महाशिवरात्रि का पर्व सुरक्षा एवं कानून तथा यातायात व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश

122

अयोध्या – जनपद में 11 मार्च 2021 को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जायेगा। पर्व पर शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के शिवालयों/मंदिरों पर श्रद्वालुओं की सम्भावित भीड़ तथा कोतवाली अयोध्या/नगर तथा थाना कैंट क्षेत्रों में निकाली जाने वाली शिव बारातों, शोभायात्राओं आदि धार्मिक कार्यक्रमों को दृष्टिगत रखते हुये जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने निर्देश दिये है कि समस्त उपजिलाधिकारी जनपद अयोध्या अपनी अपनी तहसील के सम्पूर्ण क्षेत्रों में सम्बंधित पुलिस क्षेत्राधिकारियों के समन्वय कर लोक शान्ति, सुरक्षा एवं कानून तथा यातायात व्यवस्था बनाये रखने हेतु समुचित व्यवस्था करें।

महाशिवरात्रि का पर्व दिनांक 11 मार्च 2021 को मनाया जायेगा, जिसमें स्थानीय श्रद्वालुओं के साथ-साथ सीमावर्ती जनपदों गोंडा, बस्ती, बलरामपुर, सुल्तानपुर, अम्बेडकरनगर व बाराबंकी आदि से श्रद्वालु सरयू नदी से स्नान करने एवं कांवर लेकर कांवड़ियें अयोध्या आते है तथा इसके अतिरिक्त प्रयागराज से स्नान करने के बाद श्रद्वालु लौटते समय स्नान एवं दर्शन पूजन करते है, जिसके कारण महाशिवरात्रि के बाद दो-तीन दिन तक भीड़ लगातार बनी रहती है।

जिलाधिकारी द्वारा सम्बंधित अधिकारियों को समुचित व्यवस्था कराये जाने हेतु निर्देश दिये गये। मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा स्नान घाट एवं नागेश्वरनाथ व हनुमानगढ़ी के आसपास चिकित्सा सुविधा हेतु अस्थायी प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र जीवन रक्षक औषधियों एवं चिकित्सकों के साथ व्यवस्था किये जायेंगे तथा नया घाट, नागेश्वरनाथ मंदिर व हनुमानगढ़ी पर आकस्मिक चिकित्सा व्यवस्था हेतु एक-एक एम्बुलेंस मय स्टेªचर रखे जायेंगे। श्रीराम चिकित्सालय में 10 बेड आरक्षित रखे जाय, डियुटी पर लगाये गये अधिकारी/कर्मचारियों की सूची मोबाइल नम्बर सहित उपलब्ध करायेंगे। सभी सीएचसी/पीएचसी डाक्टरों की उपस्थिति सुनिश्चित करेंगे।


जिलाधिकारी द्वारा घाट व मुख्य मंदिरों पर मजिस्टेटों की डियुटी लगा दी गयी है। उन्होंने अभिहित अधिकारी को निर्देश दिये कि टीम बनाकर निरन्तर खाद्य पदार्थो की चेकिंग ढाबे, रेस्टोरेंट, होटल आदि में सुनिश्चित करेंगे। समस्त अधिशाषी अभियन्ता, विद्युत वितरण खण्ड पर्व पर अयोध्या जनपद व उसके आसपास के क्षेत्रों में शांति, सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टि से लगातार 24 घंटे निर्बाध रूप से विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करायें।

अधिशाषी अभियन्ता सरयू नहर खण्ड सरयू नदी के विभिन्न घाटों पर लगी लाईटों को उर्जित कराने एवं जहां जहां सीढ़ियों व घाट के पत्थर टूटे हो तुरंत ठीक करायें। नगर निगम अयोध्या विभागीय सड़कों की मरम्मत, सड़कों, मोहल्लों एवं प्रमुख स्थलों की सफाई, प्रकाश, टैंकर से जलापूर्ति, नलकूपों का संचालन, हनुमानगढ़ी, नागेश्वरनाथ, क्षीरेश्वरनाथ मंदिरों पर पर्याप्त बालू/श्रमिक की उपलब्धता सुनिश्चित करायें। छुट्टा जानवरों को पकड़कर पशुशालाओं में बंद कर दिया जाय। सफाई कर्मियों की टीम गठित कर साकेत पेट्रोल पम्प से बन्धा तिराहा तक सड़क की सफाई व धुनाई योजना बनाकर सुनिश्चित करायें।

जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा महाशिवरात्रि के अवसर पर आवश्यक सफाई कर्मचारी की डियुटी लगाकर नगर निगम अयोध्या को उपलब्ध कराये। अधीक्षक जिला उद्यान गुप्तारघाट एवं अयोध्या की उद्यानों/पार्को को व्यवस्थित कराये। पुलिस अधीक्षक नगर ने शिव बारात मार्ग पर सुरक्षा की व्यवस्था स्थापित कर स्थिति पर सतर्क दृष्टि रखने, पुलिस प्रशासन द्वारा पूर्व से ही यातायात, भीड़ को नियंत्रण हेतु मुख्य स्थानों/प्रमुख मंदिरों पर अतिरिक्त पुलिस व्यवस्था सुनिश्चित कर सतर्क दृष्टि रखने हेतु पर्याप्त पुलिस बल की उपलब्धता एवं अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं कराने तथा किसी भी प्रकार की संदिग्ध घटना, वस्तु के बारे में तत्काल जिला/पुलिस प्रशासन को अवगत कराये।


मेले के दौरान आये श्रद्वालुओं की सुख-सुविधा हेतु सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में सफाई, प्रकाश, पेयजल, आवश्यक खाद्य वस्तुओं/केरोसिन, प्राथमिक उपचार, यातायात, सुरक्षा आदि की पर्याप्त व्यवस्था ससमय अवश्य ली जाएं, जिससे मेले के दौरान किसी भी प्रकार की अव्यवस्था न उत्पन्न होने पाये। सभी उपजिला मजिस्टेªट, रेजीडेंट मजिस्टेट एवं नगर मजिस्टेट अपने अपने क्षेत्र के थानों/चैकी के प्रभारी/क्षेत्राधिकारी को आदेश दिये गये है।