नौनिहालों का राशन डकार गया कोटेदार

60
नौनिहालों का राशन डकार गया कोटेदार
नौनिहालों का राशन डकार गया कोटेदार

योगी सरकार के नौनिहालों का राशन डकार गया कोटेदार। योगी सरकार के नौनिहालों का राशन डकारने वाले कोटेदार पर अधिकारी मेहरबान, प्रधानाध्यक ने जांच की उठाई मांग।

पंकज कुमार

अयोध्या/रुदौली। एक तरफ योगी सरकार बच्चों के मिड डे मील के लिए राशन मुहैया करवा रही है तो दूसरी तरफ योगी के नौनिहाल बच्चों के राशन को डकारने वाले कोटेदार पर अधिकारी मेहरबान है। मामला जनपद अयोध्या के रुदौली ब्लाक के कंपोजिट विद्यालय सरैठा का है जहां मिली जानकारी के अनुसार पूर्व माध्यमिक विद्यालय वा प्राथमिक विद्यालय के बच्चों के मिड डे मील का कुल 37 कुंतल 42 किलो खाद्यान्न कोटेदार डकार गया।

आपको बता दें कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा एबीएसए से लेकर डीएम अयोध्या तक शिकायत कर कोटेदार पर कार्रवाई की मांग की है। आपको बता दें कि रुदौली ब्लाक के कंपोजिट विद्यालय के प्रधानाध्यापक नानक शरन से मिली जानकारी के अनुसार पूर्व माध्यमिक विद्यालय में बच्चों का भोजन बनाने के लिए 11 कुंतल 64 किलो चावल वा 7 कुंतल 95 किलो गेहूं कुल 19 कुंतल 59 किलो खाद्यान्न वा प्राथमिक विद्यालय के बच्चों का 8 कुंतल 78 किलो चावल वा 9 कुंतल 4 किलो गेंहू कुल 17 कुंतल 83 किलो खाद्यान्न मार्च 2021 से मार्च 2023 तक का नहीं मिलने पर प्रधानाध्यापक नानक शरण सिंह की ओर से लिखित शिकायत की गई है। कोटेदार ने कुल 37 कुंतल 42 किलो खाद्यान्न प्रधानाध्यापक को दिया ही नहीं।

वहीं प्रधानाध्यापक नानक शरन ने बताया कि यदि कोटेदार के खाद्यान्न का स्टॉक रजिस्टर से मिलान कर लिया जाए तो मामला एक दम आइने की तरह साफ किया जा सकता है। आगे बताते चलें कि जब सरकारी अध्यापक द्वारा विद्यालय के बच्चों के खद्यान्न न मिलने पर शिकायत किया गया और जिम्मेदार अधिकारी मौन हैं तो आम जनता की शिकायतों का क्या होता होगा ये आम जनमानस का सबसे बड़ा सवाल है जो कि क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। नौनिहालों का राशन डकार गया कोटेदार