अग्नीपथ योजना से देश का युवा आक्रोशित- राहुल गांधी

अंशू अवस्थी

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस जनों और शुभचिंतकों से अपने जन्मदिन को न मनाने की अपील की,देश में चारों तरफ बदहाल हालात पर चिंतित हो राहुल गांधी ने की अपील,युवाओं की बेरोजगारी और उनके परिवारों की पीड़ा को लेकर खासे चिंतित हैं राहुल गांधी,पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज अपने जन्मदिवस पर पूरे देश भर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं नेताओं और शुभचिंतकों से अपना जन्मदिवस न मनाने की अपील की है उन्होंने अपील जारी करते हुए कहा “मैं देशभर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं व अपने शुभचिंतकों से अपील करता हूं की मेरे जन्मदिन के अवसर पर कल किसी तरह का उत्सव न मनाएं। देशभर में उपजी परिस्थितियों से हम सभी चिंतित हैं। करोड़ों युवाओं का मन दुखी है। हम इन युवाओं की, करोड़ों परिवारों की पीड़ा को साझा करें,उनके साथ खड़े हों।”

प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के संयोजक और प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने बयान जारी करते हुए कहा विगत है कि राहुल गांधी विपक्ष के नेता के रूप में लगातार देश के युवाओं, किसानों और अन्य समस्याओं को उठाते रहे हैं इसको लेकर कई बार उन्होंने भाजपा केंद्र सरकार को पत्र भी लिखे और सुझाव भी दिए नोटबंदी के समय भी राहुल गांधी ने सरकार के इस निर्णय पर सवाल उठाए थे कि इससे अर्थव्यवस्था का नुकसान होगा परिणाम अच्छे नहीं हुए, चीन द्वारा भारतीय सीमा के अतिक्रमण के समय भी राहुल गांधी ने सबसे पहले सवाल उठाया उस समय सरकार ने नकारा था लेकिन बाद में सच यही निकला कि चीन ने भारत की सीमा में अतिक्रमण किया।

कोरोना समय भी राहुल गांधी ने सबसे पहले सरकार को लेकर चेताया था उस समय भी सरकार ने लापरवाही की थी परिणाम स्वरूप भयावहता और बढ़ गई अंशू अवस्थी ने कहा कि अग्निपथ योजना को लेकर सबसे पहले राहुल गांधी ने युवाओं की चिंता को सरकार के सामने रखा है पूरे देश में युवा आक्रोशित हैं ऐसे समय में जब देश में 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी का आंकड़ा 7.90 दर से भी आगे निकल चुका है, केंद्र और राज्य सरकारों में 62 लाख से ज्यादा पद खाली पड़े हैं लेकिन सरकार उनकी भर्ती न करके, युवाओं के हितों और भविष्य की चिंता के बिना अनुभवहीन अग्निपथ योजना लाकर युवाओं का भविष्य अंधकार में कर रही है, CMIE ने जनवरी में अपनी जारी रिपोर्ट में भी चिंता जाहिर की थी कि लेबर फोर्स पार्टीसिपेशन रेट घटकर 39.7 प्रतिशत रह गया जो 2016 में 47% था, सबसे युवा देश जिसकी औसत आयु 28 वर्ष है वहां राहुल गांधी बेरोजगारी को लेकर भाजपा की गलत नीतियों पर चिंतित हैं।

अग्निपथ योजना को लेकर सबसे पहले राहुल गांधी ने कहा कि यह योजना देश के युवाओं और सेना के हित में नहीं है सरकार इसे वापस ले मंहगाई को लेकर भी राहुल गांधी देश के लोगो की आवाज लगातार उठा रहें हैं , 30 सालों में सबसे ज्यादा मंहगाई दर 15.08 को पार कर गई खुदरा मंहगाई भी 8 साल में सबसे ज्यादा बढ़कर 7.8 प्रतिशत हो गईं हैदुनिया के विभिन्न सूचकांकों में भारत की पिछड़ती रैंकिंग को लेकर राहुल गांधी खासे चिंतित हैं , ग्लोबल हंगर इंडेक्स में 2014 में जहां हम 55 वें स्थान पर थे 2021 आते – आते नीचे खिसककर 101वें स्थान पर पहुंच गएइसी तरह प्रेस की स्वतंत्रता में 140 वें स्थान से नीचे खिसककर 150 वें स्थान पर चले गए, रूल ऑफ लॉ के इंडेक्स में वैश्विक सूचकांक में 35 स्थान से नीचे खिसककर 79 वें स्थान पर पहुंच गएउपरोक्त सभी चिंताओं पर राहुल गांधी ने समय – समय पर भाजपा केन्द्र सरकार पर सवाल उठाया लेकिन भाजपा सरकार जनता की आवाज दब जाए इसलिए एडी के सहारे उस जनहित की आवाज को चुप बंद कराना चाहती है उसके लिए तरह-तरह के कुत्सित प्रयास अपने सरकारी तोते ई. डी. ,IT, CBI के माध्यम से कर रही है। सरकार के असंवेदनशील रवैए ने जनता को निराश किया है इसीलिए राहुल गांधी ने एक जिम्मेदार विपक्ष के नेता के आदर्श मूल्य का उदाहरण देते हुए अपना जन्मदिन न मनाने की अपील की है।