साहसिक कार्य पर अखिलेश यादव ने किया सम्मानित

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कन्नौज में तथा मऊ में डूबने से बच्ची को बचाने के साहसिक कार्य पर कृष्णा उर्फ गिरीश सक्सेना एवं राम शरीख यादव को 21-21 हजार रूपए भेंट किए हैं। कन्नौज के मोचीपुर गांव में एक तालाब में 7 वर्ष की रागिनी पुत्री स्वामी दयाल नहाते वक्त डूबने लगी तो उसी गांव के कृष्णा सक्सेना उर्फ गिरीश सक्सेना नायक बच्चे ने डूबने से बचा लिया। अखिलेश यादव ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के पास ठठिया मंडी में कृष्णा उर्फ गिरीश सक्सेना को बुलाकर उसे 21 हजार रूपए दिए तथा उसकी प्रशंसा की। इस मौके पर कन्नौज की पूर्व सांसद श्रीमती डिम्पल यादव एवं विधायक श्री अनिल दोहरे भी मौजूद थे।

     जिला प्रशासन की घोर लापरवाही की वजह से जनपद मऊ के मधुबन विधानसभा क्षेत्र के धर्मपुर लीलाहवा में बाढ़ की विभीषिका में एक बेटी की जिन्दगी समाप्त हो गई। गांव के ही श्याम प्यारे चैहान की 16 वर्षीय बेटी दवा लेने के लिए गांव से बाहर जा रही थी, तभी पानी के तेज बहाव में वह डूब गई। ग्रामीणों के अथक प्रयास से बेटी का मृत शरीर पानी से बाहर निकाला गया। साथ में उसकी सहेली भी थी जो पानी में डूबती दिखाई दे रही थी तभी मौके पर पहुंचे राम शरीख यादव पानी में कूद कर एक बेटी की जान बचाने में कामयाब हो गए।

     स्मरणीय है, अखिलेश यादव बेटियों को सम्मान देने के मामले में हमेशा अग्रणी रहे हैं। सार्वजनिक रूप से साहसिक तथा उत्कृष्ट कार्य करने पर प्रशंसा और नकद धनराशि देने में वे उदार रहे हैं। उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में रानी लक्ष्मी बाई अवार्ड भी शुरू किया गया था।