मनरेगा से निखर रही ग्रामीण खेल प्रतिभाएं-उपमुख्यमंत्री

65
मनरेगा से निखर रही ग्रामीण खेल प्रतिभाएं-उपमुख्यमंत्री
मनरेगा से निखर रही ग्रामीण खेल प्रतिभाएं-उपमुख्यमंत्री

मनरेगा से बने खेल मैदानों से निखर रही ग्रामीण खेल प्रतिभाएं। ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं, बुजुर्गो व बच्चों को मिल रहा लाभ। वर्तमान वित्तीय वर्ष 2023-24 मे अब तक 8 हजार से अधिक खेल मैदानों का निर्माण किया जा चुका है। मनरेगा से निखर रही ग्रामीण खेल प्रतिभाएं-उपमुख्यमंत्री

लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के नेतृत्व व निर्देशन में उत्तर प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए ग्रामीण इलाकों में मनरेगा से लगातार खेल मैदान बनवाये जा रहे हैं। ग्राम्य विकास विभाग द्वारा मनरेगा के तहत गाँवों में मैदानों का निर्माण कराया जा रहा है। खेल मैदानों के बनने की संख्या में इजाफा हो रहा है।इस वित्तीय वर्ष में जनवरी की शुरुआत में जहां सात हजार मैदान बनकर तैयार हुये थे, अब उनकी संख्या बढ़कर आठ हजार से अधिक हो गई है। इससे नई प्रतिभाएं तो निखर ही रही हैं, साथ ही मनरेगा के तहत इन खेल मैदानों का निर्माण होने की वजह से श्रमिकों को निरंतर रोजगार भी मिल रहा है।

केशव प्रसाद मौर्य के निर्देशन में प्रदेश के छोटे से छोटे गाँव से प्रतिभाओं को निखारने के लिये ग्राम्य विकास विभाग की ओर से बनाई गई कार्य योजना से खेल मैदानों का निर्माण हो रहा है। वित्तीय वर्ष 2017-18 से वित्तीय वर्ष 2023-24 में अब तक लगभग 33,609 खेल मैदानों का निर्माण पूरा जो चुका है। वर्तमान वित्तीय वर्ष 2023-24 मे अब तक 8 हजार से अधिक खेल मैदानों का निर्माण किया जा चुका है। खेल मैदानों के बनने की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिससे ग्रामीणों में ख़ुशी के साथ खेल के प्रति जागरूकता भी साफ़ बढ़ती नजर आ रही है। इन मैदानों के बनने से जहां ग्रामीण इलाके के युवाओं ,बच्चों व बुजुर्गों को इससे लाभ मिल रहा है ,वहीं इसके बनने से श्रमिकों को रोजगार भी मनरेगा के माध्यम से मिल रहा है। मनरेगा से निखर रही ग्रामीण खेल प्रतिभाएं-उपमुख्यमंत्री