परिवहन निगम की वेबसाइट हैक

125
परिवहन निगम की वेबसाइट हैक
परिवहन निगम की वेबसाइट हैक

परिवहन निगम की बस टिकटिंग परियोजना के डाटाबेस को अज्ञात हैकर्स द्वारा इनक्रिप्ट किये जाने पर प्रथम सूचना रिपोर्ट साइबर थाना गोमती नगर, लखनऊ में दर्ज। 3-4 दिवसों में इलेक्ट्रानिक टिकटिंग प्रणाली पूर्व की भांति पुनः संचालित होगी। मै० ओरियन प्रो० को टिकटिंग परियोजना के अन्तर्गत अभी तक निगम की ओर से कोई भुगतान नहीं हुआ है। 05 जनवरी 2023 की गो-लाइव तिथि अनुसार अनुमन्य भुगतानों को रोकें जाने का लिया गया निर्णय। परिवहन निगम की वेबसाइट हैक

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री दयाशंकर सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बस टिकटिंग परियोजना के डाटाबेस को अज्ञात हैकर्स द्वारा इनक्रिप्ट किये जाने के अन्तर्गत दिनांक 26 अप्रैल 2023 को, इसके लिए प्रथम सूचना रिपोर्ट साइबर थाना गोमती नगर, लखनऊ में दर्ज करायी गयी है।उन्होंने बताया कि अग्रेतर इलेक्ट्रानिक टिकटिंग प्रणाली को पुर्नस्थापित किये जाने की दिशा में नये सर्वर स्थापित कर टेस्टिंग कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण कर लिया गया है। पुनः इलेक्ट्रानिक टिकटिंग प्रणाली का थर्ड पार्टी कॉम्प्रेहेन्सिव सिक्योरिटी आडिट के सफलतापूर्वक परीक्षणोपरान्त आगामी 3-4 दिवसों में इलेक्ट्रानिक टिकटिंग प्रणाली पूर्व की भांति पुनः संचालित करा दी जायेगी।

IAS संजय कुमार MD UPSRTC को हटाया गया। UPSRTC की आन लाइन टिकट बुकिंग प्रणाली के हैक होने के बाद बड़ी कार्यवाही। UP एमडी परिवहन निगम संजय कुमार को वेटिंग में डाला गया।प्रमुख सचिव, IAS एन०वेंकटेश्वर लू०,लखनऊ को परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक का अतिरिक्त प्रभार दिया गया।


परिवहन मंत्री ने बताया कि विगत 02 दिवसों से समस्त बसों का संचालन मैनुवल टिकट के माध्यम से कराते हुए यात्रियों को बिना किसी व्यवधान के बसों की उपलब्धता सुनिश्चित करायी गयी है तथा क्षेत्रीय अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए राउण्ड दी क्लॉक मानीटरिंग किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि मैनुवल टिकटिंग व्यवस्था से प्रतिदिन के संचालन प्रतिफल एवं राजस्व संग्रह पूर्व की भांति ही प्राप्त हो रहे हैं।


परिवहन मंत्री ने बताया कि सेवा प्रदाता संस्था मै० ओरियन प्रो० को टिकटिंग परियोजना के अन्तर्गत अभी तक निगम की ओर से कोई भुगतान नहीं किया गया है तथा टिकटिंग प्रणाली में उत्पन्न हुए सिक्योरिटी ब्रीच की वजह से सेवा प्रदाता को दिनांक 05 जनवरी 2023 की गो-लाइव तिथि अनुसार अनुमन्य भुगतानों को रोकें जाने का निर्णय लिया गया है।श्री सिंह ने बताया कि सेवा प्रदाता के समस्त साफ्टवेयर अप्लीकेशन्स, वेब पोर्टल्स इत्यादि की साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट्स के माध्यम से सम्पूर्ण सिक्योरिटी टेस्टिंग का कार्य गतिशील है, जिसके पूर्ण होते ही निगम के समस्त क्षेत्रों में फिर से ऑनलाइन प्रणाली लागू करा दी जायेगी। परिवहन निगम की वेबसाइट हैक