,छात्र- नौजवानों का ध्यान असल मुद्दों से भटकाने का षडयंत्र किया जा रहा।मंहगाई, बेरोजगारी,शिक्षा, रोजगार,नौकरी,किसानों की समस्या पर चर्चा न हो,इसके लिए धार्मिक मुद्दों को उछालकर गुमराह कर रही हैं।

वीआईपी जिलाध्यक्ष हीरालाल निषाद ने कहा कि राम- निषादराज की मित्रता का हवाला देकर भाजपा निषाद समाज की मल्लाह, बिन्द, केवट,कश्यप का वोट तो लिया,पर निषाद,राजभर, प्रजापति सहित 17 अतिपिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति का दर्जा व निषाद मछुआरों का परम्परागत अधिकार दिलाने पर चुप्पी साध वादाखिलाफी कर रही है।उन्होंने सुभासपा व निषाद पार्टी को ओमप्रकाश राजभर व संजय निषाद एंड फेमिली की प्रा.लि.ठग कम्पनी बताते हुए कहा कि इनका अपने समाज के मान-सम्मान, अधिकार से नहीं सिर्फ अपने परिवार से मतलब है।सपा सरकार ने निषाद-समाज का मान- सम्मान,पहचान दिलाने के लिए निषादराज जयंती का सार्वजनिक छुट्टी किया था,जिसे योगी ने खत्म कर दिया,फूलन देवी जी की मूर्ति नहीं लगने दिया।बालू-मोरम खनन व मत्स्य पालन पट्टा के अधिकार को खत्म कर दिया। सपा नेता के. डी.यादव ने कहा कि ईवीएम अलोकतांत्रिक है। ईवीएम से बनी भाजपा सरकार लोकतंत्र, संविधान और सामाजिक न्याय को कुचलने में जुटी हुई है। वर्तमान में अघोषित आपातकाल की स्थिति पैदा हो गई है, देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है और सरकारी संस्थानों, उपक्रमों का निजीकरण के ओबीसी, एससी, एसटी का संवैधानिक अधिकार छिना जा रहा है।इस तानाशाह संविधान विरोधी सरकार को हटाने के लिए पीडीए समाज को एकजुट होने की जरूरत है।उन्होंने संत कबीर नगर से सपा प्रत्याशी लक्ष्मीकांत पप्पू निषाद को साईकिल वाली बटन दबाकर चुनाव जिताने का आह्वान किया।चुनावी पीडीए जनपंचायत को के.पी.यादव, हीरालाल निषाद, रामलाल निषाद,अच्छेलाल निषाद, रामलाल कन्नौजिया, ओंकार यादव,रामलाल निषाद प्रधान ,संजय निषाद प्रधान आदि ने भी सम्बोधित किया। इंडिया गठबंधन लड़ रहा लड़ाई