युवाओं के सपने हुए साकार

53
युवाओं के सपने हुए साकार
युवाओं के सपने हुए साकार

—– मिशन रोजगार —–

युवाओं के सपने, योगीराज में हुए पूरे। मुख्यमंत्री ने करीब 1800 पदों के लिए वितरित किया नियुक्ति पत्र। योगीराज में पारदर्शिता से मिलने वाली नौकरियों से चमक रहा युवाओं का भविष्य। पारदर्शिता से मिली नौकरी, युवाओं ने कहा- निष्ठा से करेंगे कार्य, प्रतिष्ठा से भरा होगा कार्यकाल। युवाओं के सपने हुए साकार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार की देन है कि नौकरियां सिर्फ और सिर्फ पात्रता तथा पारदर्शिता के आधार पर ही मिल रही है। ऐसी धारणा के साथ मंगलमय भविष्य की कामना पूरी होने पर नवचयनित युवा मुख्यमंत्री के प्रति आभार जता रहे हैं। युवाओं का मानना है कि पारदर्शिता से नौकरी मिली है, लिहाजा अपने कार्य के प्रति उनका दायित्व भी बढ़ गया है। नवनियुक्त अभ्य़र्थियों ने कहा कि योगीराज में ईमानदारी की बदौलत हमारे सपने पूरे हुए हैं। अब हमारी जिम्मेदारी है कि हम भी निष्ठा से कार्य कर आमजन को सरकार की सुविधाओं का लाभ दिलाएं।

अभ्यर्थियों की अभिव्यक्ति

मुख्यमंत्री की महिला सशक्तिकरण की मुहिम बनी मेरी प्रेरणास्रोत- सामान्य परिवार से आती हूं। माता-पिता का संघर्ष और मुख्यमंत्री जी की महिला सशक्तिकरण की मुहिम मेरी प्रेरणा का स्रोत बनी। मेरा निरंतर प्रयास होगा कि मुख्यमंत्री जी की प्राथमिकताओं को ध्यान में रखते हुए कर्तव्य का निर्वहन निष्ठा, लगन व ईमानदारी से कर सकूं। — ऋचा सोनकर, सहायक अभियोजन अधिकारी

परिवार की पहली सदस्य हूं, जिसे सरकारी सेवा में जाने का अवसर मिला- पिता जी के देहांत के बाद मां के अथक परिश्रम के कारण यहां पहुंच सकी हूं। परिवार की पहली सदस्य हूं, जो सरकारी सेवा में जा रही हूं। इसके लिए सीएम का हृदय से आभार। उनकी जन हितकारी नीतियों के कारण निष्पक्षता व पारदर्शिता से परीक्षा का आयोजन हुआ। –डॉ. रेनू यादव, आयुर्वेद चिकित्साधिकारी

युवाओं के सपने हुए साकार

मुख्यमंत्री के कर्तव्य परायण व कर्मठ चरित्र का अनुसरण कर कर्तव्य का पालन करेंगे- जिस समयबद्ध व पारदर्शी तरीके से यह चयन प्रक्रिया संपन्न हुई है, वह केवल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अथक प्रयासों से हो पाया है। हम सभी दंत चिकित्सक आश्वासन देते हैं कि प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जी के कर्तव्य परायण व कर्मठ चरित्र का अनुसरण करते हुए कर्तव्यों का पालन पूरी क्षमता व निष्ठा से करेंगे। — डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव, दंत चिकित्सक

सपने में नहीं सोचा था कि मुख्यमंत्री जी के करकमलों से यह सौभाग्य प्राप्त होगा- वर्तमान सरकार द्वारा पूर्ण निष्पक्षता व पारदर्शिता के साथ चयन प्रक्रिया कराई गई है। मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि मुख्यमंत्री जी के कर कमलों से यह सौभाग्य प्राप्त होगा। आजीवन इसके लिए आपका तहेदिल से आभार प्रकट करता हूं। जिस निष्पक्षता से मेरा चयन हुआ है, उसी निष्पक्षता से जो दायित्व दिया जाएगा, उसका निर्वहन करूंगा। –शुभम वर्मा, अवर अभियंता जल संसाधन व सिंचाई विभाग

निष्पक्षता से युवाओं को मिला रोजगार– योगी सरकार में पूरी निष्पक्षता के साथ युवाओं को रोजगार मिला है। य़ह यूपी के लिए काफी कारगर है। यहां के युवा बिना भेदभाव सिर्फ पात्रता के आधार पर ही चयनित हो रहे हैं। अब हमारी जिम्मेदारी भी है कि बिना भेदभाव स्वस्थ समाज की परिकल्पना में सरकार के सारथी बनें। — डॉ. प्रतिभा रामचंदानी, आयुर्वेद चिकित्साधिकारी

पिता जी किसान हैं, पारदर्शिता ही सरकारी सेवा में चयन का आधार बना मैं ग्रामीण परिवार से आता हूं। मेरे पिता जी किसान हैं। सीएम योगी की कार्यशैली के कारण निष्पक्ष तरीके से भर्ती प्रक्रिया संपन्न हुई है। पारदर्शिता ही सरकारी सेवा में चयन का आधार बना है। —अभिषेक कुमार शुक्ला, अवर अभियंता आवास-विकास परिषद

युवाओं को मिला मेहनत का प्रतिफल– वर्तमान सरकार द्वारा निष्पक्ष भर्ती प्रक्रिया संपन्न कराई गई, इसलिए युवाओं को उनकी मेहनत का प्रतिफल मिला। सीएम योगी आदित्यनाथ का इसके लिए आभार जताता हूं। आश्वस्त करता हूं कि सरकार द्वारा दी गई सारी जिम्मेदारियों का कर्तव्यनिष्ठा से पालन करूंगा। — पंकज कुमार, समीक्षा अधिकारी (हिंदी)

सिर्फ काबिलियत ही नियुक्ति में चयन का पैमाना– यह परीक्षा बड़ी पारदर्शिता से हुई है। बिना किसी घूस, सिर्फ काबिलियत ही नियुक्ति में चयन का पैमाना बना। इसके लिए मैं माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी का धन्यवाद ज्ञापित करता हूं और आश्वस्त करता हूं कि सदा आमजन के हित में कार्य करता रहूंगा। –अर्चित सिंह चौहान, टीजीटू यूपीपीसीएल

आज की नौकरियां सिर्फ पारदर्शिता से ही हो रहीं– 2017 के पहले यूपी सरकार व लोकसेवा आयोग की भर्ती व चयन प्रक्रिया की तुलना में आज की नौकरियां पारदर्शी तरीके से हो रही हैं। इस पहल के लिए माननीय मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हैं। पारदर्शी ढंग से नौकरी पाने वाले युवा सर्वश्रेष्ठ कार्य करने के लिए भी तैयार हैं। –चेतांजल नारायण, समीक्षा अधिकारी (हिंदी)

जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करेंगे— यह भर्ती पूर्णतः निष्पक्ष तरीके से हुई है। इसके लिए मुख्यमंत्री का दिल से आभार जताती हूं। मेरी मां बहुत खुश हैं। वास्तव में पारदर्शिता से मिली नौकरी के कारण हम सबकी जिम्मेदारी समाज के प्रति बढ़ गई है और हम इस जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करेंगे। –-छाया मिश्रा, अवर अभियंता युवाओं के सपने हुए साकार