‘पीएम विश्वकर्मा’ योजना का शुभारंभ

284
'पीएम विश्वकर्मा' योजना का शुभारंभ
'पीएम विश्वकर्मा' योजना का शुभारंभ

पीएम विश्वकर्मा योजना से भारत की छिपी हुई कारीगरी और हुनर को मिलेगा नया मंच। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘पीएम विश्वकर्मा’ योजना का शुभारंभ किया। अपने हस्तशिल्पियों और कारीगरों के बल पर भारत एक बड़ी ताकत के रूप में उभरेगा। ‘वोकल फार लोकल’ उसको प्रोत्साहित करने का कार्यक्रम है ‘पीएम विश्वकर्मा ‘ योजना’। ‘पीएम विश्वकर्मा’ योजना का शुभारंभ

ब्यूरो निष्पक्ष दस्तक

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ‘पीएम विश्वकर्मा’ योजना’ आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को एक नई ऊंचाई तक पहुंचाने का कार्य करेगी। इससे भारत की छिपी हुई कारीगरी और हुनर को नया मंच मिलेगा। आने वाले समय में अपने हस्तशिल्पियों और कारीगरों के बल पर भारत एक बड़ी ताकत के रूप में उभरेगा। उन्होंने कहा कि यह योजना ‘वोकल फार लोकल’ को प्रोत्साहित करने का कार्यक्रम है। सीएम योगी ने रविवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में ‘पीएम विश्वकर्मा’ योजना का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सृष्टि के शिल्पी भगवान विश्वकर्मा जयंती और नए भारत के शिल्पी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्मदिवस एक ही दिन पड़ना कोई संयोग नहीं बल्कि देवयोग है। इसके लिए उन्होंने प्रदेशवासियों को बधाई दी।

योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में नया भारत 140 करोड़ लोगों की आशा और आकांक्षाओं का प्रतीक बनकर दुनिया की एक महाशक्ति के रूप में उभरा है। आज नया भारत संपूर्ण मानवता के लिए आशा की एक नई किरण है। उन्होंने कहा कि जी-20 समिट सफल आयोजन के के माध्यम से भारत ने वैश्विक स्तर पर अपनी ताकत का एहसास पूरी दुनिया को कराया है। आज प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व का लोहा पूरी दुनिया मान रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों के मन में भरा नया आत्मविश्वास। योगी ने प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर उनके जीवन पर आधारित प्रदर्शनी का किया अवलोकन।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों के मन में भरा नया आत्मविश्वास। योगी ने प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर उनके जीवन पर आधारित प्रदर्शनी का किया अवलोकन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संसद में प्रदेश का प्रतिनिधित्व करना हमारा सौभाग्य। योगी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 73वें जन्मदिन पर प्रदेश सरकार और प्रदेशवासियों की ओर से दी बधाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश के 140 करोड़ जनमानस के मन में जहां एक नया आत्मविश्वास भरा है, वहीं वैश्विक मंच पर भी भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है। भारत के नागरिकों के प्रति भी एक सम्मान का भाव दुनिया के अंदर देखने को मिला है। ये बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर हजरतगंज के जीपीओ पर उनके जीवन पर आधारित प्रदर्शनी के अवलोकन पर कही। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 73 वें जन्मदिन पर प्रदेश सरकार और प्रदेशवासियों की ओर उन्हे जन्मदिन की बधाई देते हुए उनके उत्तम और दीर्घ जीवन की कामना की।

हमारा सौभाग्य कि पीएम संसद में करते हैं देश का प्रतिनिधित्व


देश की संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हैं, यह हम सबका सौभाग्य है। पिछले साढ़े नौ वर्ष में प्रधानमंत्री के नेतृत्व में 140 करोड़ की देश की आबादी ने एक नए भारत को उभरते और आगे बढ़ते हुए देखा है। वहीं दुनिया ने भी एक नए भारत का दर्शन किया है। आजादी के बाद पहली बार बिना भेदभाव के शासन की योजनाओं का लाभ समाज के प्रत्येक तबके तक पहुंचना, अपनी अभिनव योजनाओं के माध्यम से गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाएं और युवाओं के लिए जो कार्यक्रम पिछले साढ़े नौ वर्ष में प्रारंभ हुए हैं, इन्होंने देश के करोड़ों लोगों के जीवन में व्यापक परिवर्तन करने का कार्य किया है।

मुख्यमंत्री योगी ने पीएम विश्वकर्मा योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस स्कीम का लाभ परंपरागत रूप से जुड़े 18 वर्ष की आयु से ऊपर के हस्तशिल्पियों को मिलेगा। उसे पांच प्रतिशत से कम की दर पर पहले चरण में एक लाख और दूसरे चरण में दो लाख रुपये का लोन प्राप्त होगा। बशर्ते उसके परिवार का कोई सदस्य सरकारी सेवा में न हो। स्कीम के तहत ट्रेनिंग के दौरान पांच सौ रुपये प्रतिदिन का मानदेय और ट्रेनिंग के बाद 15000 रुपये और टूलकिट उपलब्ध करवाने का कार्य सरकार करेगी। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी, वित्त एवं संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना, महापौर सुषमा खरकवाल और पूर्व मंत्री और विधान परिषद सदस्य डॉ. महेन्द्र सिंह और पूर्व मंत्री मोहिसीन रजा समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री योगी ने गिनाई पीएम मोदी की उपलब्धियां


मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार किसान के साथ कृषि को शासन के एजेंडे की प्राथमिक सूची में शामिल किया गया है। इतना ही नहीं युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के साथ उन्हे स्वरोजगार से जोड़ने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं राष्ट्रीय शिक्षा नीति, डिजिटल इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, पीएम मुद्रा की योजनाएं, बेटियों और महिलाओं के लिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ समेत अनेक योजनाओं के जरिये देशवासियों के जीवन में व्यापक परिवर्तन करके एक नया आत्मविश्वास भरा है। पूरे विश्व में योग को वैश्विक मान्यता मिलना, कोरोना महामारी के दौरान दुनिया भर में आयुष पद्धति के प्रति रुझान बढ़ना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में उभरते भारत की नयी तस्वीर को दर्शाता है। वहीं काशी में काशी विश्वनाथ धाम, उत्तराखंड के चार धाम, सोमनाथ का पावन मंदिर और महाकाल का महालोक, इन सबको अपने सामने वर्तमान पीढ़ी एक नए रूप में देख रही है। यही नहीं अयोध्या में 500 वर्षों के बाद राम जन्मभूमि पर भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण विरासत के प्रति सम्मान और अटूट आस्था का भाव प्रदर्शित करता है।

डिजिटल इंडिया लेकर आई देश में परिवर्तन की नई क्रांति


मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन से ही डिजिटल इंडिया के जरिये देश में परिवर्तन की नई क्रांति देखने को मिली है। साथ ही भ्रष्टाचार पर प्रहार इसका उदाहरण है। वहीं बिना भेदभाव के गरीबों को मकान, रसाेई गैस कनेक्शन, टॉयलेट, गरीब के घर में उजियारे के लिए सौभाग्य योजना जैसी अनेक कल्याणकारी योजनाएं अपने नागरिकों के प्रति सरकार की संवेदना को व्यक्त करती है, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बखूबी करके दिखाया है। ऐसे यशस्वी नेतृत्व के धनी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर लगी प्रदर्शनी के जरिये प्रदेशवासी और नई पीढ़ी को उनके जीवन के विभिन्न पहलुओं से नई प्रेरणा प्राप्त होने के साथ समाज और राष्ट्र के प्रति समर्पण का एक नया भाव पैदा होगा।