युगो के बाद भगवान श्री राम के भव्य मंदिर बनाने का शुभ मुर्हूत


अयोध्या, कारसेवक पुरम् अयोध्या में मुख्यमंत्री का संबोधन युगो के बाद भगवान श्री राम के भव्य मंदिर बनाने का शुभ मुर्हूत 05 अगस्त को भूमि पूजन के साथ प्रारम्भ होने वाला है इसी के साथ 500 साल के लम्बे इंतिजार के बाद राम भक्तो की इच्छा पूर्ण होने जा रही है ये एक ऐसा महान धर्म कार्य है जिससे सभी का मन प्रसन्न होगा। उन्होंने कहा कि लम्बे इंतिजार के बाद वो शुभ मुहूर्त आ गया हे जिसका भारत के सवा सौ करोड़ देशवासियो को बेसब्री से इंतिजार था। मुख्य कार्यक्रम 05 अगस्त को होना है जिसे हम सभी को मिलकर विश्व का सबसे भव्य कार्यक्रम बनाना होगा। विश्व जिस रूप में अयोध्या को देखना चाहती है हम सभी को मिलकर उससे से भी भव्य रूप अयोध्या का बनाना है इसके लिए स्वच्छता सर्वोपरि है।

मुख्यमंत्री ने कहा स्वच्छता का विशेष अभियान हम सभी को कल से ही प्रारम्भ कर दे ताकि 03 अगस्त तक सभी कार्य पूरे हो सके। राम मंदिर आन्दोलन में लाखो लोगो ने बलिदान दिया है लेकिन इसे देखने का सौभाग्य हमें प्राप्त हो रहा है हमारे लिए इससे बड़ी बात क्या हो सकती है। उन्होंने कहा कि दीपावली बिना अयोध्या के कल्पना नही हो सकती इसलिए सभी से अह्वान किया कि अपने-अपने घारो में ओर सन्त महात्मा अपने मंदिरो में दीपत्सव मनाये एवं 04-05 अगस्त हर घरो में भी दीप जलाये। सभी तैयारियो के दौरान कोरोना के गाइड लाइन का भी पालन करना होगा ये भव्य कार्यक्रम देश ही नही बल्कि पूरी दुनिया की निगाह अयोध्या की तरफ होगी। 05 अगस्त का कार्यक्रम अयोध्या को उसके नाम के अनुरूप गौरव प्रदान करेगा।